Asianet News Hindi

माता-पिता ने खरीदा बेटे का बर्थडे गिफ्ट और छोड़ गए दुनिया, जन्मदिन पर ही अनाथ हो गए 2 मासूम बच्चे

गुजरात केअहमदाबाद शहर में दो दिन पहले यानि बुधवार को केमिकल फैक्ट्री में विस्फोट होने के बाद एक कपड़े की गोदाम में आग लगने से 12 लोगों की मौत हो गई थी। लेकिन इस हादसे ने कई परिवारों का उनसे साहारा छीन लिया।

ahmedabad cloth godown accident 12 killed and after emotional story family kpr
Author
Ahmedabad, First Published Nov 6, 2020, 7:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अहमदाबाद. गुजरात केअहमदाबाद शहर में दो दिन पहले यानि बुधवार को केमिकल फैक्ट्री में विस्फोट होने के बाद एक कपड़े की गोदाम में आग लगने से 12 लोगों की मौत हो गई थी। लेकिन यह हादसा कई परिवारों को जिंदगीभर के जख्म दे गया। जिसने कई बच्चों से उनका साहारा छीन लिया। ऐसी एक दुख कहानी दो मासूम बच्चों की सामने आई है, जहां उनके माता-पिता एक्सीडेंट के शिकार हो गए और वह दुनिया छोड़ गए। खेलने-कूदने की उम्र में बच्चों के सिर से मां-बाप का साया छिन गया।

मासूम बच्चे गिफ्ट देख बिलख रहे...
दरअसल, जिस दिन यह हदासा हुआ उसके एक दिन बाद यानि गुरुवार को मृतक दंपति के एक बेटे का जन्मदिन था। पति-पत्नी ने अपने बेटे के बर्थडे की सेलिब्रेशन की तैयारी भी कर रखी थी। इतना ही नहीं उन्होंने तो यहां तक कि बर्थडे गिफ्ट तक खरीद लिया था। अब उसी तोहफे देखकर मासूम बच्चे बिलख रहे हैं।

हादसे ने सारी खुशियां मातम में बिखेर दीं
बता दें कि जिस कपड़े की गोदाम में आग लगी उसी टेक्सलाइल कंपनी में मृतक  माथुरभाई और पत्नी एंजेलिना साथ काम करते थे। जिस वक्त यह  हादसा हुआ वह दोनों एक साथ गोदाम में अंदर ही थे। उनके परिजनों ने बताया कि दंपति  गरीब जरुर थे, लेकिन दिल के बहुत अमीर थे। दोनों ने अपने बटे के जन्मदिन की पूरी तैयारी कर रखी थी। लेकिन इस हादासे ने तो सारी खुशियां मातम में बिखेर दीं।

(केमिकल फैक्ट्री में विस्फोट होने के बाद कपड़ा गोदाम की छत गिर गई थी)

बड़ा भयानक था हादसा, आग लगने के बाद हुआ था धमाका
बुधवा दोपहर  केमिकल फैक्ट्री में आग लगने और विस्फोट होने से पास के बने कपड़ा गोदाम की छत गिर गई थी। जिसके बाद से आग ने पूरे गोदाम को अपनी चपेट में ले लिया था। जिस वक्त यह भयानक हादसा हुआ था, उस दौरान वहां करीब 24 कर्मचारी मौजूद थे। जिसमें से 12 की मौत हो चुकी है। वहीं कुछ लोग मलबे में दब गए थे, जिनका इलाज जारी है। आग इतनी भयानक थी कि करीब 15 दमकल गाड़ियों को बुझाने में 4 घंटे का वक्त लगा था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios