जम्मू: कांग्रेस की जम्मू-कश्मीर इकाई ने अपने कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिए जाने के विरोध में ब्लॉक विकास परिषद (बीडीसी) चुनाव का बहिष्कार करने का फैसला किया है। राज्य कांग्रेस प्रमुख जी. ए. मीर ने कहा कि राज्य प्रशासन का ‘‘उदासीन’’ रवैया और घाटी में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की हिरासत के विरोध में यह कदम उठाया गया है। जम्मू-कश्मीर में बीडीसी चुनाव 24 अक्टूबर को होने वाले हैं। केन्द्र सरकार के पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को निरस्त करने के बाद पहली बार यहां चुनाव हो रहे हैं।

लोकतांत्रिक संस्थाओं को मजबूत करने में कांग्रेस रखती है विश्वास- जी. ए. मीर

मीर ने कहा, ‘‘ कांग्रेस लोकतांत्रिक संस्थाओं को मजबूत करने में विश्वास रखती है और कभी किसी चुनाव से पीछे नहीं हटी। लेकिन आज, हम राज्य प्रशासन के उदासीन रवैये और घाटी में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को हिरासत में रखे जाने के कारण बीडीसी चुनाव ना लड़ने का निर्णय लेने को मजबूर हैं।’’

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)