Asianet News HindiAsianet News Hindi

गैंगस्टर के खिलाफ राजस्थान में NIA का सबसे बड़ा सर्च ऑपरेशन, क्यो पड़ रही रेड, क्या है पूरा मामला

राजस्थान सहित आसपास के 5 राज्यों में सोमवार की सुबह से एनआईए की रेड पड़ी है। इसके बाद से प्रदेश के गैंगस्टर्स में खलबली मची हुई है। वहीं इस मामले में शहरों के एसपी बोले नहीं दे सकते जानकारी बेहद कॉन्फिडेंशियल मामला है। वहीं कई बड़े गैंगस्टर फरार बताए जा रहे है।

jaipur news NIA raid on gangsters after Sidhu Moose Wala father got life threat asc
Author
First Published Sep 12, 2022, 6:47 PM IST

जयपुर. एनआईए यानि राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी ने पहली बार बड़े गैंगस्टर्स की तलाश में राजस्थान समेत आसपास के 5 राज्यों में रेड की है । यह रेड इतनी गोपनीय है कि लोकल पुलिस को भी इनपुट नहीं दिया गया है।  यहां तक कि पुलिस अधीक्षक  को इस बारे में जानकारी है उन्होंने भी जानकारी देने से इनकार कर दिया है। एनआईए ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान और एमपी में रेड डाली है। हालांकि कई बड़े गैंगस्टर फरार हैं और कुछ देश की बड़ी जेलों में बंद है।  लेकिन राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी एनआईए का मानना है कि जेलों से ही सिंडिकेट तैयार हो रही है और वहीं से बड़े-बड़े कांड को अंजाम दिया जा रहा है। 

सिद्धू मूसे वाला की हत्या के बाद पिता को मिल चुकी है धमकी
दरअसल पंजाब के नामी सिंगर सिद्दू मूसे वाला की हत्या के बाद पिछले दिनों उनके पिता को भी हत्या करने की धमकी मिल चुकी है । इस धमकी के बाद अब एनआईए और अन्य सुरक्षा एवं जांच एजेंसियों ने अपराध के सिंडिकेट को खत्म करने की कोशिश शुरू कर दी है । इसके लिए बड़े गैंगस्टर्स को निशाने पर रखा है । जिनमें लॉरेंस बिश्नोई ,नीरज बवाना, राजू जटेड़ी ,हरविंदर डा, दविंदर बबीहा  कौशल चौधरी ,टिल्लू ताजपुरिया, सुखप्रीत उर्फ बुध जैसे बड़े गैंगस्टर शामिल है।  साथ ही कुछ आतंकी भी एनआईए के निशाने पर हैं जो बड़ी वारदातों के बाद से गायब है । एनआईए को जानकारी मिली है कि अधिकतर बदमाश जो दिल्ली ,पंजाब, हरियाणा ,उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों से अपनी गैंग चलाते हैं, वह इन राज्यों में वारदात करने के बाद राजस्थान में जाकर छुपते हैं। 

इन जिलों में छुपते है बदमाश
राजस्थान में चूरू, बीकानेर , नागौर , जयपुर  समेत अन्य शहरों में शरण लेते हैं।  कुछ दिनों तक वही भूमिगत रहते हैं उसके बाद फिर से अपराध की दुनिया में आ जाते हैं।  हाल ही में सिद्धूमूसेवाला की हत्या के बाद भी राजस्थान के कई शहरों का कनेक्शन इस हत्याकांड से जुड़ा था, बताया गया था कि जयपुर की जेलों में सिद्धूमूसेवाला को मारने के लिए प्लानिंग की गई थी। उसके बाद चूरू, बीकानेर में उस बोलेरो गाड़ी को खरीदा और बेचा गया था, जिसमें सिद्धूमूसेवाला को मारने के लिए हथियार भेजे गए थे। हत्या करने के बाद हत्यारे जोधपुर, गंगानगर जैसे शहरों में छुप गए थे वहां से उन्हें गिरफ्तार किया गया था। 

गौरतलब है कि राजस्थान में हुई इस रेड के बारे में स्थानीय पुलिस अधीक्षक भी जानकारी देने से कतरा रहे हैं । एनआईए इन गिरोहों का विदेशी कनेक्शन भी तलाश रही है।  कई बड़े देशों से कनेक्शन होने के साथ ही पाकिस्तान से हथियारों का लेन देन का भी इनपुट एनआईए के पास है।

यह भी पढ़े- झारखंड में ईसाई मशीनरियों का खेल, प्रलोभन देकर ग्रामीणों से करवा रहे धर्म परिवर्तन, लोगों ने किया हंगामा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios