Asianet News Hindi

अमित शाह ने पुरी के जगन्नाथ मंदिर में की प्रार्थना, केंद्रीय मंत्री बनने के बाद पहली बार आए मंदिर

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह समुद्र किनारे स्थित तीर्थ नगरी पुरी पहुंचे और श्री जगन्नाथ मंदिर में पूजा 

Amit Shah offer prayer at Puri Jagannath temple kpm
Author
New Delhi, First Published Feb 29, 2020, 1:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भुवनेश्वर: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह समुद्र किनारे स्थित तीर्थ नगरी पुरी पहुंचे और श्री जगन्नाथ मंदिर में पूजा की। ओडिसा के दो दिवसीय दौरे पर आए शाह ने कड़ी सुरक्षा सुरक्षा के बीच दौरे के दूसरे दिन 12वीं सदी में बने इस मंदिर के दर्शन किए और त्रिमूर्ति - भगवान बालभद्र, देवी सुभद्रा और भगवान जगन्नाथ से आशीर्वाद लिया।

केंद्रीय मंत्रियों- धर्मेंद्र प्रधान, प्रताप सारंगी और प्रह्लाद सिंह पटेल तथा भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा के साथ गृह मंत्री सुबह में मंदिर पहुंचे। भाजपा प्रदेश इकाई के प्रभारी अरुण सिंह, राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा और प्रदेश इकाई के अध्यक्ष समीर मोहंती भी मौजूद थे जब शाह का मंदिर के सिंह द्वार के पास स्वागत किया गया।

मंदिर के गर्भ गृह के पास किए दर्शन 

मंदिर के पुजारियों ने बताया कि मंदिर परिसर में 30 मिनट रुकने के दौरान शाह ने मंदिर के गर्भ गृह के पास दर्शन किए और दीप जलाकर प्रार्थना की। शाह के पारिवारिक पुजारी रघुनाथ गोच्चिकर ने बताया कि मुख्य मंदिर के भीतर पूजा करने के अलावा गृह मंत्री ने परिसर के आस-पास का भी भ्रमण किया और देवी विमला और महालक्ष्मी मंदिर भी गए।

उन्होंने बताया कि शाह पहले भी कई बार श्री जगन्नाथ मंदिर आ चुके हैं लेकिन केंद्रीय मंत्री बनने के बाद वह पहली बार मंदिर आए हैं। शाह का स्वागत पुरी के जिला कलक्टर बलवंत सिंह, मंदिर प्रशासन के अधिकारियों और स्थानीय नेताओं ने किया। बाद में गृह मंत्री राज्य की राजधानी में स्थित भगवान शिव के लिंगराज मंदिर पहुंचे।

प्रदेश इकाई के अध्यक्ष थे मौजूद

इस दौरान शाह के साथ तीन केंद्रीय मंत्री, भुवनेश्वर से भाजपा सांसद अपराजिता सारंगी और पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष मौजूद थे। भुवनेश्वर की सांसद ने कहा कि गृह मंत्री ने मंदिर के भीतर करीब 20 मिनट बिताए और विशेष प्रार्थना की। उन्होंने कहा, “अमित जी ने भगवान लिंगराज के दर्शन किए।”

शुक्रवार को शाह ने भुवनेश्वर में पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की बैठक की अध्यक्षता की जिसमें ओडिशा, पश्चिम बंगाल और बिहार के मुख्यमंत्री उपस्थित थे।

बैठक के बाद उन्होंने भाजपा की ओर से जनता मैदान में सीएए पर आयोजित रैली को संबोधित किया।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios