Asianet News HindiAsianet News Hindi

महबूबा मुफ्ती ने 35ए को बताया बारूद, बोलीं- छुओगे तो पूरा जिस्म राख हो जाएगा

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने भारी सेना बल तैनाती पर आपत्ति जताई थी और कहा था- कश्मीर की समस्या राजनीतिक है और इसे सैन्य ताकत से सुलझाया नहीं जा सकता है। 

PDP leader mehbooba mufti against central government speak on 35A
Author
Jammu and Kashmir, First Published Jul 28, 2019, 2:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

श्रीनगर. कश्मीर से 35ए हटाने की खबरों के बीच महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि 35ए के साथ छेड़छाड़ करना बारूद को हाथ लगाने जैसा होगा। इसे जो भी हाथ लगाने की कोशिश करेगा उसका जिस्म राख हो जाएगा। दरअसल, कश्मीर में 10 हजार अतिरिक्त जवान तैनात किए गए हैं। इसके पीछे 35ए को हटाए जाने का कारण बताया जा रहा है, जिससे कि अगर हालात बेकाबू हों तो उस पर काबू पाया जा सके।

उत्तरी-कश्मीर में होंगे तैनात

मोदी सरकार ने शनिवार को कश्मीर में अर्धसैनिक बलों के 10 हजार अतिरिक्त जवान तैनात करने का फैसला लिया था। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के दो दिन के जम्मू-कश्मीर दौरे के बाद यह खबर सामने आई थी। गृह मंत्रालय के अनुसार यह तैनाती आतंकवाद विरोधी ग्रिड मजबूत करने और कानून-व्यवस्था के लिए की जा रही है। जम्मू-कश्मीर पुलिस के मुताबिक, यह जवान उत्तरी-कश्मीर में तैनात होंगे। 


महबूबा मुफ्ती ने जताई थी आपत्ति

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कश्मीर से 35ए हटाने का प्लान किया जा रहा है। इसलिए वहां सेना के जवानों की संख्या बढ़ाई गई है। जिस पर पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने आपत्ति जताई थी और कहा था कि कश्मीर की समस्या राजनीतिक है। इसे सैन्य ताकत से सुलझाया नहीं जा सकता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios