Asianet News HindiAsianet News Hindi

क्या राजस्थान में गिरने वाली है गहलोत सरकार, विधायक के बयान के बाद मचा हड़ंकप...CM के सलाहकार ने दिया बयान

कांग्रेस अध्यक्ष की रेस में सबसे आगे चल रहे अशोक गहलोत के बाद राजस्थान में नए सीएम को लेकर तकरार जारी है। इसी बीच विधायकों की गुटबाजी सामने आने लगी है। सीएम के सलाहकार संयम लोढ़ा का कहना है कि अगर आलाकमान विधायकों का फैसला नहीं मानता तो राजस्थान सरकार गिर भी सकती है। 
 

rajasthan politics conflict in congress over new cm in mlas for post of chief minister ashok gehlot kpr
Author
First Published Sep 25, 2022, 6:53 PM IST

जयपुर. राजस्थान की राजनीति में भूचाल मचा हुआ है।  इस भूचाल को काबू करने के लिए दिल्ली से 2 बड़े नेता जयपुर पहुंचे हैं।  वे आज शाम 7:00 बजे बाद में सीएमआर में राजस्थान के विधायकों की बैठक लेंगे । इस बैठक में कांग्रेसी विधायक नेता और अन्य पदाधिकारी शामिल होंगे । यह बैठक राजस्थान के  भावी मुख्यमंत्री को लेकर बेहद महत्वपूर्ण बताई जा रही है । इस बैठक में गुटबाजी भी देखने को मिल रही है और इस बैठक से पहले ही राजस्थान सरकार के एक विधायक ने बड़ा बयान देकर सबको चौंका दिया है। 

7 बजे होने वाली बैठक से पहले ही बड़ा बयान
 अक्सर बयानों में रहने वाले विधायक और सीएम के सलाहकार संयम लोढ़ा का कहना है कि अगर आलाकमान विधायकों का फैसला नहीं मानता तो राजस्थान सरकार गिर भी सकती है। संयम लोढ़ा समेत अन्य कई विधायक और मंत्री आज शाम 5:00 बजे बाद यूडीएच मिनिस्टर शांति धारीवाल के जयपुर आवास पर पहुंचे हैं । बताया जा रहा है कि शाम 7:00 बजे होने वाली बैठक में यह सभी लोग यहीं से एक बस में रवाना होकर एक साथ जाएंगे । सभी विधायक और मंत्री मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के समर्थक बताए जा रहे हैं ।

दोपहर बाद टेंट लगाने वाले पहुंचे फिर बस आई , इस बीच नेताओं की गाड़ियां पहुंचती रही 
राजस्थान में यूडीएच मिनिस्टर शांति धारीवाल को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बेहद करीबी और दबंग नेता माना जाता है । शांति धारीवाल के सरकारी आवास पर आज दोपहर तक शांति थी।  लेकिन दोपहर बाद अचानक आवास में स्थित लोन पर टेंट लगाने वाले पहुंचे।  उसके बाद नेताओं की गाड़ी आना शुरू हुई । शांति धारीवाल के घर पर निर्दलीय विधायक महादेव सिंह खंडेला,  गोपाल मीणा , वरिष्ठ विधायक राजेंद्र पारीक।  महेंद्र चौधरी,  रामलाल जाट , महेश जोशी,  नगराज मीणा,  जेपी चंदेलिया , दीपक खेरिया ,गोविंद राम मेघवाल, संयम लोढ़ा, मंजू मेघवाल, भजन लाल जाटव , अर्जुन बामणिया , रामलाल जाट , राजेंद्र पारीक , सुभाष गर्ग , भजन लाल जाटव,  विधायक अमीन खान , अशोक चांदना , प्रीति शक्तावत,  अमित चाचान समेत अन्य विधायक और मंत्री पहुंचे हैं। 

अशोक गहलोत के सलाहकार हैं  संयम लोढ़ा....
 संयम लोढ़ा मुख्यमंत्री के सलाहकार हैं। मीडिया को जब पता चला कि शांति धारीवाल के घर पर अचानक बैठक बुलाई गई है तो मीडिया वहां जमा हुआ । मीडिया से बातचीत के दौरान शांति धारीवाल के घर के बाहर मुख्यमंत्री के सलाहकार संयम लोढ़ा ने कहा कि अगर आलाकमान हमारी बात नहीं मानता तो राजस्थान सरकार गिर भी सकती है। लोढ़ा ने कहा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 4 बजट पेश कर चुके हैं । पांचवा बजट भी उन्हें पेश करना होगा ।  राजस्थान की कांग्रेस को उनके जैसा व्यक्तित्व मिलना असंभव है ।

विधायक दल की बैठक में होगा मुख्यमंत्री का फैसला
 उल्लेखनीय है कि ये तमाम नेता वह है जो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कैंप के हैं । हालांकि बहुत से नेता फिलहाल शांति धारीवाल के घर पहुंचने की जगह सीधे पहुंचने की बात कर रहे हैं । आज शाम 7:00 बजे दिल्ली से आए 2 पर्यवेक्षक अजय माकन और मल्लिका अर्जुन खड़के राज राजस्थान के विधायक और मंत्रियों की बैठक लेंगे और विधायक दल की बैठक में आने वाले भावी मुख्यमंत्री के बारे में चर्चा होना तय  होगी।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios