Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में नौकरी की बड़ी भर्ती परीक्षा: एग्जाम के लिए उतारने होंगे गहने-जैकेट-सूट और जूते चप्पल, पढ़ें नियम

राजस्थान में 12 और 13 नंवबर को प्रदेश की बड़ी यानि सरकारी वनरक्षक परीक्षा का आयोजन है।  सभी जिलों में इस परीक्षा को लेकर तैयारियां की गई हैं।  राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने स्टूडेंट के लिए परीक्षा देने के लिए खास गाइडलाइन भी जारी की हुई है। अगर इसका पालन नहीं किया गया तो वह एग्जाम नहीं दे पाएंगे।

rajasthan forest guard recruitment exam 2022  about 20 lakh candidates will test exam  kpr
Author
First Published Nov 12, 2022, 1:40 PM IST

जयपुर. राजस्थान में आज बड़ी सरकारी भर्ती परीक्षा है। यह आज से शुरु होकर कल शाम तक चलेगी। यानि आज और कल दो दिन कई पारियों यह एग्जाम होगा। परीक्षा में हर एक सरकारी पद के लिए 700 से भी ज्यादा बेरोजगार लाइन में हैं। यानि आपकी मेहनत के अलावा आपकी किस्मत को भी आपका साथ देना ही होगा... तब जाकर आप सरकारी नौकर बनेंगे। यह परीक्षा है वन रक्षक भर्ती परीक्षा.... पूरे प्रदेश के लगभग सभी जिलों में इस परीक्षा को लेकर तैयारियां की गई हैं और अधिकतर जिलों में सेंटर दिए गए हैं। 

राजस्थान वन रक्षक भर्ती परीक्षा आज और कल चार पारियों में होगीं 
दरअसल राजस्थान में वन रक्षक भर्ती परीक्षा चल रही है। सवेरे दस बजे से बारह बजे और दोपहर ढाई बजे से साढ़े चार बजे तक यह परीक्षा होनी हैं। आज पहली पारी की परीक्षा हो चुकी है। अन्य सरकारी भर्तियों की तरह ही ड्रेस कोड को लागू किया गया है और उसे फॉलो नहीं करने वालों को परीक्षा देने में कठिनाई हो रही है। भर्ती 23000 पदों के लिए हो रही है और इसमें आवेदन करने वाले बेरोजगारों की संख्या 16 लाख चार हजार से भी कहीं ज्यादा है।  परीक्षाा में शामिल होने वाले भ्यर्थियों को पहले ही हिदायत दी गई है कि वे सूट, मफलर, जैकेट, बंद सूट, टाइ्र, शॉल, चादर ओढ़कर नहीं आएं। महिलाएं बालों में सिर्फ रबर या साधारण हेयर पिन लगाकर आएं। हवाई चप्पल या स्लीपर पहनना ही परीक्षा में अलाउु है और पहनावे में आधी आस्तीन की कमीन और महिलाओं के लिए आधी आस्तीन का कुर्ता या ब्लाउज शामिल है।  

कपडे और जूते उतरवाकर ही अंदर प्रवेश
परीक्षा कराने वाली सरकारी एजेंसी का कहना है कि जेवर, जडाउ पीन, कोट, ब्लेजर, अन्य फैंसी जूते चप्पल, ऐसे पहनकर आने वालों को बाहर ही रोक दिया गया है। कपडे और जूते उतरवाकर ही अंदर प्रवेश दिया गया है। ड्रेस कोड के हिसाब से ही प्रवेश दिया जा रहा है फिर चाहे वह कोई भी हो....। परीक्षा में शामिल होने के लिए राजस्थान रोडवेज ने लगभग हर जिले में अस्थायी डिपो बनाए हैं। कई जिलों में अतिरिक्त बसों का बंदोबस्त किया गया है। पूरे प्रदेश में पुलिस का अतिरिक्त इंतजाम भी किया गया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios