Asianet News Hindi

हाथरस: पीड़िता के परिवार से योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बात की, जांच के लिए SIT गठित

हाथरस में 19 साल की लड़की से कथित गैंगरेप के बाद पूरे देश में आक्रोश है। इस बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मृतक लड़की के परिवार के लोगों से बात की। केस के जांच के लिए योगी आदित्यनाथ ने तीन सदस्यीय विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया। एसआईटी को सात दिन में रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में किए जाने के निर्देश दिए।

Yogi Adityanath talk to the victim family through a video conference Hathras case kpn
Author
Lucknow, First Published Sep 30, 2020, 6:33 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली/लखनऊ. हाथरस में 19 साल की लड़की से कथित गैंगरेप के बाद पूरे देश में आक्रोश है। इस बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मृतक लड़की के परिवार के लोगों से बात की। केस के जांच के लिए योगी आदित्यनाथ ने तीन सदस्यीय विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया। एसआईटी को सात दिन में रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए गए हैं। साथ ही मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में किए जाने के निर्देश दिए।

पीएम मोदी ने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए
हाथरस में दलित लड़की के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म और मौत के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की और दोषियों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री कार्यालय ने यह जानकारी दी

रात 2 बजे मृतक लड़की का अंतिम संस्कार
हाथरस के पुलिस अधीक्षक विक्रांत सिह ने बताया कि लड़की का अंतिम संस्कार बीती रात दो बजे परिजनों की सहमति से पुलिस बल की मौजूदगी में किया गया ।

हालांकि लड़की के परिजनों का आरोप है कि अंतिम संस्कार के लिये उनकी सहमति नही ली गयी । लड़की के भाई ने कहा कि पुलिस जबदरदस्ती शव को ले गयी। इस बीच, रात में लड़की के अंतिम संस्कार किये जाने पर विपक्षी नेताओं ने सवाल उठाया है । नेताओं का कहना है कि पुलिस का ऐसा करना संदेह के घेरे में है ।

14 सितंबर को 19 साल की लड़की के साथ कथित गैंगरेप
गौरतलब है कि गत 14 सितंबर को प्रदेश के हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र स्थित एक गांव में 19 साल की एक दलित लड़की के साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म की वारदात हुई थी। पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस अधीक्षक विक्रांतवीर के मुताबिक लड़की ने अपने साथ बलात्कार की वारदात के बारे में पुलिस को पहले कुछ नहीं बताया था मगर बाद में मजिस्ट्रेट को दिए गए बयान में उसने आरोप लगाया कि संदीप, रामू, लव कुश और रवि नामक युवकों ने उसे अपनी हवस का शिकार बनाया था। विरोध करने पर जान से मारने की कोशिश करते हुए उसका गला दबाया था। चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios