Asianet News HindiAsianet News Hindi

क्या फिर टेंशन देने वाले हैं गुरु: सिद्धू ने सोनिया गांधी को लिखा 13 मांगों वाला खत, 'मिलना चाहता हूं''...


पंजाब में जब से नया मुख्यमंत्री बदला है तब से लेकर अब तक लगातार कांग्रेस के भीतर की सियासत जारी है।  लगता है झगड़ा अभी भी सुलझता नजर नहीं आ रहा है। नवजोत सिंह सिद्धू ने सोनिया गांधी को लिखी 4 पेज की चिट्ठी है।

punjab congress news navjot singh sidhu wrote a letter to  sonia gandhi on 13 point agenda
Author
Amritsar, First Published Oct 17, 2021, 2:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अमृतसर. पंजाब कांग्रेस में सत्ता परिवर्तन के बाद भी राजनीतिक घमासान नहीं थमा है। पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिद्धू ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने के लिए समय मांगा है। इसके लिए उन्होंने एक चार पेज का पत्र भी लिखा है, जिसमें मुलाकात करने के कारण बताया है।

2022 विधानसभा चुनाव के लिए दी सलाह
दरअसल, नवजोत सिद्धू ने पंजाब में होने वाले चुनाव के चलते सोनिया गांधी से मिलना चाहते हैं। उन्होंने जो पत्र लिखा है, उसमें प्रदेश के 13 सूत्री एजेंडा पेश किया है। जिनको पंजाब का मॉडल बताया गया है। सिद्धू ने लिखा है कि इन बातों को प्राथमिकता के आधार पर ध्यान देना चाहिए। साथ ही 2022 विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के घोषणापत्र में इन्हें शामिल किया जाए।

यह भी पढ़ें-राहुल गांधी ने सुनाई पंजाब के CM बनने की इमोशनल कहानी-मुख्यमंत्री की कुर्सी का सुनते ही रोने लगे थे चन्नी

सिद्धू ने अपनी चिट्टी में इन 13 मुद्दों का किया जिक्र
बता दें कि सिद्धू ने अपनी चिट्टी में जिन 13 मुद्दों का जिक्र किया है। उसमें प्रदेश में बिजली संकट और बिजली कंपनियों के बीच समझौतों को रद्द करना, ड्रग्स के मामलों में कार्रवाई, बेअदबी के मामले में न्याय, किसनों के लिए कई योजनाएं लेकर आना, अनुसूचित जाति और पिछड़ों का विकास, रोजगार, सिंगल विंडो सिस्टम, शराब, रेत खनन, केबल  और ट्रांसपोर्ट के अलावा महिला और युवाओं का सशक्तिकरण के बारे में लिखा है।

दो दिन पहले कहा था- आलाकमान का हर फैसला मंजूर 
दो दिन पहले ही  नवजोत सिद्धू ने दिल्ली में जाकर कांग्रेस पार्टी के हाईकमनों से जाकर मुलाकात की थी। इसके बाद उन्होंने कहा था कि सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ही मेरे नेता हैं, मुझे उनके नेतृत्व पर भरोसा है। आलाकमान का हर फैसला मंजूर है। इस दौरान वह पार्टी के पंजाब प्रभारी हरीश रावत और केसी वेणुगोपाल से भी मिले।

यह भी पढ़ें-UP में BSP से विधानसभा टिकट चाहिए तो देनी होगी कड़ी परीक्षा, 4 चरणों में होगा इंटरव्यू, पूछे जाएंगे ऐसे सवाल

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios