Asianet News Hindi

तो इस वजह से इन 3 IPS अफसरों के प्रमोशन के आदेश्क को किया गया निरस्त

मंत्रिमंडल की बैठक में राज्य के 3 आईपीएस अफसरों के प्रमोशन का फैसला निरस्त किया गया

Order of promotion of three police officers canceled, decision taken in cabinet meeting
Author
Raipur, First Published Sep 25, 2019, 6:49 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रायपुर.  छत्तीसगढ़ सरकार ने भारतीय पुलिस सेवा के 3 IPS अफसरों को पुलिस महानिदेशक पद पर प्रमोशन के आदेश को निरस्त कर दिया है। राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को देर शाम तक हुई मंत्रिमंडल की बैठक में राज्य के तीन वरिष्ठ पुलिस अफसरों के प्रमोशन निरस्त करने का फैसला किया गया। उन्होंने बताया कि राज्य में पुलिस महानिदेशक स्तर के तीन अतिरिक्त पदों को भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने सहमति नहीं दी है। इसके फलस्वरूप मंत्रिमंडल की बैठक में भारतीय पुलिस सेवा के तीन अधिकारियों को महानिदेशक वेतनमान में प्रमोशन के आदेश को निरस्त करने का निर्णय लिया गया।


तत्कालीन सरकार ने 3 IPS अफसरों के प्रमोशन के थे आदेश
अधिकारियों ने बताया कि राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले तत्कालीन भाजपा सरकार ने छह अक्टूबर 2018 को तीन आईपीएस अधिकारियों आरके विज, संजय पिल्ले और मुकेश गुप्ता को पदोन्नत करने का आदेश जारी किया था। वर्ष 2018 के आदेश में आरके विज, संजय पिल्ले और मुकेश गुप्ता को अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक से विशेष पुलिस महानिदेशक के पद पर पदोन्नत किया गया था। विज वर्तमान में विशेष पुलिस महानिदेशक, योजना और संजय पिल्ले विशेष पुलिस महानिदेशक, इंटेलीजेंस के पद पर पदस्थ हैं।


इन पुलिस अफसरों पर यह लगे हैं आरोप
राज्य में वर्ष 2018 के अंत में कांग्रेस की नेतृत्व वाली सरकार बनने के बाद से मुकेश गुप्ता :विशेष पुलिस महानिदेशक पुलिस मुख्यालय: निलंबित है। गुप्ता के खिलाफ नागरिक आपूर्ति निगम में हुए घोटाले की जांच के दौरान अवैधानिक रूप से फोन टेप करने का आरोप है। उनके खिलाफ पुलिस में मामला भी दर्ज कराया गया है। वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि राज्य में पुलिस महानिदेशक के दो काडर पद और दो अतिरिक्त काडर पद हैं।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios