Asianet News HindiAsianet News Hindi

बड़े ही शातिर निकले ये पति-पत्नी, फर्जी कोरोना निगेटिव रिपोर्ट बनाकर दिल्ली से घूमने आए शिमला..फिर..

6 जुलाई को दिल्ली के पति अंकित चौधरी अपनी पत्नी निकिता के साथ फर्जी निगेटिव रिपोर्ट बनाकर हिमाचल की खूबसूरत वादियां घूमने के लिए आए थे। एसपी को उन पर शक हुआ तो उन्होंने दोनों की रिपोर्ट क्रॉस चेक की तो यह रिपोर्ट फर्जी निकली।

Delhi based husband and wife visit himachal after making fake negative report of coronavirus kpr
Author
Shimla, First Published Jul 9, 2020, 6:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

धर्मशाला. कोरोना का कहर कम होने की बजाय लगातार बढ़ाता जा रहा है। देश में पॉजिटिव के मरीजों की संख्या 8 लाख पार होने वाली है। महामारी के डर से लोग चाहकर भी दूसरे शहर नहीं जा पा रहे हैं। लेकिन हिमाचल से एक हैरान देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक पति-पत्नी ने दिल्ली से फर्जी कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट लेकर आए और पुलिस के हत्थे चढ़ गए।

फर्जी रिपोर्ट बनाकर घूमने आए थे खूबसूरत वादियां
दरअसल, 6 जुलाई को दिल्ली के निवासी पति अंकित चौधरी अपनी पत्नी निकिता के साथ फर्जी निगेटिव रिपोर्ट बनाकर कांगड़ा की खूबसूरत वादियां घूमने के लिए आए थे। जांच के दौरान जब जिले के एसपी विमुक्त रंजन को उन पर शक हुआ तो उन्होंने दोनों की रिपोर्ट क्रॉस चेक करने के लिए दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भेजा। जहां बताया गया कि यह रिपोर्ट फर्जी है।

पर्यटक पति और पत्नी को भेजा गया क्वारंटीन सेंटर
कांगड़ा के प्रशासन ने पर्यटक पति और पत्नी की तलाश की तो पता चला कि वह पालमपुर के एक होटल में ठहरे हुए थे। इसके बाद एसपी ने दंपती को क्वारंटीन केंद्र में भेज दिया। इसके अलावा उनपर नूरपुर पुलिस थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। साथ ही आज गुरुवार को उनका कोरोना टेस्ट हुआ, जहां उनकी रिपोर्ट दो-तीन दिन में आ जाएगी। 

मुख्यमंत्री ने कहा-बंद रखने से राज्य को हो रहा घाटा
बता दें कि हिमाचल सरकार ने पर्यटकों के लिए प्रदेश की सीमाओं को खोल दिया है। जिसके चलते कुछ पर्यटक जाली निगेटिव सर्टिफिकेट लेकर आने लगे हैं। अगर यह सिलसिला चलता रहा तो राज्य में कोरोना के संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।  मुख्यमंत्री  जयराम ठाकुर ने बुधवार को शिमला में एक कर्यक्रम के दौरान कहा-मैं मनाता हूं कि कोरोना का असर है, लेकिन इकोनॉमिक एक्टिविटी को ज्यादा दिन तक बंद नहीं रखा जा सकता। क्योंकि ऐसा करने पर काफी नुकसान हो रहा है।

होटल खुले यां बंद रहे सरकार नहीं डालेगी दबाव
इसके अलावा सीएम ने कहा होटल कारोबारियों पर सरकार किसी तरह का कोई दबाव नहीं डालेगी वह होटल खोले या बंद रखे यह उनकी मर्जी है। बता दें कि प्रदेश में अब तक कोरोना मरीजों की संख्या 1100 पार पहुंच गया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios