Asianet News Hindi

5 माह के बच्चे को गोद में लिए ड्यूटी जातीं महिला SDM, पॉजिटिव हुईं तो बोलीं-फर्ज से बड़ा कुछ नहीं

यह कहानी है अजमेर जिल के भिनाय उपखंड अधिकारी संजू मीणा की। जिनकी शनिवार के दिन रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। लेकिन इससे पहले वह शुक्रवार तक अपना फर्ज निभाते हुए ड्यूटी पर थीं। जबकि उनकी पांच महीने पहले ही डिलीवरी हुई है। वो अपने बच्चे को गोद में लेकर ड्यूटी पर जाती थीं। 

salute to rajasthan bhinay SDM Sanju Meena inspirational story of corona warriors kpr
Author
Ajmer, First Published Apr 25, 2021, 1:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अजमेर (राजस्थान). कोरोना जिस तरह से तांडव मचा रहा है उससे हर कोई डर-सहमा सा है। घरों मे रहकर भी लोग खौफ में जी रहे हैं। वहीं  कोरोना के खिलाफ जारी इस लड़ाई में महिला पुलिसकर्मी खुद को खतरे में डालकर पूरी मुस्तैदी के साथ ड्यूटी कर रहीं हैं। वह तपती दुपहरी में सड़कों पर तैनात हैं। ऐसी ही एक फर्ज और जज्बे की कहानी राजस्थान के अजमेर से सामने आई है। जहां एक महिला  SDM अपने पांच महीने के बच्चे को गोद में लेकर ड्यटी कर रहीं थीं। लेकिन वह पॉजिटिव हो गईं, इसके बाद भी उन्होंने अपना हौसला बनाए रखा। कहा में जल्द ही लौटूंगी और दूसरों की रक्षा करूंगी।

ऐसे कोरोना की शिकार हो गईं SDM
दरअसल, यह कहानी है अजमेर जिल के भिनाय उपखंड अधिकारी संजू मीणा की। जिनकी शनिवार के दिन रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। लेकिन इससे पहले वह शुक्रवार तक अपना फर्ज निभाते हुए ड्यूटी पर थीं। जबकि उनकी पांच महीने पहले ही डिलीवरी हुई है। वो अपने बच्चे को गोद में लेकर ड्यूटी पर जाती थीं। बता दें कि कुछ दिन पहले ही उन्होंने मातृत्व अवकाश के बाद दोबारा ड्यूटी शुरू की थी। लेकिन अब उनको कोरोना ने अपनी चपेट में ले लिया।

सिर्फ अपने बच्चे की है महिला अफसर को चिंता
बता दें कि महिला अधिकारी संजू मीणा ने शुक्रवार को बांदनवाड़ा इलाके में डोर टू डोर जाकर कोरोना पॉजिटिव लोगों से बात कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली थी। इसके बाद घर जाते ही उनकी तबीयत बिगड़ गई। जब उन्होंने अपनी जांच कराई तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई। लेकिन इसके बाद भी उनके चेहरे पर कोई तनाव नहीं था। उन्होंने कहा कि बस  5 माह के बच्चे को संभालने में दिक्कत होगी। बाकी में तो कोरोना को हराकर जल्द आती हूं।

पति भी डीएसपी..दोनों ड्यूटी के चलते रहते अलग
महिला अधिकारी ने बताया कि घर में ऐसा कोई नहीं है जो बच्चे का ध्यान रख सके। इसलिए उसे अपने साथ ले जाना पड़ा। हालांकि उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसलिए डर नहीं है। बता दें कि SDM संजू मीणा के पति भी गुलाबपुरा में डीएसपी हैं। इसलिए उनको अकेले ही इन परेशानियों का सामना करना पड़ा। पति गुलाबपुरा में रहते हैं जबकि वो भिनाय में रह रही हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios