Asianet News HindiAsianet News Hindi

बायोफ्यूल के क्षेत्र में इस राज्य ने किया बेहतर काम, Green Energy Award जीतने पर सीएम ने दी बधाई

ऊर्जा के परंपरागत स्रोतों पर निर्भरता कम करने के लिए नवीन विकल्पों को प्रोत्साहित किया जा रहा है, इस दिशा में  Biofuel Development Authority  द्वारा राज्य में बायोफ्यूल के क्षेत्र में शानदार किकाम किया गया है, देखें इस राज्य में  Biofuel को प्रोत्साहन देने के लिए क्या कुछ किया जा रहा है...
 

Chhattisgarh did better work in the field of biofuel, Chief Minister Bhupesh Baghel congratulates on winning India Green Energy Award
Author
Bhopal, First Published Oct 21, 2021, 8:35 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

टेक डेस्क । बायोफ्यूल के क्षेत्र में किए जा रहे उल्लेखनीय कार्य के लिए छत्तीसगढ़ को इंडियन फेडरेशन ऑफ ग्रीन एनर्जी द्वारा ‘इंडिया ग्रीन एनर्जी अवार्ड‘ से नवाजा गया है। यह अवार्ड बायोफ्यूल के आऊटस्टैंडिंग रिन्यूएबल एनर्जी जनरेशन प्रोजेक्ट केटेगरी में छत्तीसगढ़ को प्रदान किया गया है।
 

सीएम भूपेश बघेल ने दी टीम को बधाई
 नई दिल्ली में बुधवार को आयोजित कार्यक्रम में केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री  नितिन गडकरी और केन्द्रीय नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री  भगवंत खूबा ने छत्तीसगढ़ बायोफ्यूल डेव्हलपमेंट अथार्टी (सीबीडीए) रायपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  सुमीत सरकार को इंडिया ग्रीन एनर्जी अवार्ड प्रशस्ति पत्र और स्मृति चिन्ह प्रदान किया। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ बायोफ्यूल डेव्हलपमेंट अथार्टी को पुरस्कार प्राप्त करने पर उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

ये भी पढ़ें- लॉन्च होने वाला है दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन ! JioPhone Next के स्पेसिफिकेशंस हुए लीक
 

Biofuel Development Authority ने किया उल्लेखनीय काम

 उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ सरकार ऊर्जा के परंपरागत स्रोतों पर निर्भरता कम करने के लिए अपरंपरागत ऊर्जा के नवीन विकल्पों को प्रोत्साहित कर रही हैं। इस दिशा में छत्तीसगढ़ Biofuel Development Authority  द्वारा राज्य में बायोफ्यूल के क्षेत्र में अधिशेष अनाज से एथेनॉल उत्पादन संयंत्र की स्थापना, बायो-जेट एवीएशन फ्यूल के निर्माण में सहयोग और जैव ईंधन के क्षेत्र में अनुसंधान कार्य जैसे उल्लेखनीय काम किए जा रहे हैं।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  गडकरी ने कृषि उत्पाद से बायोफ्यूल उत्पादन के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की सराहना की और भविष्य में बायोफ्यूल का महत्व बताते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए अन्यदाता को ऊर्जा दाता बनना जरूरी है।

ये भी पढ़ें- SBI ग्राहक फ्री में YONO ऐप से दाखिल करें इनकम टैक्स रिटर्न, CA से भरवाना चाहते है तो दें मात्र 199 रुपए

इंडियन फेडरेशन आफ ग्रीन एनर्जी ने मिनेशन किए थे आमंत्रित

इंडियन फेडरेशन आफ ग्रीन एनर्जी, 2020, भारत सरकार के नवीन एवं नवीकणीय ऊर्जा मंत्रालय, सरदार शरण सिंह नेशनल इन्स्टीयूट ऑफ बायो-एनर्जी एवं एसोसियेशन ऑफ स्टेट रोड़ ट्रान्सपोर्ट अन्डरटेकिंग के सपोर्टिग पार्टनरशिप में एवं केयर रेटिंग के नॉलेज पार्टनरशिप से अपारंपरिक ऊर्जा के विभिन्न क्षेत्र जैसे कि सौर ऊर्जा, बायोमास, बायोफ्यूल  में अवार्ड के लिए नॉमिनेशन आमंत्रित किया गया था। समग्र भारत से प्राप्त नॉमिनेशन में से भारत सरकार के वैज्ञानिक संगठन सीएसआईआर के साइंटिस्ट एवं शिक्षण प्रतिष्ठान आईआईटी के प्रतिनिधि वाले विशिष्ट ज्यूरी ने प्रत्येक कैटेगरी में अवार्ड हेतु चयन किया है।

ये भी पढ़ें- Facebook बदलने जा रहा अपना नाम ! वर्चुअल दुनिया में होगा रियलिटी का अहसास, देखें क्या है मेटावर्स

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios