Asianet News HindiAsianet News Hindi

मूसेवाला हत्याकांड में बड़ी कार्रवाई: विदेश में बैठा लॉरेंस बिश्नोई का भांजा गिरफ्तार, भाई केन्या में ट्रैस

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड केस को लेकर विदेश में बैठे आरोपियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इसी बीच मूसेवाला हत्या के मास्टरमाइंड माने जा रहे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के भांजे सचिन थापन को अजरबैजान में गिरफ्तार कर लिया गया है।

punjab sidhu moose wala murder case gangster lawrence bishnoi nephew sachin detained from azerbaijan kpr
Author
First Published Aug 30, 2022, 11:09 AM IST

चंडीगढ़. पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में शामिल आरोपियों को लेकर धरपकड़ जारी है। अब पुलिस ने इस केस को लेकर विदेश में बैठे आरोपियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इसी बीच मूसेवाला हत्या के मास्टरमाइंड माने जा रहे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के भांजे सचिन थापन को अजरबैजान में गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं पंजाब पुलिस ने केंद्रीय विदेश मंत्रालय के साथ मिलकर सचिन को भारत लाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। 

लॉरेंस का भाई और भांजा फर्जी पासपोर्ट पर भाग गए थे विदेश
मीडिया के मुताबिक, लॉरेंस का भाई अनमोल और भांजा सचिन दोनों ही मूसेवाला के हत्याकांड में शामिला हैं। ये दोनों मूसेवाला के कत्ल से पहले फर्जी पासपोर्ट पर भारत छोड़ विदेश भाग गए थे। सजिन अजरबैजान में जा छिपा था तो वहीं भाई की लोकेशन कीनिया में मिली है। जैसे ही दोनों की जानकारी पंजाब पुलिस को मिली तो उन्होंने विदेश मंत्रालय के साथ मिलकर सचिन को धर दबोचा। अब जल्द ही उसे भारत लाने की कार्रवाई शुरू कर दी है।

सचिन ने दावा किया था कि उसने ही किया है मूसेवाला का मर्डर
पंजाब पुलिस ने केंद्रीय विदेश मंत्रालय के साथ मिलकर सचिन बिश्नोई को भारत लाने को लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। अब जल्द ही वह पंजाब पुलिस की गिरफ्त में होगा। बता दें कि  मूसेवाला की हत्या के बाद सचिन ने सोशल मीडिया के जरिए दावा किया था कि उनसे ही सिंगर मूसेवाला का मर्डर करवाया है। जिसके बाद से पंजाब पुलिस इसकी तलाश में जुट गई थी। सचिन को पकड़ा गया, लेकिन लॉरेस का भाई अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। बताया जा रहा है कि उसके कीनिया में होने का शक है।

मूसेवाला की हत्या के बाद भाई और भांजे को लॉरेंस ने भेजा था विदेश
पंजाब पुलिस ने खुलासा किया था कि पंजाबी सिंगर मूसेवाला की हत्याकांड के असली मास्टरमांइड लॉरेंस और गोल्डी बराड़ के साथ सचिन थापन और अनमोल भी शामिल हैं। लॉरेंस ने ही मर्डर से पहले अनमोल और सचिन के पहले फर्जी पासपोर्ट बनवाए, इसके बाद दोनों को विदेश भेज दिया। दोनों नेपाल के रास्ते अजरबैजान गए। इसके बाद बाद 29 मई को मूसेवाला की हत्या कर दी गई।

यह भी पढ़ें-मूसेवाला के शूटर पुरानी हवेली में छिपे: तड़ातड़ गोलियों से सहमा अटारी गांव, देखिए एनकाउंटर के मौके की तस्वीरें
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios