Asianet News HindiAsianet News Hindi

Gurugram : नामी डॉक्टर निकले चोरी के मास्टरमाइंड, 1.20 करोड़ रुपए कैश बरामद

 शहर के खेड़की दौला इलाके से हुई करोड़ों की चोरी मामले में एसटीएफ (STF) ने दो डॉक्टरों को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ के मुताबिक ये दोनों डॉक्टर ही चोरी के मास्टमाइंड हैं।

Gurugram Theft Mastermind Doctor Arrested
Author
Gurugram, First Published Nov 12, 2021, 4:49 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गुरुग्राम। शहर के खेड़की दौला इलाके से हुई करोड़ों की चोरी मामले में एसटीएफ (STF) ने दो डॉक्टरों को गिरफ्तार किया है। एसटीएफ के मुताबिक ये दोनों डॉक्टर ही चोरी के मास्टमाइंड हैं। गिरफ्तार आरोपियों के पास से 1.90 करोड़ रुपए कैश, सवा करोड़ का 3 किलो सोना (GOLD) और 45 लाख कीमत के यूएस डॉलर्स (Us dollar)बरामद किए हैं। 
इस मामले में गिरफ्तार डॉक्टर सचिंदर जैन नवल और डॉक्टर जे पी सिंह शहर के नामी डॉक्टर हैं। दोनों ने दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल में तैनात विकास गुलिया और गैंगस्टर विकास लगरपुरिया के साथ इस हाई प्रोफाइल चोरी की साजिश रची थी। 

क्या है मामला
20 अगस्त को अल्फा जी कॉर्प मैनेजमेंट सर्विस कंपनी ने खेड़की दौला थाने में चोरी की एफआईआर (FIR) दर्ज करवाई थी। गुरुग्राम पुलिस ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल में तैनात विकास गुलिया और एक अन्य को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से नाम मात्र की रिकवरी दिखा मामले को रफा-दफा कर दिया। लेकिन जांच में संतुष्ट न होने पर डीजीपी हरियाणा ने इस मामले की जांच 10 दिन पहले एसटीएफ को सौंप दी। 

दो आरोपियों के सरेंडर से खुल गया केस 
बुधवार को चोरी में शामिल दो आरोपियों नीटू और संदीप ने सरेंडर कर दिया। उनके बयान के आधार पर पता चला कि डॉक्टर जे पी सिंह ने डॉक्टर सचिंदर नवल को इस बड़ी रकम की जानकारी दी। इसके बाद सचिंदर जैन ने इसकी जानकारी गैंगस्टर विकास लगरपुरिया को दी और करोड़ों रुपए की चोरी की घटना में अहम भूमिका निभाई। 
एसटीएफ प्रमुख साथीश बालन ने बताया कि खेड़कीदौला की इस सोसाइटी में दो कमरे किराए पर लिए गए और फिर मौका मिलते ही 2 और 3 अगस्त 2021 की रात करोड़ों की चोरी को अंजाम दे डाला। एसटीएफ को आशंका है कि यह पैसा काला धन हो सकता है। दरअसल, कंपनी ने जो रिपोर्ट दर्ज कराई थी, उसमें राशि का जिक्र नहीं किया गया था।

यह भी पढ़ें 
Punjab Assembly Election 2022: आम आदमी पार्टी ने जारी की कैंडिडेट की पहली लिस्ट, देखिए किसे कहां से मिला मौका
Delhi में अब पेट्रोल पॉलिटिक्स ; केजरीवाल से मनोज तिवारी बोले- एक्साइज ड्यूटी घट गई, आप वैट कम करें
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios