Asianet News HindiAsianet News Hindi

जर्जर घर-बेरोजगार बहन का बोझ...लेकिन 300 रु. ने 24 साल के लड़के को बनाया 12 करोड़ का मालिक

एक अनोखा मामला केरल से आया है, जहां एक 24 साल का लड़का घर बैठे-बैठे चंद मिनटों में करोड़पति बन गया। अनंतु विजयन नाम के युवा ने अपने भाग्य की दम पर बंपर लॉटरी का 300 रुपए का टिकट खरीदा था। जो अब 12 करोड़ की लॉटरी जीत गया।

nanthu vijayan won first prize of rs 12 crore in kerala onam lottery KPR
Author
Kerala, First Published Sep 22, 2020, 5:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोच्चि (केरल). जब किसी को कहीं से कोई उम्मीद नहीं रहती तो वह अक्सर कहता है - काश! कोई लॉटरी लग जाए। ऐसा ही एक अनोखा मामला केरल से आया है। एक 24 साल का लड़का घर बैठे चंद मिनटों में करोड़पति बन गया।

300 रुपए में बन गया करोड़पति
दरअसल, ऐसी किस्मत धनी हैं कोचि के रहने वाले अनंतु विजयन। किस्मत ने ऐसा दांव खेला कि विजयन हर तरफ छा गया। दरअसल, विजयन ने बंपर लॉटरी का 300 रुपए का टिकट खरीदा था। उसकी 12 करोड़ की लॉटरी खुल गई। सपने में भी नहीं सोचा था कि उनके पास एक दिन इतना पैसा आ जाएगा। अनंतु का कहना है कि इससे पहले मैंने एक बार 5000 रुपए जीते थे, इसलिए भरोसा था और टिकट खरीद लिया।

मिला बंपर ईनाम और जीत लिए 12 करोड़
बता दें, अनंतु कोचि के एक बडे मंदिर में बतौर क्लर्क काम करते हैं। वह घर में इकलौते कमाने वाले हैं। लॉकडाउन के दौरान उनकी बहन की भी नौकरी चली गई। उनके ऊपर ज्यादा बोझ आ गया। उन्होंने अपने भाग्य पर भरोसा करके बंपर लॉटरी का टिकट खरीद लिया। रविवार शाम जब केरल सरकार ने ओनम बंपर लॉटरी 2020 के नतीजे घोषित किए तो ईनाम जीते वालों में एक नाम अनंतु का भी था। 12 करोड़ का बंपर ईनाम हासिल किया।

6 लोगों ने जीता एक-एक करोड़ रुपए 
अनंतु ने बताया कि उनको इस 12 करोड़ की लॉटरी में से टैक्स और अन्य चार्जेस काटने के बाद भी 7.5 करोड़ रुपए मिलेंगे। अनंतु को पहला प्राइज महिला है। अन्य 6 लोगों को दूसरा प्राइज मिला है। इन सभी को एक-एक करोड़ रुपए मिलेंगे।

जर्जर मकान को ठीक कराने के भी नहीं थे पैसे
अनंतु मूल रूप से कोच्चि जिले के इडुक्की का रहने वाला है। उनके परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। वो अपनी क्लर्क की नौकरी से जितना भी कमाता है, उससे परिवार का ही खर्चा चल पाता है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन में उनको किन-किन परेशानियों का सामना करना पड़ा। आलम यह कि घर की हालत जर्जर है, वह कभी भी गिर सकता है। लेकिन इतना रुपया नहीं था कि वह उसको सही करा सके।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios