Asianet News HindiAsianet News Hindi

राहुल गांधी ने सुनाई पंजाब के CM बनने की इमोशनल कहानी-मुख्यमंत्री की कुर्सी का सुनते ही रोने लगे थे चन्नी

राहुल ने मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के बारे में बड़ा खुलासा करते हुए ऐसी कहानी सुनाई कि सभी नेता हैरान रह गए। बताया कि जब चन्नी को सीएम बनने के लिए कॉल किया तो वह इतने भावुक हुए कि वो रोने लगे थे।

Rahul Gandhi narrated emotional story  in cwc metting  before becoming CM of Punjab charanjit singh channi
Author
Amritsar, First Published Oct 17, 2021, 8:52 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जालंधर (पंजाब). शनिवार दोपहर को कांग्रेस वर्किंग कमिटी (CWC) की बैठक हुई। जिसमें राहुल गांधी (rahul gandhi) ने भी हिस्सा लिया।  इस बैठक में सभी कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्यों ने राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने का समर्थन किया। इस दौरान राहुल ने मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ( charanjit singh channi) के बारे में बड़ा खुलासा करते हुए ऐसी कहानी सुनाई कि सभी नेता हैरान रह गए। बताया कि जब चन्नी को सीएम बनने के लिए कॉल किया तो वह इतने भावुक हुए कि वो रोने लगे थे।

जब रो पड़े थे पंजाब के सीएम
राहुल गांधी ने कहा कि मैंने चन्नी को कॉल करके कहा कि  पार्टी आपको मुख्यमंत्री बना रही है तो वह इतना सुनते ही रोने लगे। उनको यकीन नहीं था कि कांग्रेस पार्टी उनको इतनी बड़ी जिम्मेदारी देने जा रही है। वह रोते हुए कहने लगे कि मैं तो दलित हूं, गरीब परिवार से आता हूं, फिर मुझे ही क्यों यह कुर्सी दी जा रही है।

यह भी पढ़ें-BSF का अधिकार क्षेत्र बढ़ाने पर विवाद: पंजाब के डिप्टी सीएम ने कह दी बड़ी बात, केंद्र सरकार को दी ये नसीहत...

पंजाब के सीएम ने की यह मांग
राहुल गांधी ने कहा कि मैं चाहता हूं कि अगर किसी दलित को मुख्यमंत्री बनाया जाए तो उसे रोना ना पड़े। बल्कि उनको इस कामयाबी पर खुश होना चाहिए, उनको भी सभी अधिकार हैं। आरएसएस कभी किसी दलित, महिला या अल्पसंख्यक को मुख्यमंत्री या प्रधानमंत्री नहीं बनाएगी। लेकिन मेरा मकसद दबी आवाजों को उठाना है। इसी बीच सीएम चन्नी ने राहुल गांधी को देश का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने की मांग की।

यह भी पढ़ें-पंजाब: सिद्धू कांग्रेस अध्यक्ष बने रहेंगे, बोले- हाईकमान का फैसला मंजूर, प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा आज संभव

इस वजह से कांग्रेस ने बुलाई सीडब्ल्यूसी की बैठक
बता दें कि जी 23’ समूह के नेताओं की मांग थी कि पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस कई सीनियर नेताओं ने पार्टी को छोड़ दिया है। इसलिए जल्द से जल्द सीडब्ल्यूसी की बैठक बुलाई जाए। साथ ही इस बात पर विचार किया जाए कि आखिर इसके पीछे की वजह क्या है। इस बैठक को बुलाने में सबसे बड़े नेता के तौर पर गुलाम नबी आजाद और कपिल सिब्बल हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios