Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में एक और आतंकी संगठन की एंट्री, NIA की चार्जशीट में कई चौंकाने वाले खुलासे

राजस्थान में सोमवार के दिन हुई एनआईए की कार्यवाही में चौकाने वाला खुलासा हुआ है। यह जानकारी NIA ने अपनी रिपोर्ट में दी है। दरअसल राज्य में एक नए आतंकी संगठन की इंट्री की जानकारी बाहर आई है। आतंकी संदिग्ध जयपुर के साथ अन्य शहरों के खिलाफ साजिश रच रहे थे।

jaipur news new terrorist group enterd in rajasthan state report release by NIA investigation asc
Author
First Published Sep 23, 2022, 11:41 AM IST

जयपुर. एनआईए ने राजस्थान समेत देश के कई राज्यों में पीएफआई संगठन के खिलाफ एक्शन लिया है।  एक्शन के बाद राजस्थान समेत लगभग सभी राज्यों में एनआईए के खिलाफ संगठन के लोगों ने प्रदर्शन किया है । पीएफआई संगठन के बाद अब राजस्थान से एक और बड़ी खबर आ रही है खबर है कि राजस्थान में एक और आतंकी संगठन ने एंट्री की है।  इस संगठन के 11 आतंकियों के खिलाफ जब चार्जशीट पेश की गई तब जाकर इसका पूरा खुलासा हुआ है।  राजस्थान की पुलिस की मदद से एनआईए ने इन 11 आतंकियों को राजस्थान और एम पी से पकड़ा था । इन लोगों के पास बड़ी मात्रा में विस्फोटक सामग्री  भी बरामद हुई थी।  एनआईए की चार्जशीट में और भी कई चौकाने वाले खुलासे हुए हैं । 

30 मार्च को पकड़े गए थे आतंकी
 दरअसल एनआईए ने आतंकी इमरान खान  , आतिफ अतीक,  अमीन खान,  मोहम्मद अमीन पटेल,  सैफुल्लाह खान,  अल्तमश खान , जुबेर खान , मजहर खान,  फिरोज खान,  मोहम्मद यूनुस साकी और इमरान के खिलाफ चार्जशीट पेश की है। एनआईए की जांच में यह सामने आया है कि गिरफ्त में आए तमाम लोग आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए आतंक फैलाने के लिए गोला,  बारूद, हथियार और अन्य जानलेवा सामग्री लेकर राजस्थान आए थे।  30 मार्च को इन्हें राजस्थान के चित्तौड़ शहर में नाकाबंदी के दौरान पकड़ा गया था।  जब इन लोगों से पूछताछ हुई तो राजस्थान पुलिस ने इसकी सूचना एनआईए को दी थी और उसके बाद तमाम आतंकियों को एनआईए अपने साथ दिल्ली ले गई थी । इन आतंकी साजिशकर्ताओं ने खेत में और ज्यादा असलाह छुपा रखा था। उसे भी NIA ने बरामद किया है । जो गोला बारूद पकड़ा गया था, उसमें आईईडी केमिकल और अन्य विस्फोटक सामग्री थी।

तीन शहरों को दहलाने की थी साजिश 
यह यह लोग जयपुर समेत प्रदेश के तीन शहरों को दहलाने की साजिश रचने वाले थे। लेकिन इससे पहले ही सामान्य नाकाबंदी में यह लोग पकड़ लिए गए । 30 मार्च को निंबाहेड़ा में नाकाबंदी के दौरान जब इन लोगों को पकड़ा गया तो इनके पास से 12 किलो विस्फोटक बरामद हुआ था और बाकी अन्य विस्फोटक इन्होंने जयपुर से 10 किलोमीटर दूरी पर एक खेत में गाड़ दिया था। एनआईए की जांच में यह सामने आया है कि यह तमाम लोग आतंकी संगठन अल सूफा से जुड़े हुए हैं और एमपी और राजस्थान में एक साथ तबाही की तैयारी इन्होंने की है । 

मामला जब खुलकर सामने आया तो राजस्थान एटीएस ने अलसूफा आतंकी संगठन के मुख्य सरगना इमरान को गिरफ्तार किया।  जिसने अपने फार्म हाउस में तीन बोरों में विस्फोटक दबा कर रखा हुआ था । उसके बाद राजस्थान और एमपी से इस आतंकी संगठन से ताल्लुक रखने वाले आतंकी संदिग्धों की गिरफ्तारी शुरू हो गई । कुछ दिन बाद ही एनआईए ने इस केस की जांच पड़ताल शुरू कर दी थी और अब इस केस में चार्जशीट पेश की है।

यह भी पढ़े- दो दिवसीय बिहार दौरे पर शाह: 2024 के लिए बनाएं रणनीति, जानें नीतीश के अलग होने के बाद क्या है BJP का प्लान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios