Asianet News Hindi

वॉट्सऐप-फेसबुक 50-55 मिनट बंद रहा तो लोग चिंता में पड़ गए, बंगाल में तो 50-55 साल से विकास डाउन है: Modi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने  आज पश्चिम बंगाल में खड़गपुर में बीएनबी ग्राउंड में चुनावी सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने ममता सरकार पर जमकर निशाना साधा और विकास कार्यों पर सवाल खड़ा किया। इसके साथ ही लोगों को उनके सपने को सच करने का आश्वासन भी दिया। इसके बाद मोदी असम में डिबरूगढ़ जिले के चबुआ में दोपहर 3 बजे रैली को भी संबोधित करेंगे। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी आज पूर्वी मिदनापुर में तीन रैलियां करेंगी। 

West Bengal Election 2021 PM Modi Will Address Rally in bengal kharagpur updates KPY
Author
Kolkata, First Published Mar 20, 2021, 8:31 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकाता. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज पश्चिम बंगाल में खड़गपुर में बीएनबी ग्राउंड में चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंच गए हैं। यहां पहुंचकर पीएम मोदी ने कहा कि 'पश्चिम बंगाल में इस बार बीजेपी सरकार। क्योंकि बंगाल में उज्ज्वल भविष्य लाना है। इसलिए बंगाल में बीजेपी सरकार कह रहा हूं।' इसके साथ ही पीएम मोदी ने ममता सरकार पर निशाना साधा और कहा, 'दीदी ने 10 साल में लोगों के सपनों को चूर-चूर कर दिया और राज्य को बर्बाद कर दिया।' इसके बाद मोदी असम में डिबरूगढ़ जिले के चबुआ में दोपहर 3 बजे रैली को भी संबोधित करेंगे। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी आज पूर्वी मिदनापुर में तीन रैलियां करेंगी। ममता दोपहर 12.30 बजे खेजुरी, दोपहर 2 बजे हल्दिया और दोपहर 3.30 बजे पाशकुरा में सभाा संबोधित करेंगी। 

पीएम मोदी की बड़ी बातें 

बंगाल में इस बार बीजेपी सरकार- पीएम

पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल पहुंचकर हुंकार भरा और कहा, 'ये मेरा सौभाग्य है कि आज इतनी बड़ी संख्या में आप सभी भाजपा को आशीर्वाद देने आए हैं। आपका ये उत्साह साफ-साफ कह रहा है- बंगाल में इस बार भाजपा सरकार...' इतना ही नहीं उन्होंने लोगों को बताया कि बंगाल में क्यों बीजेपी सरकार की जरूरत है।उन्होंने कहा, 'बंगाल में उज्ज्वल भविष्य लाना है। इसलिए बंगाल में बीजेपी सरकार कह रहा हूं।'

खड़गपुर के इस क्षेत्र में मिनी भारत की झलक मिलती है - पीएम

इसके साथ ही पीएम ने खड़गपुर की खूबी को गिनाते हुए कहा, 'खड़गपुर के इस क्षेत्र में मिनी भारत की झलक मिलती है। भारत की विविधता, अलग-अलग भाषाओं-बोलियों की ताकत यहां देखने को मिलती है। खड़गपुर का इतना लंबा रेलवे प्लेटफॉर्म, भारत की पहली IIT, इस भूमि का गौरव बढ़ाते हैं।' पीएम मोदी आगे कहते हैं, 'मुझे गर्व है कि मेरी पार्टी के पास दिलीप घोष जैसे अध्यक्ष हैं। उन पर अनेक हमले हुए, मौत के घाट उतारने की कोशिशें हुई। लेकिन वो बंगाल के उज्ज्वल भविष्य का प्रण लेकर चल पड़े और आज पूरे बंगाल में नई ऊर्जा भर रहे हैं।'

'TMC ने लोगों के सपने को किया चूर-चूर'

मोदी ने जनसभा में ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, 'बंगाल ने कांग्रेस के कारनामे देखे हैं, वामदल की बर्बादी को अनुभव किया है और TMC ने आपके सपनों को कैसे चूर-चूर किया, पिछले 70 साल में यही देखा है। हमें 5 साल का मौका दीजिए, 70 साल की बर्बादी को मिटाकर रहेंगे।'

पीएम ने बीजेपी को बताया बंगाल की पार्टी

इसके आगे पीएम ने बीजेपी को बंगाल की पार्टी बताया और कहा, 'जनसंघ के जनक इसी बंगाल के सपूत थे, इसलिए अगर यहां सही अर्थ में कोई बंगाल की पार्टी है तो वो है बीजेपी। बीजेपी के डीएनए में आशुतोष मुखर्जी और डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी का आचार, विचार, व्यवहार और संस्कार है।' पीएम ने कहा, 'जहां-जहां राज्यों में भाजपा सरकारें हैं, वहां केंद्र और बीजेपी की राज्य सरकार मिलकर डबल इंजन की ताकत के साथ जनता-जनार्दन की सेवा में लगे हुए हैं। हम सबका साथ-सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र के साथ काम कर रहे हैं।'

दीदी ने लोगों के साथ विश्वासघात किया- मोदी

पीएम ने ममता सरकार पर निशाना साधा और कहा, 'यहां पश्चिम बंगाल में दीदी, विकास की हर योजना के सामने दीवार बनकर खड़ी हो गई हैं। आपने दीदी पर भरोसा किया, लेकिन दीदी ने आपको दुर्गति दी, आपके साथ विश्वासघात किया।' आज दीदी, दस ‘ओन्गीकार’ की बात कर रही हैं। अरे दीदी, बंगाल के लोगों ने आपको दस साल सेवा का अवसर दिया था। लेकिन आपने उन्हें लूट-मार से भरे दस साल दिए। आपने उन्हें 10 साल का भ्रष्टाचार दिया। आपने उन्हें 10 साल का कुशासन दिया।'

पीएम ने शिक्षा व्यवस्था पर उठाया सवाल

पीएम ने बंगाल की शिक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाया और कहा, 'आज पश्चिम बंगाल में शिक्षा की क्या स्थिति है, ये खड़गपुर के लोग बहुत अच्छी तरह जानते हैं। शिक्षक भर्ती के नाम पर यहां का युवा कोर्ट कचहरी के चक्कर लगाने के लिए मजबूर हैं।' मोदी ने आगे कहा, 'दीदी से पश्चिम बंगाल के लोग 10 साल का हिसाब मांग रहे हैं। अम्फान चक्रवात का हिसाब मांगो, तो दीदी गुस्सा! राशन चोरी का जवाब मांगो, तो जेल में डाल दिया जाता है! कोयला घोटाले पर जवाब मांगो, तो पुलिस से डंडे मरवाए जाते हैं। केंद्र सरकार की तरफ से बीते वर्षों में बंगाल के लिए 33 लाख पक्के घर स्वीकृत किए गए हैं। इनमें से लाखों घर अब भी पूरे नहीं हो पाए हैं। दीदी को लगता है कि इन सब योजनाओं का फायदा लोगों को होगा तो वो मोदी को आशीर्वाद देंगे।'

'गरीबों के पेट पर लात क्यों मारा?'

मोदी ने शहरों में रेहड़ी और ठेले वालों की चर्चा की और कहा, 'शहरों में रेहड़ी-ठेला चलाने वाला गरीब पूछ रहा है कि उनको पीएम स्वनिधि के तहत आर्थिक मदद सही से क्यों नहीं मिली? आज बंगाल की बहनें पूछ रही हैं कि हर घर जल पहुंचाने के लिए टीएमसी सरकार को जो पैसा दिया था, वो पैसा तिजोरी में रखकर क्यों बैठ गईं? अरे दीदी, आपको मोदी को क्रेडिट नहीं देना था, तो मत दीजिए। लेकिन आपने गरीब के पेट पर लात क्यों मारी? आपने रेहड़ी-पटरी वालों के पेट पर लात क्यों मारी? सुबर्णरेखा नदी और कंसवती नदी में अवैध खनन के तार कहां से जुड़े हैं ये यहां का बच्चा-बच्चा जानता है। बंगाल में बीजेपी सरकार आने के बाद, इन सभी पर सख्त कार्रवाई होगी, कानून का राज स्थापित किया जाएगा।'

पीएम ने बंगाल में रोजगारों को लेकर कहा, 'पिछले 10 साल में तृणमूल सरकार ने हर वो काम किया, जो यहां रोजगार और स्वरोजगार के अवसरों को रोकने वाला था। तृणमूल के वसूली गिरोहों, सिंडिकेट के कारण अनेक पुराने उद्योग बंद हो गए। यहां सिर्फ एक ही उद्योग चलने दिया गया है- माफिया उद्योग। मैं बंगाल के लोगों को आश्वस्त करता हूं, कि अब दीदी को लोकतंत्र को कुचलने नहीं दिया जाएगा। पुलिस और प्रशासन को भी याद रखना चाहिए कि संविधान और लोकतंत्र की मर्यादाओं से बड़ा कुछ नहीं होता है।'

राहुल गांधी आज करेंगे कांग्रेस का घोषणा पत्र

इसके साथ ही कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आज शाम 4 बजे गुवाहाटी में असम विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का घोषणा पत्र जारी करेंगे। राहुल असम के दो दिनों के दौरे पर हैं, जहां वो पहले चरण के अंतर्गत आने वाले मतदान के इलाकों यानी ऊपरी असम में पार्टी उम्मीदवारों के लिए वोट मांग रहे हैं।

असम में 'पांच गारंटी' इर्द-गिर्द कांग्रेस का चुनाव प्रचार  

असम में कांग्रेस का पूरा प्रचार 'पांच गारंटी' के इर्द-गिर्द चल रहा है। इसी के साथ ही आशा जताई जा रही है कि ये 'पांच गारंटी' पार्टी घोषणा पत्र में सबसे अहम होंगे। पहला है- नागरिकता संशोधन कानून यानी CAA को लागू ना करना, दूसरा- पांच सालों में पांच लाख सरकारी नौकरियां और निजी क्षेत्र में 25 लाख नौकरियों का सृजन, तीसरा- चाय बागानों के कर्मचारियों की दैनिक मजदूरी 365 रुपए देना, चौथा- 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली और पांचवा- सभी महिलाओं के लिए 2000 रुपए तक का गृहिणी सम्मान मानदेय पेंशन।

कांग्रेस को उम्मीद है कि 30 लाख नौकरी और गृहिणी सम्मान निधि का वादा गेमचेंजर साबित होगा। सरकारी नौकरी के लिए कांग्रेस ने वेबसाइट तक बना दिया है। कांग्रेस ऐलान कर रही है कि सरकार बनने पर पहली कैबिनेट में इन वादों पर मुख्यमंत्री हस्ताक्षर होंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios