Asianet News HindiAsianet News Hindi

TMC सांसदों का धरना कल, Tripura पुलिस बर्बरता के खिलाफ शाह से मिलने का समय मांगा

रविवार को TMC कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि त्रिपुरा के अगरतला के एक पुलिस स्टेशन में सत्तारूढ़ भाजपा के कार्यकर्ताओं ने पार्टी कार्यकर्ताओं को पीटा। थाने में Agartala Police के सामने लाठियों से पीटा गया।

TMC to give dharna against Tripura issue, Trinmool Congress MP's supposed to meet Union Home Minister Amit Shah, Saayoni Ghosh arrest updates DVG
Author
New Delhi, First Published Nov 21, 2021, 8:40 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। त्रिपुरा में राजनीतिक पारा चढ़ता जा रहा है। त्रिपुरा में टीएमसी कार्यकर्ताओं पर पुलिसिया बर्बरता का आरोप लगाते हुए पार्टी के 15 से अधिक सांसद सोमवार को दिल्ली में धरना देंगे। सांसदों का प्रतिनिधिमंडल रविवार की देर रात तक दिल्ली पहुंच जाएगा इसके बाद गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात करेगा।

टीएमसी कार्यकर्ताओं ने लगाया थाने में पिटाई का आरोप

रविवार को टीएमसी कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि त्रिपुरा के अगरतला के एक पुलिस स्टेशन में सत्तारूढ़ भाजपा के कार्यकर्ताओं ने पार्टी कार्यकर्ताओं को पीटा। थाने में त्रिपुरा पुलिस (Agartala Police)  के सामने लाठियों से पीटा गया।

टीएमसी के मुताबिक, त्रिपुरा पुलिस उस होटल में पहुंची, जहां पार्टी नेता (TMC Youth wing President) सायोनी घोष (Saayoni Ghosh) ठहरी थीं और उन्हें पूछताछ के लिए थाने बुलाया। उन्होंने कथित तौर पर यह नहीं बताया कि पूछताछ किस मामले के बारे में थी। इसके बाद सायोनी घोष और कुणाल घोष समेत टीएमसी के कुछ अन्य नेता अगरतला थाने पहुंचे। टीएमसी ने आरोप लगाया है कि कुछ मिनट बाद जब सायोनी घोष पूछताछ के लिए गई तो करीब 25 भाजपा कार्यकर्ता हेलमेट और लाठियां लिए हुए पहुंचे और थाने के अंदर टीएमसी कार्यकर्ताओं पर हमला करने लगे। उन्होंने बताया कि घटना में तृणमूल कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ता घायल हो गए।

टीएमसी नेता कुणाल घोष ने कहा कि त्रिपुरा में 'जंगल राज' है। उन्होंने कहा, "हमें पुलिस के सामने पीटा गया लेकिन उन्होंने कुछ नहीं कहा। इसके विपरीत, हम पर ही मामला दर्ज किया जा रहा है और परेशान किया जा रहा है।"

सयानी घोष पर बीजेपी कार्यकर्ताओं को कुचलने का आरोप

उधर, बीजेपी ने अपने कार्यकर्ताओं को कुचलने का आरोप टीएससी यूथ विंग की अध्यक्ष सायोनी घोष पर लगाया है। सयानी घोष पर एफआईआर दर्ज कर अगरतला पुलिस (Agartala Police) ने अरेस्ट भी कर लिया है। 

दरअसल, सयोनी घोष अगरतला में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के लिए नगर निकाय चुनावों के लिए प्रचार कर रही थीं। आरोप है कि वह बीजेपी की मीटिंग से गुजर रही थीं, उस दौरान विरोधी पार्टी के कार्यकर्ताओं को कुचलने की कोशिश कीं। कथित तौर पर अभद्र भाषा का भी इस्तेमाल किया और पथराव किया, जिससे अराजकता फैल गई जिससे भाजपा कार्यकर्ता घायल हो गए।

एक वीडियो में खेला होबे कहते दिख रहीं सयोनी

सयोनी घोष का एक वीडियो वायरल हो रहा है। घोष का एक कथित वीडियो ट्वीट किया गया है, जिसमें वह बैठक से गुजरते हुए अपने वाहन से खेला होबे (खेल अभी शुरू हुआ) चिल्ला रही हैं।

इन धाराओं में दर्ज की गई है प्राथमिकी

पश्चिम त्रिपुरा के अतिरिक्त एसपी (शहरी) बीजे रेड्डी (BJ Reddy) ने बताया कि सयोनी पर आईपीसी की धारा 307, 153 के तहत मामला दर्ज किया है। एफआईआर के अनुसार, घोष पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 153 (दंगा भड़काने का इरादा), 153-ए (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 506 (आपराधिक धमकी), 307 (हत्या का प्रयास) और 120-बी (आपराधिक साजिश) के तहत आरोप लगाया गया था। 

यह भी पढ़ें:

Farm Laws: सिंघु बार्डर पर निर्णय-पीएम मोदी को लिखेंगे खुला पत्र, पूछा टेनी को क्यों नहीं किया जा रहा बर्खास्त

Governor Bgdr. BD Mishra बोले: 1962 का उलटफेर कमजोर नेतृत्व की देन, अब हमारे पास दुनिया की शक्तिशाली सेना

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios