Asianet News HindiAsianet News Hindi

हिमाचल प्रदेश में सभी शैक्षणिक संस्थान और थिएटर 31 मार्च तक रहेंगे बंद : मुख्यमंत्री

बजट सत्र के दौरान सदन में एक बयान में मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, आंगनवाड़ी केंद्रों और क्रैचों समेत सभी सिनेमाघर और शैक्षणिक संस्थान 31 मार्च तक बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि परीक्षाएं निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होंगी।हिमाचल प्रदेश में अभी तक कोविड-19 का कोई मामला सामने नहीं आया है।
 

All educational institutions and theaters in Himachal Pradesh will remain closed till 31 March: Chief Minister kpm
Author
Simla, First Published Mar 14, 2020, 6:57 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

शिमला. हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए एहियाती कदम के तौर पर 31 मार्च तक सभी शैक्षणिक संस्थानों और सिनेमाघरों को बंद कर दिया गया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शनिवार को राज्य विधानसभा में यह जानकारी दी।

प्रदेश में अभी तक कोरोना का कोई मामला सामने नहीं आया है

बजट सत्र के दौरान सदन में एक बयान में मुख्यमंत्री ने कहा कि स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, आंगनवाड़ी केंद्रों और क्रैचों समेत सभी सिनेमाघर और शैक्षणिक संस्थान 31 मार्च तक बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि परीक्षाएं निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होंगी।हिमाचल प्रदेश में अभी तक कोविड-19 का कोई मामला सामने नहीं आया है।

593 लोगों को निगरानी में रखा गया है

उन्होंने बताया कि 593 लोगों को निगरानी में रखा गया है। उनमें से 372 के बारे में जानकारी आव्रजन ब्यूरो से ली गई। उनके कोविड-19 से प्रभावित 19 देशों की हाल फिलहाल में यात्रा करने के बारे में जानकारी हासिल की गई। ठाकुर ने बताया कि बाकी के 221 लोगों ने खुद अधिकारियों से संपर्क किया। उन्होंने बताया कि खांसी या बुखार के लक्षणों के साथ आईजीएमसी शिमला और आरपीजीएमसी टांडा अस्पताल आए उनमें से सात कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं पाए गए।

CM की लोगों से अपील- घबराने की कोई जरूरत नहीं 

राज्य के लोगों से अधिकारियों के साथ सहयोग करने की अपील करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘घबराने की कोई जरूरत नहीं है। राज्य में कोरोना वायरस के फैलने की किसी भी आशंका की जांच करने के लिए इन कदमों को सकारात्मक कदम के तौर पर लीजिए। कोविड-19 वैश्विक महामारी से देश में दो लोगों की मौत हो गई।’’

(ये खबर पीटीआई/भाषा की है। हिन्दी एशियानेट न्यूज ने सिर्फ हेडिंग में बदलाव किया है।)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios