Asianet News Hindi

Haridwar Kumbh: कल सुबह 8 बजे से शुरू होगा शाही स्नान, कोविड निगेटिव रिपोर्ट लाने वालों को ही एंट्री

जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरी पूजा अर्चना करने के बाद शाही स्नान के दिन सबसे पहले गंगा में स्नान के लिए जाएंगे। इसके बाद ही अखाड़े के नागा संन्यासियों के आलवा अन्य संत एक साथ स्नान करेंगे। 

Haridwar Kumbh's first royal bath on Mahashivratri ASA
Author
Haridwar, First Published Mar 10, 2021, 7:25 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हरिद्वार (Uttarakhand) । हरिद्वार में इस बार कुंभ 11 साल के बाद हो रहा है। कुंभ मेला एक अप्रैल से 28 तक आयोजित किया जाएगा। वैसे कुंभ 12 साल बाद होता है। लेकिन, हरिद्वार कुंभ का पहला शाही स्नान, महाशिवरात्रि के अवसर पर 11 मार्च को होगा। उप निदेशक सूचना योगेश मिश्रा ने बताया कि सुबह 8 बजे से स्नान शुरू होगा, जो रात 8 बजे तक चलेगा। जितने लोग आएंगे, उनकी गिनती गूगल मैपिंग से की जाएगी। बता दें कि शिवरात्रि को पहले शाही स्नान पर संन्यासियों के सात और 27 अप्रैल वैशाख पूर्णिमा पर बैरागी अणियों के तीन अखाड़े कुंभ में स्नान करते हैं। 12 अप्रैल सोमवती अमावस्या और 14 अप्रैल मेष संक्रांति के मुख्य शाही स्नान पर सभी 13 अखाड़ों का हरिद्वार कुंभ में स्नान होगा।

अवधेशानंद करेंगे सबसे पहले स्नान 
जूना अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरी पूजा अर्चना करने के बाद शाही स्नान के दिन सबसे पहले गंगा में स्नान के लिए जाएंगे। इसके बाद ही अखाड़े के नागा संन्यासियों के आलवा अन्य संत एक साथ स्नान करेंगे। 

हरिद्वार आने के लिए पंजीकरण अनिवार्य
हरिद्वार आने वाले हर व्यक्ति को कुंभ मेला पोर्टल पर पंजीकरण और 72 घंटे पूर्व की कोविड निगेटिव रिपोर्ट लानी होगी। एसओपी लागू होने की अवधि से पहले हरिद्वार आकर होटलों, धर्मशाला और आश्रमों में ठहरने वाले लोगों की भी कोविड जांच की जाएगी। बॉर्डर और मेला क्षेत्र में 40 टीमें कोविड की रैंडम जांच भी करेंगी।

स्पाइस हेल्थ ने कुंभ मेले में किए खास इंतजाम
विमानन कंपनी स्पाइसजेट के प्रमोटर्स की ओर से शुरू की गई कंपनी SpiceHealth ने कुंभ मेले में जाने वाले श्रद्धालुओं को RT-PCR tests की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए उत्तराखंड के बॉर्डर पर पांच जगहों पर खास कैंप लगाए हैं।  इस सुविधा के लिए कंपनी ने हरिद्वार में कई जगहों पर मोबाइल लैब भी लगाई हैं।

COVID19 के चलते होटलों ने किए खास इंतजाम
गंगा के किनारे बने कई होटलों ने गंगा में स्नान के लिए प्राइवेट घाट और प्राइवेट आरती का इंतजाम किया है। वहीं इन सुविधाओं के साथ ही गेस्ट को होटल में रुकने वाले ग्राहकों को काढ़ा पीने को दिया जा रहा है। पसंद के मुताबिक काढ़े में कई तरह के फ्लेवर का भी इंतजाम है।

होटलों में दी जा रही इम्यूनिटी बढ़ाने वाली डिश
हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए हर के पुरी के पास स्थित होटल जैसे Haveli Hari Ganga, Ganga Lahari सहित अन्य होटलों में नहाने के लिए प्राइवेट घाट का इंतजाम किया गया है। होटलों में सेनेटाइजेशन और खाने पीने को लेकर खास ध्यान रखा जा रहा है। खाने में कई तरह की इम्यूनिटी बढ़ाने वाली डिश भी परोसी जा रही है।

'कुंभ मेला' ऐप लॉन्‍च, मिलेगी ये जानकारियां
उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने बताया कि मुरादाबाद रेलवे डिवीजन ने 'कुंभ मेला' ऐप लॉन्‍च किया है। यह मोबाइल ऐप तीर्थयात्रियों को ट्रेनों के बारे में और कोविड-19 को लेकर सरकार की गाइडलाइन की जानकारी देगा। यात्री ट्रेनों के बारे में जानकारी के साथ ही स्थानीय मंदिरों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि हम किसी भी बदलाव के बारे में हर यात्री को एसएमएस अलर्ट भेजते हैं।

कुंभ में इन तारीखों पर होगा स्नान
महा शिवरात्रि (शाही स्नान) 11 मार्च 
सोमवती अमावस्या (शाही स्नान) 12 अप्रैल
बैसाखी (शाही स्नान) 14 अप्रैल 
राम नवमी (स्नान) 21 अप्रैल
चैत्र पूर्णिमा (शाही स्नान) 27 अप्रैल

(फाइल फोटो)
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios