Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में तेज रफ्तार का कहर: कार ने साइकिल पर जा रहे दो सगे भाइयों को 20 फीट हवा में उड़ाया, देखिए वीडियो

राजस्थान के हनुमानगढ़ जिलें में एक तेज रफ्तार कार ने दो सगे भाईयों को इतनी जोर से टक्कर मारी की दोनों पतंग जैसे हवा में उड़ गए। दोनों को गंभीर हालत में भर्ती कराया गया है। आरोपी कार ड्रायवर मौके से फरार हो गया था। देखिए खतरनाक वीडियो।

hanumangarh road accident news high speed car hit bicycle who were driven by two brother see video asc
Author
Hanumangarh, First Published Aug 19, 2022, 8:54 PM IST

हनुमानगढ़. राजस्थान में दो सगे भाइयों के सड़क हादसे का एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। हादसा इतना खतरनाक कि देखने वाले की रूह कांप जाए। साइकिल पर सड़क की तरफ जा रहे दो सगे भाइयों को एक तेज रफ्तार कार ने इस कदर टक्कर मारी कि दोनों हवा में करीब 20 फीट तक ऊपर उछले। इसके बाद कार ड्राइवर मौके से फरार हो गया। अब इस सड़क हादसे का यह वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

पतंग की तरह उड़े दोनो मासूम
घटना राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले की है। जहां फेफाना इलाके के जासना गांव के देवीलाल के दो बेटे सुरेंद्र और रोबिन दोनों शाम को घर से साइकिल लेकर अपने एक दोस्त के साथ निकले थे। जब वह दोनों वापस लौट रहे थे तो बड़ा भाई साइकिल चला रहा था तो छोटा भाई पीछे बैठा था। इसी बीच गांव के बाहर के एक पेट्रोल पंप से जब वह अपनी साइकिल को सड़क की तरफ लेने लगे तो एक साइड से आ रही तेज रफ्तार कार ने दोनों को उड़ा दिया। इसके बाद दोनों हवा में करीब 20 फीट तक उछले और सड़क किनारे झाड़ियों में गिर गए। यह हादसा देख उनका दोस्त साइकिल खड़ी कर दोनों के पास गया। इसी बीच नजदीक के ही पेट्रोल पंप के कर्मचारी भी मौके पर पहुंच गए। जिन्होंने दोनों घायल बच्चों को हॉस्पिटल पहुंचाया। गंभीर हालत में दोनों बच्चों को बीकानेर के लिए रेफर कर दिया गया है। जहां दोनों का इलाज जारी है। दोनों बच्चों के सिर में चोट और जगह-जगह फ्रैक्चर आए हैं। यह टक्कर मारने के बाद ड्राइवर फरार हो गया। ऐसे में पुलिस अब इलाके में लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गाड़ी की तलाश में जुटी हुई है। 

आरोपी अभी भी पकड़ से दूर
हादसे में घायल दोनों बच्चों के पिता ड्राइवर का काम करते हैं। घटना के बाद अभी तक के मामले में कोई भी पुलिस रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई है। परिजन बच्चों के इलाज में लगे हुए हैं। इस घटना को तक करीब 24 घंटे का समय बीत चुका है लेकिन पुलिस अभी तक गाड़ी की तलाश नहीं कर पाई है। गौरतलब है कि राजस्थान के कई शहरों में स्पीडोमीटर लगाए गए हैं इसके साथ ही पुलिस की गाड़ियां भी स्पीड के चालान करती है। लेकिन हनुमानगढ़ में इस हादसे के बाद इन सभी की पोल खुल कर सामने आई है।

यह भी पढ़े- जन्माष्टमी पर सीएम हेमंत सोरेन की रांची को सौगात... 666 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios