Asianet News HindiAsianet News Hindi

Punjab Assembly: विधानसभा में सिद्धू और अकाली नेताओं में हुई झड़प, हाथापाई तक की आ गई नौबत

गरुवार को पंजाब सरकार ने विशष सत्र बुलाया था। जिसमें केंद्र सरकार के कृषि क़ानूनों को रद्द करने को लेकर एक प्रस्ताव पारित किया गया। इसके बाद सीएम चरणजीत सिंह चन्नी नशे को लेकर बोल रहे थे, इसी दौरान जमकर हंगमा हुआ।

ruckus in punjab assembly navjot singh sidhu and akali leaders front of cm charanjeet channi
Author
Amritsar, First Published Nov 11, 2021, 5:20 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंडीगढ़. पंजाब में आपसी घमासान के चलते कांग्रसे पार्टी लगातार चर्चा में बनी हुई है। लेकिन विधानसभा के विशेष सत्र ( Punjab Assembly) में जो कुछ देखने को मिला वह हैरान करने वाला था। विधानसभा में नशे के मुद्दे को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष में चर्चा चल रही थी। इसी दौरान नवजोत सिंह सिद्धू (navjot singh sidhu)और आकाली दल के नेताओं (akali dal leaders) के बीच जबरदस्त हंगामा देखने को मिला। इतना ही नहीं दोनों पक्षों के बीच बात हाथापाई तक जा पहुंची।

कांग्रेस-अकाली में हुई जमकर झड़प
दरअसल, गरुवार को पंजाब सरकार ने विशष सत्र बुलाया था। जिसमें केंद्र सरकार के कृषि क़ानूनों को रद्द करने को लेकर एक प्रस्ताव पारित किया गया। इसके बाद सीएम चरणजीत सिंह चन्नी (cm charanjeet channi) नशे को लेकर बोल रहे थे, जहां उन्होंने अकाली दल के नेताओं को नशे के कारोबार से जुड़ा बताया। बस इसी बात पर हंगामा शुरू हो गया। इस दौरान कांग्रेस के नेताओं और अकाली दल के नेताओं के बीच तीखी नोकझोंक देखने को मिली।

सिद्धू ने कहा-आज जो हुआ वह प्लानिंग के तहत था
विधानसभा में हुए हंगामे के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा सीएम चरणजीत चन्नी पंजाब की जनता के हित के लिए एक के बाद एक ऐलान कर रहे हैं। जिससे आकाली दल बीजेपी चिढ़ी हुई है। आज विधानसभा में जो कुछ भी हुआ वह एक सोची समझी साजिश के तहत हुआ है।सिद्धू ने कहा कि सरकार ने जो घोषणाएं की हैं वह आने वाले पांच साल के लिए हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार कृषि कानून को रद्द करने की बात कर रही है।  लेकिन आकाली दल इस पर राजनीति कर सरकार के कामों से लोगों का ध्यान भटकाना चाहता है। 

अपराध वाला इत्र vs रामराज की खुशबू: अखिलेश के समाजवादी इत्र पर BJP बोली- पापों की दुर्गंध नहीं जाएगी

UP Election 2022 : यूपी की चुनावी फिजा को कितनी महकाएगी समाजवादी परफ्यूम, जानें इसके पीछे का सियासी मकसद..

-UP Election 2022: जिस घर की दीवारों पर प्लास्टर भी नहीं, वहां कहां से आया अखिलेश यादव के लिए आरामदायक सोफा?

UP Election 2022: बसपा के शिल्पकार रहे रामअचल राजभर सपा में शामिल, लालजी वर्मा भी हुए साइकिल पर सवार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios