Asianet News HindiAsianet News Hindi

नशे में धुत्त पंजाब के सीएम भगवंत मान को लुफ्थांसा के विमान से उतारा गया, आप ने इसे बताया प्रोपेगेंडा

शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने आरोप लगाया है कि जर्मनी से भारत आने के लिए लुफ्थांसा के विमान में पंजाब के सीएम भगवंत मान नशे में धुत्त होकर सवार हो गए थे। उन्हें विमान से उतार दिया गया था।
 

Punjab CM Bhagwant Mann deplaned from Lufthansa plane for being 'drunk', delays flight by 4 hours vva
Author
First Published Sep 19, 2022, 4:42 PM IST

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) नशे में धुत्त होने के चलते विवाद में फंस गए हैं। पंजाब में विदेशी निवेश बढ़ाने के लिए वह जर्मनी की यात्रा पर थे। आरोप लगाए जा रहे हैं कि जर्मनी से भारत आने के लिए वह नशे में धुत्त होकर विमान में सवार हो गए। उन्हें लुफ्थांसा के विमान से उतार दिया गया। उनके चलते विमान को उड़ान भड़ने में चार घंटे की देर हुई। 

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भगवंत मान पर गंभीर आरोप लगाते हुए उनसे नशे में होने के कारण विमान से उतारे जाने की मीडिया रिपोर्टों पर स्पष्टीकरण मांगा है। बादल ने ट्वीट किया कि भगवंत मान को लुफ्थांसा की फ्लाइट से उतारा गया। उन्होंने बहुत अधिक नशा किया हुआ था, जिसके चलते उड़ान भरने लायक नहीं थे। उनके चलते फ्लाइट को 4 घंटे की देर हुई। विमान से उतारे जाने के चलते मान आप के राष्ट्रीय सम्मेलन में भी शामिल नहीं हो सके। मान ने पूरी दुनिया में पंजाबियों को शर्मसार किया है।

सुखबीर सिंह ने केजरीवाल से मांगी सफाई
सुखबीर सिंह बादल ने इस मुद्दे पर चुप्पी साधने के लिए पंजाब सरकार की आलोचना की और घटना पर स्पष्टीकरण मांगा। उन्होंने पार्टी प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित आप नेताओं से भी इस मुद्दे पर सफाई देने को कहा है। सुखबीर सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार अपने सीएम भगवंत मान से जुड़ी इन रिपोर्टों पर चुप है। अरविंद केजरीवाल को इस मुद्दे पर सफाई देनी चाहिए। भारत सरकार को कदम उठाना चाहिए। यह पंजाब और राष्ट्रीय गौरव का मामला है। 

यह भी पढ़ें- झूठा निकला भगवंत मान का दावा, BMW ने कहा- नहीं खोलने जा रहे पंजाब में मैन्युफैक्चरिंग यूनिट

आप ने बताया प्रोपेगेंडा
आम आदमी पार्टी ने भगवंत मान के खिलाफ लगाए गए आरोप को प्रोपेगेंडा बताया है। पार्टी ने दावा किया कि मुख्यमंत्री के रूप में मान के प्रदर्शन से विपक्ष बौखला गया है। मुख्यमंत्री 19 सितंबर को निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार लौटे थे। भगवंत मान ने अपनी विदेश यात्रा के दौरान पंजाब में विदेशी निवेश आकर्षित किया। इससे विपक्ष बौखला गया है।

यह भी पढ़ें- पंजाब में ऑपरेशन लोटस: AAP ने बताया भाजपा ने किन विधायकों को दिया 25-25 करोड़ और मंत्री पद का ऑफर

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios