Asianet News HindiAsianet News Hindi

महाराष्ट्र के 19वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे उद्धव ठाकरे, जानें उनके बारे में 10 बड़ी बातें

 शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे गुरुवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। वे महाराष्ट्र के 19वें मुख्यमंत्री होंगे। महाराष्ट्र में एक महीने चले सियासी ड्रामे के बाद उद्धव ठाकरे को शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन का नेता चुना गया है। 

Uddhav Thackeray to take oath as 19th CM of Maharashtra, know 10 facts about him
Author
Mumbai, First Published Nov 28, 2019, 1:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे गुरुवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। वे महाराष्ट्र के 19वें मुख्यमंत्री होंगे। महाराष्ट्र में एक महीने चले सियासी ड्रामे के बाद उद्धव ठाकरे को शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन का नेता चुना गया है। 

1966 में बाला साहेब ठाकरे ने शिवसेना की नींव रखी थी। 53 साल में उद्धव ठाकरे परिवार के पहले सदस्य हैं, जो मुख्यमंत्री बन रहे हैं। शिवसेना की बात करें तो वे तीसरे नेता हैं जो मुख्यमंत्री बनेंगे, उनसे पहले मनोहर जोशी और नारायण राणे इस पद पर रह चुके हैं।

उद्धव ठाकरे के बारे में 10 बड़ी बातें

1-उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के 19वें मुख्यमंत्री पद के तौर पर शपथ लेंगे। 
2- उद्धव सीएम बनने वाले ठाकरे परिवार के पहले सदस्य।
3- मनोहर जोशी और नारायण राणे के बाद तीसरे शिवसैनिक जो सीएम बनेंगे। 
4- उद्धव का जन्म 27 जुलाई 1960 को हुआ। उन्होंने जेजे कॉलेज ऑफ आर्ट्स से ग्रेजुएट किया है। उद्धव लेखक भी हैं।
5- वे एक प्रोफेशनल फोटोग्राफर हैं, कई प्रदर्शनी में उनकी तस्वीरें भी लग चुकी हैं। 
6- ठाकरे प्रमुख मराठी समाचार पत्र सामना के एडिटर इन चीफ भी हैं। इस समाचार पत्र को उनके पिता ने शुरू किया था। 
7- उद्धव को पार्टी की जिम्मेदारी सबसे पहले 2002 में मिली थी, उस वक्त मुंबई महानगरपालिका के चुनाव होने थे। शिवसेना ने उनके नेतृत्व में काफी अच्छा प्रदर्शन किया। 
8- 2003 में शिवसेना के कार्यकारी अध्यक्ष चुने गए। 2004 में बाल ठाकरे ने उनके अगले अध्यक्ष बनने का ऐलान किया।
9- 2014 में शिवसेना ने भाजपा से अलग विधानसभा चुनाव लड़ा, नतीजों के बाद दोनों पार्टियों ने मिलकर सरकार बनाई। 
10- 24 अक्टूबर को महाराष्ट्र नतीजों के बाद शिवसेना और भाजपा में तल्खी बढ़ी, 11 नवंबर को शिवसेना ने गठबंधन तोड़ने का ऐलान किया। 26 नवंबर को वे शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन के नेता चुने गए। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios