Asianet News Hindi

4 दिन से 100 फीट गहरे बोरवेल में फंसा है बच्चा, 15 टीमें कर रही हैं बचाने की कोशिश

बोरवेल में फंसे मासूम बच्चे की सलामती के लिए अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुआ की है। प्रधानमंत्री ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री से फोन पर बातचीत की और हालात का जायजा लिया।

Child trapped in 100 feet deep borewell from 4 days, 15 teams are trying to save
Author
Tiruchirappalli, First Published Oct 28, 2019, 5:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

तिरुचिरापल्ली (तमिलनाडु). बोरवेल में फंसे मासूम बच्चे की सलामती के लिए अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुआ की है। प्रधानमंत्री ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री से फोन पर बातचीत की और हालात का जायजा लिया।

पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा, "मेरी दुआएं हिम्मती सुजीत विल्सन के साथ हैं। सुजीत को बचाने के लिए चल रहे बचाव अभियान के संबंध में मुख्यमंत्री ई. पलानिसामी से मेरी बात हुई है। वह सुरक्षित रहे इसके लिए सभी संभव प्रयास किए जा रहे हैं।" प्रधानमंत्री से पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी बच्चे की सलामती के लिए दुआ की।

बता दें कि तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली जिले में शुक्रवार के दिन एक दुखद घटना घटी। 2 साल का बच्चा 25 फीट गहरे बोरवेल में जा गिरा। उसे बचाने की कोशिशें की ही जा रही थीं कि शनिवार को मासूम फिसलकर 100 फिट और नीचे गहराई में चला गया। बच्चे को बचाने के लिए पिछले तीन दिन से बचाव कार्य चल रहा है। लेकिन अभी तक सफलता हाथ नहीं लगी है।

बचाने में जुटीं हैं 15 टीमें
बच्चे का नाम सुजीत विल्सन है। वह खेलते हुए शुक्रवार शाम करीब 5:30 बजे बोरवेल में गिरा था। मासूम को निकालने के लिए बचाव कार्य में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और अग्निशमन विभाग और अन्य मिलाकर 15 टीमें का कर रही हैं। बोरवेल के पास गड्डा खोदकर बच्चे को निकालने की कोशिश कर रहे हैं।

बच्चा बेहोश, सांस ले रहा है
घटना का पता चलते ही राज्य के मंत्री सी विजय भास्कर भी मौके पर मौजूद हैं। उन्होंने कहा, हम जल्द ही बच्चे को सुरक्षित निकाल लेंगे। ताजा जानकारी के मुताबिक बच्चा बेहोश हो गया है। उस तक पाइप के जरिए ऑक्सीजन पहुंचाने की व्यवस्था की गई है। सुरक्षा और बचाव कार्य में लगे अधिकारियों को उम्मीद है कि मंगलवार सुबह तक बच्चे को बाहर निकाल लिया जाएगा।

इससे पहले रविवार को आपदा विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कुछ समय तक बच्चे की रोने की आवाज सुनाई दे रही थी। हम गीली मिट्टी होने के कारण उसका सही सही आकलन नहीं कर पा रहे हैं।


रजनीकांत ने बच्चे के लिए की कामना 
मासूम के बाहर निकालने के लिए पूरे राज्य के लोग दुआ कर रहे हैं। सुपरस्टार रजनीकांत ने भी दुआ की। उन्होंने कहा कि मैं दिल से यही प्रार्थना करता हूं कि तिरुचि गांव के बोरवेल में फंसा बच्चा सकुशल बाहर निकल जाए। वहीं सोशल मीडिया पर लोग बच्चे के लिए दुआएं मांग रहे हैं।

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios