Asianet News Hindi

उत्तराखंड के सीएम तीरथ की फिर फिसली जुबान, बोले- अमेरिका ने भारत को 200 साल गुलाम बनाकर रखा

अभी फटी जींस को लेकर विवाद थमा नहीं था, कि उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की जुबान फिर फिसल गई। रावत ने रविवार को कहा कि अमेरिका ने भारत को 200 साल तक गुलाम बनाकर रखा। दरअसल, तीरथ कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ कर रहे थे। 

Uttarakhand CM Tirath Singh Rawat says America enslaved india for 200 years KPP
Author
Dehradun, First Published Mar 21, 2021, 8:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

देहरादून. अभी फटी जींस को लेकर विवाद थमा नहीं था, कि उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की जुबान फिर फिसल गई। रावत ने रविवार को कहा कि अमेरिका ने भारत को 200 साल तक गुलाम बनाकर रखा। दरअसल, तीरथ कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ कर रहे थे। 

कोरोना को लेकर बोलते हुए सीएम तीरथ ने रविवार को कहा, ''पीएम मोदी ने अलख जगाई। मैं कह सकता हूं कि अगर उनकी जगह और कोई होता तो भारत का ना जाने क्या हाल होता। हम बेहाल हो जाते। उन्होंने हमें राहत दी। 130-35 करोड़ की आबादी का देश भारत आज राहत महसूस करता है। अन्य देशों की अपेक्षा। जहां अमेरिका के हम 200 साल गुलाम थे। पूरे विश्व पर उसका राज था। सूरज छुपता नहीं था, यह कहा जाता था। आज के समय वह डोल गया, बोल गया। पौने 3 लाख से ज्यादा मृत्यु दर चला गया। देश की हालत खस्ता है।'' दरअसल, तीरथ अमेरिका और ब्रिटेन में कंफ्यूज हो गए। 

इससे पहले पीएम की राम से की थी तुलना
इससे पहले तीरथ सिंह रावत ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए उनकी तुलना भगवान राम से कर दी थी। उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी समाज के लिए काम करते हैं, इसलिए लोग उन्हें भी एक दिन भगवान राम की तरह मानने लगेंगे। तीरथ हरिद्वार में नेत्र कुंभ का उद्घाटन करने पहुंचे थे। यहां उन्होंने कहा कि आने वाले समय में लोग पीएम मोदी को राम की तरह मानने लगेंगे।
 
फटी जीन्स को लेकर हुई थी आलोचना
सीएम रावत ने हाल ही में एक संस्मरण का जिक्र करते हुए कहा था कि वह जयपुर से दिल्ली की फ्लाइट पर बैठे हुए थे। उनके बगल में एक महिला बैठी हुई थी। महिला एक एनजीओ चलाती थी, जबकि उसके पति एक कालेज में प्रोफेसर थे। उस महिला ने पांव में गमबूट और घुटनों में फटी जींस पहनी हुई थी। महिला के साथ उसके दो बच्चे भी थे। वो एनजीओ चलाती हैं, घुटने फटे दिख रहे हैं, समाज के बीच में जाती हैं, बच्चे साथ में है। क्या संस्कार दे रही हैं। इसके बाद पूरे देशभर में उनकी आलोचना हुई। उन्होंने विवाद बढ़ने पर माफी भी मांगी। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios