Asianet News HindiAsianet News Hindi

ममात बनर्जी ने 18 राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लिखा पत्र, कहा- लॉकडाउन के दौरान बंगाल के मजदूरों की मदद करें

देश में कोविड-19 महामारी की वजह से पूरी तरह बंद के कारण पश्चिम बंगाल के कई कामगार वापस नहीं आ सके और विभिन्न जगहों पर फंस गये हैं।’’ ममता बनर्जी का यह पत्र महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, केरल, दिल्ली, ओडिशा, कर्नाटक और पंजाब के मुख्यमंत्रियों को मिला है।

Mamata Banerjee wrote a letter to Chief Ministers of 18 states, said- Help the workers of Bengal during lockdown kpm
Author
New Delhi, First Published Mar 26, 2020, 7:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने देश के 18 राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर राज्य के उन श्रमिकों को सहायता पहुंचाने का आग्रह किया है जो कोरोना वायरस महामारी के कारण लॉकडाउन के बाद जगह-जगह फंस गए हैं।

बंगाल के कई कामगार देश के विभिन्न हिस्सों में काम करते हैं

बनर्जी ने पत्र में लिखा, ‘‘बंगाल के कई कामगार देश के विभिन्न हिस्सों में काम कर रहे हैं जिनमें अर्द्ध कुशल और अकुशल दोनों श्रेणी के हैं। देश में कोविड-19 महामारी की वजह से पूरी तरह बंद के कारण पश्चिम बंगाल के कई कामगार वापस नहीं आ सके और विभिन्न जगहों पर फंस गये हैं।’’ ममता बनर्जी का यह पत्र महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, केरल, दिल्ली, ओडिशा, कर्नाटक और पंजाब के मुख्यमंत्रियों को मिला है।

ममता ने कहा हमें हमारे लोगों के फोन आ रहे हैं, आप मदद करें

इसमें बनर्जी ने कहा, ‘‘हमें सूचना मिली है कि बंगाल के मूल निवासी ऐसे कई श्रमिक आपके राज्य में भी फंसे हुए हैं। हमें उनके लिए आपात स्थिति में फोन आ रहे हैं।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि सामान्य तौर पर वे 50-100 के समूह में हैं और स्थानीय प्रशासन आसानी से उन्हें पहचान सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘हम उन्हें कोई मदद नहीं पहुंचा सकते, इसलिए मैं आपसे अनुरोध करती हूं कि कृपया अपने प्रशासन को उन्हें संकट के इस समय में बुनियादी आसरा, भोजन और चिकित्सा सहायता मुहैया कराने को कहें।’’

बनर्जी ने कहा- हम बंगाल में फंसे लोगों का देखभाल कर रहे हैं

बनर्जी ने यह भी लिखा, ‘‘हम बंगाल में में फंस गये ऐसे लोगों की देखभाल कर रहे हैं।’’ इस बीच कोलकाता में राज्य के परिवहन सचिव एन एस निगम ने गुरूवार को बताया कि यहां हावड़ा स्टेशन पर ट्रेन सेवाएं निलंबित होने के कारण फंस गये सैकड़ों लोगों को पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा बसों से उनके गंतव्यों तक भेजा गया है। इनमें से अधिकतर लोग शनिवार आधी रात से स्टेशन परिसर के बाहर वक्त गुजारने को मजबूर थे और घर वापसी के लिए बहुत परेशान थे। इसके बाद अधिकारी उनके बचाव के लिए आए।

पूर्वी रेलवे के अधिकारियों ने दावा किया कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने उन्हें सुरक्षा प्रदान की और भोजन भी उपलब्ध कराया जिसके बाद उन्हें राज्य सरकार की बसों से गंतव्यों तक ले जाया गया।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios