Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में बरसात में बहे किसानों के अरमान, अब खेती के लिए कर्ज चुकाने का सता रहा डर

राजस्थान में लौटकर आए मानसून ने भले की साल भर से ऊपर की प्यास बुझाने का काम कर दिया हो, लेकिन उसने अब किसानों के लिए मुसीबत खड़ी कर दी है। खेतों में खड़ी बाजरा, मक्का, ज्वार सहित कई फसलें इससे तबाह हो गई। अब किसानों द्वारा खेती के लिए कर्ज को चुकाने की चिंता सताने लगी है।

rajasthan weather news due to heavy rainfall many crops destroyed villagers in tension how to pay loan asc
Author
First Published Sep 23, 2022, 10:48 AM IST

जयपुर. राजस्थान में लौटकर आए मानसून ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है। दो दिन से हो रही बरसात से कई जिलों में बाजरा, ज्वार, मक्का, सरसों की फसल खराब हो गई है। वहीं, इस बरसात से रबि की फसल की बुवाई भी अब देरी से होगी। टोंक, कोटा, सीकर, अलवर व भरतपुर सहित कई जिलों में तो बरसाती पानी में काटकर रखी फसलें ही बह गई। खेतों में पानी भरा होने से कृषि संबंधी पूरा काम ही चौपट हो गया है। प्रदेश के हजारों हैक्टेयर में हुए नुकसान के बाद किसानों ने सरकार से मुआवजे की मांग भी उठाई है। 

कैसे चुकेगा कर्ज, कैसे होगी बच्चों की शादी
बरसात से प्रदेश के कई किसानों के सपने भी धुल गए हैं। कर्ज लेकर खेती कर रहे टोंक के किसान रामलाल ने बताया कि उसने 4 लाख रुपए का फसली ऋण लिया था। बड़ी उम्मीद से उसने फसल भी बोई थी लेकिन, देरी तक जारी मानसून की बरसात ने उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया। उसके 20 बीघा खेत में खड़ी बाजरे व ज्वार की फसल बह गई। इसी तरह सीकर के टोडा निवासी किसान पप्पु लाल ने बताया कि फरवरी महीने में उसकी बेटी की शादी है। उसे अपनी फसल की बिक्री से ही शादी की उम्मीद थी। लेकिन, बुधवार व गुरुवार की बारिश ने उसकी सारी फसल चौपट कर दी। 

राजस्थान में दो दिन और रहेगा बारिश का दौर
इधर, मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में बारिश का दौर आगामी दो दिनों तक और जारी रहेगा। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार बंगाल की खाड़ी में नया निम्न दबाव का क्षेत्र विकसित होने की वजह से प्रदेश में मानसून फिर सक्रिय हुआ है, जिसका असर आगामी दो दिन तक और रहेगा। इससे प्रदेश में मेघ गर्जन व वज्रपात के साथ हल्की तो कहीं मध्यम व तेज बारिश जारी रहेगी। जो मुख्यत: पूर्वी राजस्थान में होगी। इसके बाद बरसात की गतिविधियां कम होना शुरू हो जाएगी।

शुक्रवार के लिए इन जिलों में हल्की से भारी बारिश का अलर्ट
मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार आज पूर्वी राजस्थान के अलवर, बारां, बूंदी, चित्तौडगढ़़, दौसा, धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर और टोंक जिलों में मेघ गर्जन और वज्रपात के साथ भारी बारिश हो सकती है। जबकि अजमेर, भरतपुर, भीलवाड़ा, जयपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, कोटा व सीकर जिलों में मेघ गर्जन व वज्रपात के साथ हल्की बारिश होने का अनुमान है। इसमें तत्कालिक अनुमान के मुताबिक जयपुर, जयपुर शहर, अजमेर, झुंझुनूं, सीकर, टोंक, अलवर ,दौसा, कोटा,टोंक, सवाईमाधोपुर बूंदी, बारां, झालावाड़ तथा चूरू  जिलों और आसपास के क्षेत्रों में आगामी तीन घंटों में  कहीं-कहीं मेघगर्जन के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

यह भी पढ़े- राजस्थान के इस किसान ने गायों के लिए जो किया, उसके लिए लोहे का कलेजा चाहिए, कई बीघा में खड़ी फसल कर दी दान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios