गैंगस्टर राजू गैंग को खत्म कर ये शख्स बनना चाहता था राजस्थान का भायजी: 7 समुंदर पार से रची थी मर्डर की कहानी

| Dec 06 2022, 11:00 AM IST

  गैंगस्टर राजू गैंग को खत्म कर ये शख्स बनना चाहता था राजस्थान का भायजी: 7 समुंदर पार से रची थी मर्डर की कहानी

सार

राजस्थान के सबसे बड़े गैंगस्टर राजू ठेहट के मर्डर के बाद पुलिस इस मामले में कई खुलासे कर रही है। अब जांच में पता चला है कि ठेटह को मारने के लिए विदेश से रोहित गोदारा ने रची थी। रोहित ने हत्याकांड के बाद सोशल पर मर्डर की जिम्मेदारी भी ली थी।

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में शनिवार सुबह गैंगवार में हुई कुख्यात गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्या के मामले में आए दिन नए खुलासे हो रहे हैं। पुलिस मामले की मुख्य सूत्रधार तक पहुंच चुकी है। इस पूरे मामले में गैंगस्टर गोदारा का नाम सामने आ रहा है। गैंगस्टर रोहित गोदारा राजस्थान के बीकानेर जिले का ही रहने वाला है। जिसने राजस्थान में खुद को डॉन की गद्दी पर काबिज करने के लिए राजू ठेहट की हत्या की साजिश रची है। हालांकि पुलिस ने अभी तक इसकी कोई अधिकारिक पुष्टि नहीं की है। लेकिन हर एंगल से कड़ी रोहित गोदारा तक ही पहुंच रही है।

विदेश में बैठे-बैठे लेडी डॉन को पहुंचा दिए थे हथियार
गौरतलब है कि गैंगस्टर रोहित गोदारा पर हत्या डकैती जैसे करीब एक दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। रोहित गोदारा आनंदपाल और लॉरेंस गैंग का गुर्गा है। जिसने जयपुर में एक व्यापारी से 17 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी थी। हालांकि रोहित गोदारा बीकानेर से पवन नाम का फर्जी पासपोर्ट बनवा कर विदेश फरार हो गया। लेकिन उसकी राजस्थान का डॉन बनने की चाहत बिल्कुल भी कम नहीं हुई। इसीलिए उसने विदेश में बैठे-बैठे लेडी डॉन अनुराधा के खास गुर्गे मनीष के जरिए हत्याकांड में पकड़े गए बदमाशों तक हथियार भी पहुंचा दिए थे। हालांकि पुलिस अभी इस पूरे मामले में जुटी हुई है कि आखिरकार विदेशी हथियारों की सप्लाई यहां तक कैसे हुई। पुलिस सप्लाई से जुड़े लोगों की तस्दीक करने में लगी हुई है। वही सीकर में तीन आरोपियों को 7 दिन की रिमांड पर भेजा गया।

Subscribe to get breaking news alerts

राजस्थान का डॉन बनाने की चाहत में रची मर्डर की साजिश
गौरतलब है कि राजस्थान में गैंगस्टर आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद गैंगवार का नाम खत्म सा हो चुका था। चुनाव लड़ने के मकसद से राजू ठेठ में भी गैंगवार से अपना रिश्ता तोड़ दिया। इन दोनों के गुर्गे समाप्त हो चुके थे। एक ओर जहां आनंदपाल के भाई पुराने गैंगवार को बुलाकर अपने धन्नो में रख चुके थे। वही राजू ठेठ लगातार सीकर में अपने सोर्स बढ़ाकर चुनाव की तैयारी में था। बस इसी का फायदा रोहित गोदारा ने उठाया और खुद को राजस्थान का डॉन बनाने की चाहत में पूरी साजिश रच डाली। क्योंकि रोहित को पता था कि यदि वह गैंगस्टर राजू ठेहट का मर्डर भी करता है तो सीधा शक उस पर नहीं होगा। नाम सीधा लॉरेंस और आनंदपाल गैंग का ही होगा। इसी को लेकर रोहित गोदारा ने हत्याकांड के बाद अपने सोशल मीडिया पोस्ट पर आनंदपाल गैंग और लॉरेंस का भी जिक्र किया था।

यह भी पढ़ें-कौन था राजू ठेहट-कैसे दूध बेचते-बेचते बना राजस्थान का सबसे बड़ा गैंगस्टर, दोस्त से दुश्मन तक सब फिल्म जैसा

यह भी पढ़ें-24 जुलाई 2014 को रच दी गई थी राजू ठेहट के मर्डर की कहानी, जानें राजस्थान की जेल में उस दोपहर क्या हुआ था

यह भी पढ़ें-शूटआउट एट राजस्थान! दिनदहाड़े गैंगस्टर राजू ठेहट का मर्डर, गोलियों की तड़तड़ाहट ने पूरे शहर में मचाया हड़कंप

यह भी पढ़ें-गैंगस्टर राजू ठेहट मर्डर के बाद लॉरेंस ग्रुप ने लिखा-हमारे भाई की मौत का जिम्मेदार था, इसलिए खत्म कर दिया