Asianet News HindiAsianet News Hindi

IIT-JEE Result: राजस्थान के मृदुल ने देश में किया टॉप, यूं शुरुआत से अंत तक डटे रहे , पढ़िए कामयाबी की कहानी

आईआईटी-जेईई एडवांस्ड 2021 (IIT- JEE Advanced) की प्रवेश परीक्षा में जयपुर (Jaipur) के मृदुल अग्रवाल (Mridul Agrawal) ने ना सिर्फ टॉप किया, बल्कि अब तक का सबसे ज्यादा स्कोर बनाकर इतिहास रच दिया है। मृदुल ने एडवांस्ड में 360 में से 348 अंक (96.66%) प्राप्त किए और पहला स्थान हासिल किया। उन्होंने मार्च जेईई-मेन में 300 में से 300 अंक प्राप्त किए।

Mridul Agarwal of Jaipur secured All India First Rank in IIT-JEE Advanced Result and studied in Kota by coaching
Author
Jaipur, First Published Oct 16, 2021, 12:18 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर। आईआईटी-जेईई एडवांस्ड 2021 (IIT-JEE Advanced Result) का शुक्रवार को रिजल्ट आ गया है। इसमें जयपुर (Jaipur) के मृदुल अग्रवाल (Mridul Agrawal) ने इतिहास रच दिया है। उन्होंने प्रवेश परीक्षा में ना सिर्फ ऑल इंडिया फर्स्ट रैंक हासिल की, बल्कि अब तक के सबसे ज्यादा नंबर प्राप्त किए हैं। मृदुल ने 360 नंबर में से 348 अंक पाकर ऑल इंडिया रैंक में पहला स्थान पाया। उन्होंने 96.66 प्रतिशत प्राप्त किए।  मृदुल धुन के पक्के माने जाते हैं। वे अब क्रिएटिविटी के आधार पर अपना स्टार्टअप शुरू करना चाहते हैं। 

मृदुल जयपुर के रहने वाले हैं और 4 साल तक कोटा में रहकर कोचिंग से पढ़ाई की। वे कहते हैं कि खुद पर भरोसा रखना जरूरी है। असंभव कुछ भी नहीं है। रिकॉर्ड बनाने या तोड़ने के लिए खुद को तैयार करना होगा। रणनीति और उसी के अनुसार काम करने से सफलता जरूर मिलती है। साथ ही अपने खुद पर पूरा भरोसा रखें। मृदुल ने जेईई-मेन 2021 में AIR-1 प्राप्त किया। उन्होंने जेईई-मेन मार्च में 300 में से 300 अंक प्राप्त किए। जबकि फरवरी में भी उन्होंने 100 पर्सेंटाइल हासिल किया है।

JEE Advanced 2021: IIT JEE एडवांस 2021 का रिजल्ट जारी, मृदुल अग्रवाल ने किया टॉप, ऐसे चेक कर सकते हैं परिणाम

रोजाना टारगेट तय करता, वो खत्म करके ही सोता हूं...
मृदुल कहते हैं कि पिछले 4 साल से कोटा में पढ़ रहा हूं। 100 पर्सेंटाइल को लेकर कोशिश सफल हो गई। जेईई-एडवांस्ड में अच्छे रिजल्ट की उम्मीद थी। वो भी मिल गया। मैं रोजाना टारगेट लेकर पढ़ाई करता हूं और उस दिन वो टॉपिक खत्म करके ही सोता हूं। सुबह की भी तैयारी रहती है कि अगले दिन क्या पढ़ाई करनी है और किस पर फोकस रखना है। योजनाबद्ध तरीके से पढ़ाई करना अच्छा लगता है। रोजाना 6 से 8 घंटे तक सेल्फ स्टडी हो जाती है।

आईआईटी बॉम्बे से कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करना चाहता
मृदुल कहते हैं कि लॉकडाउन के दौरान समय का बहुत ज्यादा सदुपयोग किया। टीचर्स का मुझे लगातार घर बैठे मार्गदर्शन मिलता रहा। घर बैठकर ही ऑनलाइन पढ़ाई की। इसका बहुत ज्यादा लाभ मिला। इसके साथ ही ऑनलाइन पढ़ाई में अन्य साथी स्टूडेंट्स का साथ मिला तो डाउट इंटरेक्शन और बढ़ गया। अब आगे आईआईटी बॉम्बे से कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करना चाहता हूं। आगे खुद का स्टार्टअप शुरू करना चाहता हूं।

JEE main result 2021: NTA ने जारी किया जेईई मेन्स का रिजल्ट, 44 उम्मीदवारों ने हासिल किया 100 पर्सेंटाइल

लक्ष्य के लिए हरसंभव कोशिश करते रहना चाहिए...
मेरी तैयारी और सफलता के पीछे कम्पटीशन के माहौल की बहुत बड़ी भूमिका है। मेहनत करता रहा। सफलता के लिए पूरी तरह संकल्पित था। आज एक अविश्वसनीय उपलब्धि हासिल की। मृदुल का कहना था कि स्टडी के लिए एक लक्ष्य निर्धारित करना जरूरी है और इसे पाने के लिए एक हरसंभव कोशिश करते रहना चाहिए। वे अपने स्किल इनोवेशन के जरिए एक स्टार्टअप शुरू करना चाहते हैं। 

मूवी देखना पसंद करते हैं मृदुल
मृदुल के पिता प्रदीप अग्रवाल एक प्राइवेट फर्म में अकाउंट्स मैनेजर हैं। उनकी मां पूजा अग्रवाल गृहिणी हैं। मुझे सालभर मां और शिक्षकों ने खूब मोटिवेट किया।  मृदुल मूवी देखना पसंद करते हैं।

मृदुल ने ये उपलब्धियां भी हासिल कीं...
इससे पहले मृदुल ने कक्षा 10 में 98.2 प्रतिशत और कक्षा 12 में 98.66 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। जेईई-मेन में टॉपर होने के साथ-साथ BITSAT (बिटसेट) में 428 अंक पाए। मृदुल एनटीएसई स्कॉलर (NTSE) हैं और उन्होंने KVPY में ऑल इंडिया पहली रैंक हासिल की। कक्षा ११ और १२ में OCSC कैंप फॉर फिजिक्स के लिए चयनित हुए।  कक्षा 12वीं में OCSC कैंप फॉर एस्ट्रोनॉमी के लिए हुआ था। इसके अलावा, IOQP, IOQC, IOQA और IOQM के लिए भी चयनित हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios