Asianet News Hindi

Research: बॉयफ्रेंड और हसबैंड के चुनाव में अलग रवैया अपनाती हैं महिलाएं

रिलेशनशिप को लेकर हुए में एक रिसर्च में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। रिसर्च में पता चला है कि महिलाएं बॉयफ्रेंड और पति के चुनाव में अलग-अलग रवैया अपनाती हैं। बहुत कम महिलाएं ऐसी होती हैं जो सोचती हैं कि वे अपने बॉयफ्रेंड से शादी करेंगी। 
 

Research: Women use different standards in choosing boyfriend and husband
Author
California, First Published Oct 28, 2019, 3:01 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रिलेशनशिप डेस्क। रिलेशनशिप को लेकर हुए में एक रिसर्च में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। रिसर्च में पता चला है कि महिलाएं बॉयफ्रेंड और पति के चुनाव में अलग-अलग रवैया अपनाती हैं। बहुत कम महिलाएं ऐसी होती हैं जो सोचती हैं कि वे अपने बॉयफ्रेंड से शादी करेंगी। रिसर्च से पता चला है कि अक्सर महिलाएं अपने बॉयफ्रेंड पर बहुत कम भरोसा करती हैं, वहीं पुरुषों में महिलाओं की तुलना में ज्यादा समर्पण का भाव पाया गया। रिसर्च से यह पता चला कि महिलाएं पुरुषों के मुकाबले जल्दी पार्टनर बदलती हैं और संबंधों को लेकर ज्यादा इनसिक्योर फील करती हैं। इस रिसर्च में यह बताया गया है कि महिलाएं डेटिंग और रोमांस के लिए यंग, फिट और रिच पार्टनर की तलाश में रहती हैं, लेकिन जब बात शादी की आती है तो वे भरोसेमंद पार्टनर चाहती हैं। शादी के लिए भी वे धनी पार्टनर चाहती तो जरूर हैं, पर उम्र की ज्यादा परवाह नहीं करतीं। 

कहां हुई यह रिसर्च
यह रिसर्च करीब दो साल पहले कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में हुई, जिसमें लगभग 64 हजार लोगों को शामिल किया गया। इनमें पुरुषों और महिलाओं की भागीदारी लगभग समान थी। यह रिसर्च कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के साइकोलॉजी डिपार्टमेंट के प्रोफेसर डेविड बस्स की देखरेख में हुई। 

सुरक्षित भविष्य को देती हैं तरजीह
इस रिसर्च से यह पता चला कि शादी के रिश्ते में महिलाएं सुरक्षित भविष्य को खास तौर पर तरजीह देती हैं। पार्टनर की इनकम के साथ उनका ध्यान इस बात पर होता है कि कहीं वह जल्दी तलाक तो नहीं ले लेगा। शादी करते हुए महिलाएं तलाक को लेकर खास तौर पर चिंतित रहती हैं, पर बॉयफ्रेंड से रिश्ते में वे ब्रेकअप की कोई चिंता नहीं करतीं।

ब्रेकअप से ज्यादा प्रभावित नहीं होतीं महिलाएं
इस रिसर्च स्टडी से यह पता चला कि ब्रेकअप से महिलाएं ज्यादा प्रभावित नहीं होतीं, लेकिन पुरुष इससे भावनात्मक रूप से टूट जाते हैं। ब्रेकअप के बाद कई पुरुष अकेलापन महसूस करने के साथ गहरे तनाव और डिप्रेशन की समस्या से जूझने लगते हैं। कुछ मामलों में यह समस्या इतनी बढ़ जाती है कि उन्हें मनोचिकित्सक का सहारा लेना पड़ता है। वहीं, महिलाओं पर ब्रेकअप का कोई खास असर नहीं पड़ता और जल्दी ही वे नया साथी तलाश कर लेती हैं। 

पुरुष भावनात्मक रूप से होते हैं ज्यादा परेशान
रिसर्च से यह पता चला कि पुरुष स्त्रियों की बेवफाई से भावनात्मक रूप से तो परेशान होते ही हैं, पहले बनाए गए शारीरिक संबंधों की यादें भी उन्हें बेचैन कर देती हैं। रिसर्च के अनुसार, ऐसे पुरुषों की संख्या 54 प्रतिशत पाई गई, वहीं स्त्रियां वैवाहिक संबंधों के टूटने से ज्यादा परेशानी महसूस करती हैं। बॉयफ्रेंड से संबंधों के टूटने का उन पर भावनात्मक असर ज्यादा नहीं देखा गया। सिर्फ 35 फीसदी महिलाएं ऐसी पाई गईं, जिन्हें ब्रेकअप के बाद बॉयफ्रेंड से शारीरिक संबंध बनाने की याद से परेशानी महसूस हुई या उन्हें लगा कि ऐसा करना सही नहीं था।   


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios