Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्लास्टिक के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा स्वच्छता अभियान, 1 महीने में 75 लाख टन कचरा होगा इकट्ठा

अनुराग ठाकुर ने कहा कि यह दुनिया का सबसे बड़ा स्वच्छता अभियान होगा, जिसमें देश के विभिन्न हिस्सों से 75 लाख टन से अधिक कचरा, मुख्य रूप से प्लास्टिक कचरा, इकट्ठा किया जाएगा और इसे 'वेस्ट टू वेल्थ' मॉडल के आधार पर आगे प्रसंस्कृत किया जाएगा।

World largest cleanliness campaign against plastic to be held in India in October
Author
New Delhi, First Published Sep 26, 2021, 6:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. सरकार मुख्य रूप से एक बार उपयोग होने वाले प्लास्टिक कचरे को समाप्त करने के लिए 1 से 31 अक्टूबर, 2021 तक, एक महीने चलने वाले देशव्यापी स्वच्छ भारत अभियान का शुभारम्भ करेगी। युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने एक ट्वीट संदेश में इसकी घोषणा करते हुए कहा कि जब हम भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्ष मनाने के लिए आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं, तो प्लास्टिक मुक्त भारत बनाने का हमारा संकल्प है जो गांधी जी के सपनों का भारत है।

 

 

हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दृष्टिकोण पर आधारित है जिसमें स्वच्छता सर्वोच्च प्राथमिकता है। मंत्री ने सभी से इस अभियान में उत्साहपूर्वक शामिल होने और संकल्प से सिद्धि के लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करने का आग्रह किया है। मंत्री ने ट्वीट में कहा, स्वच्छता सर्वोच्च है। आज़ादी का अमृत महोत्सव में आपसी सहयोग से देश को प्लास्टिक कूड़े से आजादी दिलाने के लिए संकल्प से सिद्धि मूल मंत्र द्वारा 1 से 31 अक्टूबर तक चलने वाले स्वच्छ भारत अभियान कार्यक्रम से जुड़ें।

इसे भी पढ़ें- 6 दशकों से विकास नहीं हुआ जिससे नक्सलियों में असंतोष, हथियार उठाने वालों को उन्हीं के अंदाज में मिलेगा जवाब

अनुराग ठाकुर ने कहा कि यह दुनिया का सबसे बड़ा स्वच्छता अभियान होगा, जिसमें देश के विभिन्न हिस्सों से 75 लाख टन से अधिक कचरा, मुख्य रूप से प्लास्टिक कचरा, इकट्ठा किया जाएगा और इसे 'वेस्ट टू वेल्थ' मॉडल के आधार पर आगे प्रसंस्कृत किया जाएगा। इस अभियान का उद्देश्य "स्वच्छ भारत: सुरक्षित भारत" के मंत्र का प्रचार करना है। अभियान में भाग लेने के लिए व्यक्ति, संगठन, हितधारक पंजीकरण करा सकते हैं। 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios