Asianet News HindiAsianet News Hindi

Asaram की बिगड़ी तबीयत, AIIMS के आईसीयू में कराया गया भर्ती..डॉक्टर बोले-अगले 48 घंटे बेहद अहम

आसाराम के यूरिन इंफेक्शन के कारण पांच दिन से बुखार आ रहा है। जिसे देखते हुए उन्हें जोधपुर एम्स में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों का कहना है कि उसकी हालत स्थिर बनी हुई है।

rajasthan asaram admitted to jodhpur aiims hospital after health complaint problem for five days due to urine infection
Author
Jodhpur, First Published Nov 7, 2021, 8:46 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जोधपुर (राजस्थान). गुरुकुल की नाबालिग छात्रा के यौन उत्पीड़न मामले में सेंट्रल जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे आसाराम (Asaram) की तबीयत एक बार फिर बिगड़ गई है। उन्हें जोधपुर के एम्स (jodhpur aiims) अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों की निगरानी में वह आईसीयू में एडमिट हैं। जिन पर विशेषज्ञ लगातार निगरानी बनाए हुए हैं।

अगले 48 घंटे तक ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा
दरअसल, आसाराम के यूरिन इंफेक्शन के कारण पांच दिन से बुखार आ रहा है। जिसे देखते हुए उन्हें जोधपुर एम्स में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों का कहना है कि उसकी हालत स्थिर बनी हुई है। इंफेक्शन का असर कम होने और जांच करने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। इसलिए आसाराम को अगले 48 घंटे तक ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा।

पिछले कई दिन से बुखार से पीड़ित है आसाराम
 मिली जानाकारी के मुताबिक, आसाराम को एम्स की ओपीडी में ले जाया गया है। जहां उनकी यूरोलॉजी और अन्य विभाग से जुड़ी जांच की गई। लंग्स में संक्रमण की पुष्टि होने के बाद डॉक्टर ने भर्ती करने का निर्णय लिया है। क्योंकि वह पिछले कई दिन से बुखार से पीड़ित हैं।

जेल से अस्पताल लगी भक्तों की भीड़
आसाराम की तबीयत बिगड़ने की खबर मिलते ही उनके भक्त जुटने लगे। जैसे ही उन्हें शनिवार को जेल से बाहर लाया गया तो उनके भक्तों की बड़ी संख्या में भीड़ जमा हो गई। पहले जेल के बाहर फिर एम्स के बाहर अधिक संख्या में लोग एकत्रित हुए। पुलिस को भीड़ को नियंत्रण करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।

आए दिन होती है तबीयत खराब
पहले से ही आसाराम को कई बीमारियां हैं, उनके घुटने काम नहीं कर रहे हैं। बीपी की बीमारी है और बेचैनी भी होती रहती है। इससे पहले दो माह पूर्व भी एम्स में भर्ती कराया गया था। इसके बाद जांच के लिए तीन बार उसे एम्स लाया जा चुका है। वहीं मई के महीने में भी तबीयत खराब हुई थी। जहां आसाराम का ऑक्सीजन लेवल कम हो गया था। इस दौरान वह  सिर्फ आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति से ही इलाज करवाने पर अड़ गए थे। जिसक बाद आयुर्वेद यूनिवर्सिटी से डॉक्टर अरुण त्यागी को बुलाया गया और इलाज शुरू किया गया। फिर वहां से डिस्चार्ज कर वापस सेंट्रल जेल भेज दिया गया था।

रेप सहित कई केस में अपराधी आसाराम
बता दें कि साल 2013 में एक नाबालिग लड़की ने जोधपुर के पास मनाई आश्रम में आसाराम पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। 31 अगस्त 2013 को उन्हें मध्य प्रदेश के इंदौर से गिरफ्तार किया गया। आसाराम पर पोस्को, रेप, जुवेनाइल जस्टिस एक्ट, आपराधिक षड़यंत्र सहित दूसरे केस दर्ज हैं। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios