Asianet News HindiAsianet News Hindi

नारायण सेवा संस्थान कराने जा रहा राजस्थान में भव्य सामूहिक विवाह समारोह,जहां दिव्यांग जोड़े देंगे नया संदेश

नारायण सेवा संस्थान राजस्थान में 36वां सामूहिक विवाह समारोह 11 सिंतबर को कराने जा रहा है। जहां दिव्यांग और वंचित वर्ग के जोड़े करेंगे लाखों लोगों को प्रेरित करेंगे।

36th Mass Marriage Ceremony and distributing ration to handicapped by narayan seva sansthan
Author
Jaipur, First Published Sep 8, 2021, 8:01 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर. कमेटिया गठित- विवाह व्यवस्था को सफल बनाने के लिए कोरोना सुरक्षा समिति, स्वागत कमेटी, यातायात कमेटी, भोजन कमेटी, पांडाल समिति, पंजीयन कमेटी, आवास कमेटी, विजिट कमेटी, पाणिग्रहण समिति, तकनीकी समिति, मंचीय व्यवस्था समिति, सिक्यूरिटी समिति, फायर सुरक्षा समिति, मेन्टीनेंस कमेटी, आपात व्यवस्था कमेटी का गठन किया है। ये सभी समितियां सामूहिक विवाह में शरीक होने वाले हर व्यक्ति की सुरक्षा-सुविधा का ध्यान रखेगी।

 आनंद का अनूठा समारोह- यह विवाह कहने को दिव्यांगों का सामूहिक विवाह है लेकिन इस समारोह में अपनत्व और सामाजिकता का इतना ध्यान रखा जाता है कि विवाह में उपस्थित हर परिजन, व्यक्ति, साधक और दानदाता के मन को छू जाएगा। बुजुर्ग-बड़े आशीर्वाद देते हैं तो युवाजन हंसी-खुशी से थिरकने को मजबूर।

अब तक 2109 जोड़ों की बसी गृहस्थी-  संस्थान 21 सालों से सामूहिक विवाह का आयोजन करता आ रहा है। अब तक 35 विवाह समारोह आयोजित हो चुके हैं। जिसमें 2109 जोड़े विवाह सूत्र में बंध चुके हैं। ज्ञात रहे कि 2020 कोरोना काल में भी विवाह समारोह सम्पन्न हुआ था।

महामारी के दौरान, एनएसएस ने जरूरतमंदों की मदद के लिए भोजन और मास्क वितरण शिविरों का आयोजन भी किया है। साथ ही, कृत्रिम अंग वितरण, राशन किट वितरण, पीपीई किट और कोरोना किट के साथ कई अभियान चलाए जा रहे हैं। संस्थान ने इस दौरान मुख्यमंत्री सहायता कोष में भी योगदान किया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios