Asianet News Hindi

मासूम बच्चियों से इतनी हैवानियत करने वाली कोई 'मां' नहीं हो सकती, शरीर में इतने छेद थे कि डॉक्टर भी कांप उठे

 एक बच्ची गुजरात में लहूलुहान मिली..दूसरी मध्य प्रदेश की थी,जो जिंदगी की जंग हार गई थी। आइए जानते हैं क्या हुआ था इन दोनों घटनाओं में...

A shocking story related to  2 newborn injured girl kpa
Author
Rajkot, First Published Feb 27, 2020, 5:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

राजकोट/इंदौर. ये दोनों घटनाएं पत्थर दिल इंसान की भी रूह कंपा दें। लेकिन दुनिया में कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जिनका अंदर दिल जैसी कोई चीज नहीं होती। इन दोनों बच्चियों की मां भी यही हैं। एक बच्ची(बीच) गुजरात में लहूलुहान मिली..दूसरी मध्य प्रदेश की थी,जो जिंदगी की जंग हार गई थी। आइए जानते हैं क्या हुआ था इन दोनों घटनाओं में...

2 दिन की बच्ची को कुत्ता मुंह में दबाकर ले रहा था..
यह मामला गुजरात के राजकोट जिले के ठबचडा गांव का है। बुधवार की सुबह करीब 11 बजे मैदान में क्रिकेट खेल रहे युवकों की नजर एक कुत्ते पर पड़ी। वो एक बच्ची को मुंह में दबाकर ले जा रहा था। युवकों ने तुरंत पत्थरबाजी करके बच्ची को कुत्ते के मुंह से छुड़वाया। इसके बाद डायल 108 को कॉल किया गया। बच्ची को टी चिल्ड्रन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। बताते हैं कि मां ने बच्ची के जन्म देने के दूसरे दिन ही कचने में फेंक दिया था। बच्ची की पीठ पर किसी नुकीली चीज से करीब 20 वार किए गए थे। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

तीसरी बेटी होने पर हैवान बन गई मां..
दिल दहलाने वाली यह घटना पिछले दिनों मध्य प्रदेश के शाजापुर जिले में हुई थी। मां ने अपनी फूल-सी बच्ची पर हंसिये से एक नहीं, 6 वार किए थे। उसकी गर्दन, छाती और पेट पर घाव किए गए थे। पेट में इतना गहरा घाव था कि आंत तक फट गई थी। बच्ची के मां-बाप शाजापुर जिले के रहने वाले हैं। उन्होंने ही घटना को झूठी कहानी देते हुए बच्ची को शाजापुर के जिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। वहीं से उसे इंदौर के एमवाय हॉस्पिटल रेफर किया गया था। यह मासूम इतने गहरे जख्म नहीं सह सकी और उसने दम तोड़ दिया था। बच्ची को एमवाय हॉस्पिटल में ऑपरेशन के बाद पीडियाट्रिक आईसीयू में वेंटीलेटर पर रखा गया था। डॉक्टर भी मासूम की हालत देखकर भावुक हो उठे थे। उन्होंने बच्ची को बचाने कोई कसर नहीं छोड़ी, पर उसे बचा नहीं सके। बच्ची का जन्म 11 फरवरी को हुआ था। बच्ची पर अगले दिन हमला किया गया। बताते हैं कि शाजापुर हॉस्पिटल से डिलीवरी के बाद घर पहुंचते ही मां ने बच्ची पर हमला कर दिया था। बेटे की चाहत में मां बेटी की हत्यारी बन गई थी।


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios