Asianet News HindiAsianet News Hindi

10 लग्जरी कारों से भी महंगा है ये घोड़ा, जिसे अंबानी परिवार ने खरीदा...अमीरों की तरह है इसकी स्पेशल डाइट

राजस्थान के पुष्कर का मेला पूरी दुनिय में फेमस है। जिसे देखने के लिए विदेशी तक आते हैं। इसके अलावा यहां पर बिकने के लिए ऐसे खास पशु आते हैं जिनकी कीमत करोड़ों में होती है। एक साल पहले देश के सबसे अमीर परिवार कहे जाने वाले अंबानी परिवार ने भी यहीं से करोड़ों रुपए चुकाकर एक बेहद खास घोड़ा खरीदा था।

pushkar fair 2022 this horse is Mukesh Ambani family bought for crores know what is so special about it kpr
Author
First Published Nov 8, 2022, 3:26 PM IST

अजमेर. राजस्थान में पुष्कर मेला परवान पर है। आज कार्तिक पूर्णिमा पर बड़ी संख्या में पुष्कर तीर्थ पर स्नान कर लोग पुण्य कमा कर रहे हैं। पशु मेले के रुप में फेमस पुष्कर मेले में इस बार लंपी रोग के कारण पशु नहीं आ सके लेकिन हम आपको बताते हैं कि जब पिछले साल यह मेला लगा तो यहां पर एक घोड़ा कितने रुपए में बिका था। यह घोटा दुनिया शीर्ष कुबेरों में से एक अंबानी परिवार ने लिया है। अंबानी परिवार के लेने के बाद आप खुद ही अंदाजा लगा सकते हैं ये घोड़ा कितने में बिका इस घोडे का नाम शमशेरा है और इसे अंबानी परिवार ने खरीदा है।

जानिए क्यों इतना कीमती और दुर्लभ है ये घोड़ा
 अजमेर निवासी घोडे के मालिक अनुपम उर्फ बंटी टंडन ने बताया कि घोडा मारवाड़ी नस्ल का काठियावाड़ी घोडा है। इसलिए बेहद कीमती है क्योंकि इसकी नस्त दुर्लभ है। यह अंबानी परिवार में दाना नाम के घोडे का बेटा है। टंडन स्डट फार्म चलाने वाले बंटी का कहना है कि घोडे़ की कीमत करीब सवा करोड़ से भी ज्यादा रखी थी हमने, 2021 में इसे लेकर आए थे पुष्कर...। बेचना नहीं था सिर्फ प्रदर्शन के लिए लाए थे।

बेचने का नहीं था मन...लेकिन अंबानी परिवार को देने से नहीं रोक सका
घोड़ा मालिक ने बताया कि अंबानी परिवार के यहां से इसे लेने की बातचीत हुई तो हमने इसे दे दिया। शमशेरा का पिता दाना भी अंबानी परिवार में गया था और वह हमारे यहां से ही लिया गया था पिछले कुछ साल पहले.....। पता चला कि दाना की मौत पिछले दिनों किसी कारण से हो गई। उसकी मौत होने पर अंबानी परिवार बेहद दुखी हुआ। चूंकि अंबानी परिवार दुनिया का सम्मानीय परिवार है... इसलिए वहां से आई क्वायरी के बाद हम मना नहीं कर सके.....। 

बेहद खास घोड़े शमशेरा की डाइट 
टंडन ने बताया कि हर महीने पचास हजार रुपए करीब का खर्च आता था शमशेरा पर, चावल, ज्वार, बाजार, कुट्टी और अन्य तरह के अनाज, फल, सब्जियां तो हर कोई देता है.... ।हमने भी दी, लेकिन नस्ल का ध्यान रखने के लिए सात तरीके के अन्य फूड सप्लीमेंट भी उसे दिए। वह चैम्पियन नस्ल का हॉर्स रहा है.... खुशी है कि अच्छे घर में गया है जहां उसका ध्यान रखा जाएगा......। बंटी ने बताया कि वे तेरह साल से स्टड फार्म संभाल रहे हैं....। यह उनका पैशन और कारोबार दोनो ही है। अब वे एक करोड़ पचास लाख रुपए कीमत का हॉर्स तैयार कर रहे हैं.... जिसे इस साल राजस्थान में लगने वाले एक मेले में उतारा जाएगा....।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios