Asianet News HindiAsianet News Hindi

गोल्ड मेडल चूकने पर एथलीट रोयी तो मोदी ने बढ़ाया हौसला, पाकिस्तानी पत्रकार बोला- काश हमारे PM भी ऐसे होते

कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games) में गोल्ड मेडल नहीं जीत पाने से हताश पूजा गहलोत प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रो पड़ी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर उनका हौसला बढ़ाया। सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री के इस पहल की खूब तारीफ हो रही है।
 

When the athlete cried after missing the gold medal Narendra Modi encouraged vva
Author
New Delhi, First Published Aug 7, 2022, 12:55 PM IST

नई दिल्ली। कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games) के फ्रीस्टाइल कुश्ती के 50kg वर्ग में कांस्य पदक जीतने के बाद भारत की पहलवान पूजा गहलोत (Pooja Gehlot) भावुक हो गईं। गोल्ड मेडल नहीं जीत पाने से हताश पूजा ने रोते हुए देश से माफी मांगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूजा का हौसला बढ़ाया है। उन्होंने ट्वीट किया, "पूजा, आपका पदक जश्न मनाने के लिए कहता है, माफी के लिए नहीं। आपकी जीवन यात्रा हमें प्रेरित करती है। आपकी सफलता हमें प्रसन्न करती है। आपकी किस्मत में आगे और भी महान चीजें हैं। आप यूं ही हमेशा चमकती रहें।"

 

 

सोशल मीडिया पर हो रही नरेंद्र मोदी की तारीफ

एथलीट का हौसला बढ़ाने वाले नरेंद्र मोदी के इस ट्वीट ने सोशल मीडिया पर लोगों का दिल जीत लिया। लोग प्रधानमंत्री की तारीफ कर रहे हैं। शिराज हसन नाम के एक पाकिस्तानी पत्रकार ने तो यहां तक कहा कि काश हमारे पीएम भी ऐसे होते।

पाकिस्तान के पंजाब में रहने वाले शिराज हसन ने ट्वीट किया, "इस तरह भारत अपने एथलीटों को प्रोजेक्ट करता है। पूजा गहलोत ने कांस्य जीता। स्वर्ण पदक नहीं जीत पाने पर उसने दुख व्यक्त किया। पीएम मोदी ने उन्हें जवाब दिया। कभी पाकिस्तान के पीएम या राष्ट्रपति का ऐसा संदेश देखा है? क्या उन्हें यह भी पता है कि पाकिस्तानी एथलीट पदक जीत रहे हैं? 

 

 

डलास क्रिकेट नाम के एक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया, "हो सकता है उनकी राजनीति से सहमत न हों, लेकिन एक खिलाड़ी के लिए देश के मुखिया द्वारा ऐसी बात किया जाना अविश्वसनीय है।"

 

 

प्रथमा नाम की एक यूजर ने ट्वीट किया, "आप उनसे प्यार करते हैं या नफरत, लेकिन वह जो बोल रहे हैं वह सबसे अच्छी और सबसे प्यारी चीज है जिसे कोई भी एथलीट सुनना चाहेगा। खुद एक एथलीट होने के नाते मुझे पता है कि कैसा लगता है जब इतनी मेहनत के बाद भी खुद को शीर्ष स्थान से कम पर संतुष्ट करना पड़ता है।"

 

 

देहाती वत्स नाम के यूजर ने लिखा, " इसे कहते हैं लीडर। जिस दिन विपक्षी पार्टी का एक भी नेता नरेंद्र मोदी का 10% भी हो गया उस दिन से मैं उसे वोट देने के लिए विचार करूंगा। पूजा गहलोत कृपया दुखी न हों। आप हमारे लिए विजेता हैं।"

 

 

सिम्मी छाबड़ा नाम की यूजर ने ट्वीट किया, "यह बहुत अच्छा है कि देश का सर्वोच्च अधिकारी उसकी पीठ थपथपा रहा है। वह (पूजा) अद्भुत हैं और हम सभी के प्यार की हकदार हैं।"

 

 

 

आशीष मिश्रा ने ट्वीट किया, "इस तरह का छोटा सा इशारा किसी भी एथलीट का मनोबल बढ़ाने में बहुत मदद करता है।  खेल में रुचि लेने और एथलीटों से बात करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी का धन्यवाद।"

 

 

 

डॉ. विनीता ने ट्वीट किया, "आप सही मायने में जनता के पीएम हैं। पहले कभी किसी पीएम ने अपने लोगों का सम्मान और प्रोत्साहन नहीं किया जैसा आप करते हैं।"

 

 

तरंगिनी दास ने ट्वीट किया, "यही बात पीएम मोदी को हमारे अन्य सभी प्रधानमंत्रियों से अलग बनाती है। वह हमारे खिलाड़ियों के साथ खड़े हैं। ऐसा किसी ने कभी नहीं किया। हमें पूजा गहलोत पर गर्व है। ऐसे कठिन खेलों में भाग लेना भी एक उपलब्धि है। आपने कांस्य पदक जीता है। यह बड़ी सफलता है।"

 

 

सोना नाम की यूजर ने ट्वीट किया, "मेरे पीएम हमेशा एक जिम्मेदार पिता की तरह व्यवहार करते हैं, जो जानते हैं कि अपने बच्चे को कैसे प्रेरित किया जाए। लव यू पीएम नरेंद्र मोदी। आप वास्तव में हमारे राष्ट्रपिता हैं।"

 

 

गौतमन नाम के एक यूजर ने ट्वीट किया कि नरेंद्र मोदी का यह दृष्टिकोण और खेल बिरादरी के लिए प्रोत्साहन, खेलों के विकास में बहुत मदद करेगा। आने वाले दिनों में कई और खेल सितारे बनेंगे और देश को गौरवान्वित करेंगे।" 

 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios