Asianet News HindiAsianet News Hindi

क्या है खूंटी के पत्थलगड़ी का मामला, जिले में हुए ट्रिपल मर्डर से क्यो जुड़ रहे इसके तार

झारखंड के खूंटी जिले में बुधवार 31 अगस्त की रात हुए ट्रिपल मर्डर केस में पत्थलगड़ी के लोगों द्वारा वारदात को अंजाम देना माना जा रहा है। हालाकि इस मामले में पुलिस ने अभी तक कोई  खुलासा नहीं किया है। वहीं इस घटना की जांच के लिए एसएसपी ने SIT का गठन किया है।

khunti news triple murder case suspect is Pathalgarhi supporter police creat SIT to investigate case asc
Author
First Published Sep 3, 2022, 7:16 PM IST

खूंटी (झारखंड). झारखंड के खूंटी जिले में 31 अगस्त की रात हुए ट्रिपल मर्डर के पीछे कुछ लोग लोग पत्थलगड़ी समर्थकों का हाथ बता रहे हैं। मृतक की बेटी ने भी कहा है कि उनके परिवार वालों पर पत्थलगड़ी समर्थक दबाव बना रहे थे। उनकी बात नहीं मानने पर ही तीन लोगों की हत्या कर दी गई। बता दें कि तीन साल पहले तक जिले में समानांतर सरकार चलाने वालों की हुकूमत थी और पत्थलगड़ी समर्थक लोग जिले में खुद का एक देश स्थापित करने वाले थे। जगह-जगह पत्थर गाड़ कर, उसमें संविधान की गलत व्याख्या कर लोगों को दिग्भ्रमित करने का काम किया करते थे। लेकिन, पुलिस की सख्ती के बाद जिले में इनकी हुकूमत खत्म हो गयी। बावजूद जिले के सुदूर इलाकों में इसकी सुगबुगाहट रही। लेकिन, कभी सामने नहीं आए। खूंटी की घटना के बाद ये लगने लगा है कि अब भी जिले में सरकार विरोधी गतिविधियां हैं। दूरस्थ इलाकों के ग्रामीण कुंवर केश्री सिंह को ही अपनी सरकार मानते हैं। इन्हें देश के संविधान से कोई लेना देना नहीं है। 

khunti news triple murder case suspect is Pathalgarhi supporter police creat SIT to investigate case asc

एक दूसरे के विरोधी है पत्थलगड़ी समर्थक और गैर समर्थक 
22 घरों वाला आदिवासी बहुल कोदेलेबे गांव अति नक्सल प्रभावित है,इस कारण यहां विकाृस नहीं हो पाया है और यहां के लोग उबड़-खाबड़ पगडंडियों से चलकर आते-जाते हैं। जानकारी के अनुसार गांव के 7 परिवार पत्थलगड़ी समर्थक कुटुंब परिवार से जुड़े हैं। वे ग्राम प्रधान और उसके परिवार पर कुटुंब परिवार में शामिल होने का दबाव बना रहे थे लेकिन, वे उनके दबाव में नहीं आए। पत्थलगड़ी समर्थक और गैर पत्थलगड़ी समर्थक के बीच किसी तरह के सामाजिक कार्यक्रमों में भागीदारी नहीं होती। क्योंकि ये लोग 'हेवन्स लाईट गाइड' 'ऐसी भारत सरकार' 'ऐसी कुंवर सिंह केश्री सिंह भारत सरकार' कुटुंब परिवार को मानते हैं। 

पुलिस ने मामले का अब तक नहीं किया खुलासा
खूंटी में हुए ट्रिपल मर्डर की गुत्थी सुलझाना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती मानी जा रही है। खूंटी के अड़की थाना अंतर्गत मदहातु के टोला कोदेलेबे में बुधवार की रात पिता, पुत्र और बहु की हत्या की गई। हत्या के 40 घंटे बाद पुलिस ने शवों को कब्जे में ले लिया। कारणों का खुलासा अब तक नहीं हो सका है। 

एसएसपी ने बनाई एसआईटी, पत्थलगड़ी समर्थक पर शक
खूंटी में तीन लोगों की हत्या का खुलासा करने के लिए एसपी अमन कुमार ने डीएसपी अमित कुमार के नेतृत्व में एक एसआइटी बनाई है, जिसमें अड़की और सायको थाना की टीम शामिल है। मामले में टीम ने जांच शुरू कर दी है। आशंका जताई जा रही है कि पत्थलगड़ी समर्थकों ने ग्राम प्रधान और उनके परिजनों की हत्या को अंजाम दिया है। हालांकि, पुलिस अभी इस मामले में कुछ भी नहीं बोल रही है।

यह भी पढ़े- गंगा में मौत के साथ खत्म हुई दोस्ती: 4 दोस्तों में से एक की मिली लाश, बाकी का तो शव तक नहीं मिला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios