Asianet News HindiAsianet News Hindi

विवाहिता का विवाद सुलझाने ससुराल पहुंचे हैडकांस्टेबल, उन्हीं के साथ हो गई ये वारदात, टीआई को आना पड़ा छुड़ाने

राजस्थान के सीकर जिले में हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहां विवाहिता का विवाद सुलझाने गए हैडकांस्टेबल को आरोपियों ने उसे पीटकर कमरे में किया कैद। सूचना पर पहुंचे कोतवाल ने छुड़वाया। मामले में तीन गिरफ्तार कर लिए गए है। 

sikar news police head constable who went to solve family dispute was house arrested FIR registered against accused asc
Author
First Published Oct 28, 2022, 12:08 PM IST

सीकर (sikar). राजस्थान के सीकर जिले में विवाहिता का विवाद सुलझाने उसके ससुराल जाना एक हैडकांस्टेबल पर भारी पड़ गया। विवाहिता के ससुराल वालों ने उसके पीहर पक्ष के साथ हैडकांस्टेबल को भी पीट दिया।  उसे एक कमरे में कैद भी कर दिया। सूचना पर थानाधिकारी ने जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचकर हैडकांस्टेबल को आजाद करवाया। मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। हैडकांस्टेबल व विवाहिता के पीहर पक्ष ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की है। 

ये है पूरा मामला
खंडेला के नेहरों की ढाणी रोयल निवासी सुनील कुमार ने थाने में रिपोर्ट दी थी कि उसकी दो बहनें सरोज व ममता की शादी  नीमकाथाना के वार्ड 18 निवासी दिलीप व विजय बिजारणियां से हुई थी। दोनों बहनों ने पहले गुरुवार को दिन में फोन पर बताया कि उनके ससुराल वाले उनके साथ मारपीट करते हैं। इसके बाद रात करीब 9 बजे छोटी बहन ने फिर फोन कर बताया कि उसके बहनोई  विजय व सास चंद्रा देवी उसे पीट रहे हैं। इस पर वह अपने पिता भवानी सिंह व चाचा धर्मेन्द्र नेहरा के साथ नीमकाथाना कोतवाली पहुंचे। जहां से हैड कांस्टेबल झाबर के साथ वे रात करीब 11.30 बजे बहनों के घर  पहुंचे। यहां  बहनोई विजय व दलीप सहित उसकी  मां चन्द्रा देवी, विकास, सुरेन्द्र, सचीन, संदीप व अन्य महिलाओं ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। जब हेडकांस्टेबल झाबरमल ने बीच बचाव किया तो उसके साथ भी मारपीट कर आरोपियों ने एक कमरे में बंद कर दिया। 

गाड़ी में की तोडफ़ोड़, चालक ने फोन कर बचाया
रिपोर्ट में बताया कि घटना के दौरान आरोपियों ने उनकी गाड़ी में भी तोडफ़ोड़ कर दी। इसी दौरान गाड़ी चालक ने कोतवाल को घटना की सूचना दी। जिसके बाद कोतवाल लक्ष्मीनारायण ने पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचकर हेडकांस्टेबल को आजाद कराया। इस दौरान सदर व पाटन पुलिस भी मौके पर पहुंची। बाद में मौके से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। मामले की जांच की जा रही है। 

मामले की जानकारी देते हुए नीमकाथाना कोतवाली के लक्ष्मीनारायण ने बताया कि विवाहिताओं का विवाद सुलझाने गए हैडकांस्टेबल को कमरे में कैद करने की सूचना मिली थी। टीम के साथ मौके पर पहुंचकर पीड़ित को कमरे से बाहर निकलवाया। विवाहिता के परिजनों व हैडकांस्टेबल ने थाने में रिपोर्ट दी है।

यह भी पढ़े- कोल्ड ड्रिंक पिला 3 लोगों ने युवती से किया गैंगरेप, इतने में भी मन नहीं भरा तो वीडियो बना मंगेतर को किया सेंड

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios