Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में दर्दनाक मामला: दलित छात्र ने स्कूल में मटकी से पानी पिया तो टीचर बना हैवान, पिटाई से मौत

इस मामले में राज्य के सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट कर मामले में दुख जताया है। उसी मटके से शिक्षक भी पानी पीते थे। शिक्षक को यह इतना नागवार गुजरा कि शिक्षक ने बच्चे को बुरी तरह पीटा उसे करीब 1 महीने तक अस्पताल में भर्ती कराया गया।

jalore news dalit student beaten dies due to thrashing of teacher for touching pot pwt
Author
jalore, First Published Aug 14, 2022, 7:52 AM IST

जालौर. राजस्थान के जालौर जिले में एक दर्दनाक मामला सामने आया है। यहां तीसरी कक्षा में पढ़ने वाले एक छात्र की निर्मम हत्या कर दी गई। दरअसल, छात्र ने स्कूल के सार्वजनिक मटके से अपनी प्यास बुझाने के लिए पानी पिया था। उसी मटके से शिक्षक भी पानी पीते थे। शिक्षक को यह इतना नागवार गुजरा कि शिक्षक ने बच्चे को बुरी तरह पीटा उसे करीब 1 महीने तक अस्पताल में भर्ती कराया गया।  लेकिन उसके बावजूद भी उसे नहीं बचाया जा सका। शनिवार दोपहर बच्चे की मौत हो गई।

आरोपी शिक्षक अरेस्ट
बच्चे की मौत के बाद अब सोशल मीडिया पर इस मामले को लेकर जमकर बवाल हो रहा है। भाजपा सांसद और दिग्गज नेता किरोड़ी लाल मीणा, सांसद हनुमान बेनीवाल समेत कई दिग्गज नेताओं और जनप्रतिनिधियों ने ट्वीट कर इस घटना पर प्रतिक्रिया दी है। वहीं, दूसरी तरफ उधर जालौर पुलिस ने आरोपी शिक्षक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है । 

20 जुलाई का है मामला
मामले की जांच कर रही सायला थाना पुलिस ने बताया कि सराणा गांव का यह पूरा घटनाक्रम है। तीसरी कक्षा का बच्चा इंद्र कुमार मेघवाल 20 जुलाई को स्कूल गया था।  उसने स्कूल में उस मटकी से पानी पी लिया था जिस मटकी से स्कूल के शिक्षक और सामान्य जाति के छात्र पानी पीते थे। इसकी सूचना जैसे ही स्कूल के शिक्षक छैल सिंह को मिली तो छैल सिंह ने छात्र को बुरी तरह से पीट दिया।  उसे इतना मारा कि उसे जालौर के अस्पताल में भर्ती कराया गया।  वहां से उसे बड़े अस्पताल के लिए रेफर किया गया तो उसके पिता उसे गुजरात के अहमदाबाद ले गए और वहां पर अस्पताल में भर्ती कराया।

 

 

25 दिन बाद मौत
वहां करीब 25 दिनों तक इलाज के बाद उसे राजस्थान के उदयपुर में स्थित एक अन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया। करीब 1 महीने तक बच्चे का इलाज चला लेकिन उसके बावजूद भी उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। पुलिस आरोपी शिक्षक चैन सिंह को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की जा रही है। उसके खिलाफ एससी एसटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। इस पूरे घटनाक्रम के बाद स्कूल ने भी जांच कमेटी बनाई है, जो उसकी पूरी रिपोर्ट तैयार कर स्कूल प्रबंधन को भेजेगी और इस रिपोर्ट को शिक्षा विभाग को सौंपा जाएगा।

सीएम ने जताया दुख
इस मामले में राज्य के सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट कर मामले में दुख जताया है। उन्होंने पीड़ित परिवार को 5 लाख रुपए देने की घोषणा की है। सीएम ने कहा- जालौर के सायला थाना क्षेत्र में एक निजी स्कूल में शिक्षक द्वारा मारपीट के कारण छात्र की मृत्यु दुखद है। आरोपी शिक्षक के विरुद्ध हत्या व SC/ST एक्ट की धाराओं में प्रकरण पंजीबद्ध कर गिरफ्तारी की जा चुकी है।

इसे भी पढ़ें- देश के रक्षा मंत्री ने राजस्थान को विदेशी हमलावरों से बचाने वाले शूरवीर की प्रतिमा का किया अनावरण

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios