Asianet News HindiAsianet News Hindi

Amazon Layoff: इंडियन लेबर मिनिस्ट्री ने जारी किया समन, NITES ने कहा- 'कर्मचारियों पर दबाव बना रही है कंपनी'

इससे पहले लेबर मिनिस्ट्री को टेक्निकल स्टाफ के यूनियन, नेसेंट इन्‍फॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी एम्‍प्‍लॉयीज सीनेट (NITES) ने शिकायत की। इस शिकायत में कहा गया कि कंपनी छंटनी के नियमों का पालन नहीं कर रही है और अपने कर्मचारियों पर कंपनी छोड़ने का दबाव बना रही है।

E-commerce company Amazon gets notice from Indian Labour Ministry regarding layoffs in India AKA
Author
First Published Nov 23, 2022, 5:08 PM IST

टेक न्यूज. Amazon Received Notice from Indian Labour Ministry: हाल ही में ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन इंडिया (Amazon India) ने यह घोषणा की थी कि कंपनी में छंटनी हो सकती है। इस खबर में यह तथ्य सामने आया था कि अमेजन 10 हजार कर्मचारियों की छंटनी करना चाहता हैं और इन कर्मचारियों में इंजीनियर से लेकर साइंटिस्ट तक शामिल हैं। हालांकि, इस खबर के सामने के बाद अब कंपनी सरकार के निशाने पर आ गई है। भारतीय श्रम मंत्रालय (Indian Labour Ministry) ने कंपनी को नोटिस जारी किया है। यही नहीं कंपनी के एक बड़े अधिकारी को मंत्रालय ने इस मुद्दे पर तलब भी किया है। मंत्रालय ने कंपनी से जल्द से जल्द अपना पक्ष रखने को लिए कहा है।

30 नवंबर तक की है डेडलाइन
बिजनेस टुडे की एक रिपोर्ट की मानें तो लेबर मिनिस्ट्री ने एमेजॉन इंडिया के पब्लिक पॉलिसी मैनेजर को इस छंटनी के संदर्भ में तलब किया है। कंपनी में यह जिम्मेदारी इस वक्त स्मिता शर्मा संभाल रहीं हैं जिन्हें आज विचार-विमर्श के लिए बुलाया गया है। जाारी किए गए नोटिस में कहा गया है कि कंपनी की ओर से संबंधित कर्मचारियों को 30 नवंबर की डेडलाइन के साथ वॉल्युंट्री सेपरेशन प्रोग्राम (Voluntary Separation Program) की डिटेल शेयर की गई है। इसके बाद से ही अमेजन के कर्मचारियों में डर का माहौल है।

NITES ने की इन्‍क्‍वायरी की मांग
इससे पहले इस बारे में लेबर मिनिस्ट्री को टेक्निकल स्टाफ के यूनियन, नेसेंट इन्‍फॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी एम्‍प्‍लॉयीज सीनेट (NITES) ने शिकायत भेजी। इस शिकायत में कहा गया कि कंपनी छंटनी के नियमों का पालन नहीं कर रही है और अपने कर्मचारियों पर कंपनी छोड़ने का दबाव बना रही है। NITES ने केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव को भेजी शिकायत में कहा है कि अमेजन से जु़ड़े इस पूरे मामले की इन्‍क्‍वायरी की जानी चाहिए।

क्या है VSP, जिसके चलते डरे हुए है वर्कर्स
अमेजन ने अपने कर्मचारियों को पिछले दिनों एक मेल किया था। इस मेल में एक VSP डॉक्यूमेंट भी था जिसमें कर्मचारियों को कहा गया कि आपको सूचित किया जाता है कि अमेजन वॉल्यूएंटरी सेपरेशन प्रोग्राम (VSP) लागू कर रहा है। यह कंपनी के एईटी ऑर्गेनाइजेशन के संबंधित कर्मचारियों के लिए अस्थायी रूप से उपलब्ध है। इसके तहत स्टाफ के पास नीचे दिए गए वीएसपी लाभों के बदले स्वेच्छा से नौकरी से इस्तीफा देने का मौका होगा। कहा जा रहा है कि कंपनी ने सभी कर्मचारियों से इसे 30 नवंबर तक स्वीकार करने के लिए कहा है।

10 हजार कर्मचारियों को निकालने की तैयारी में है कंपनी
बता दें कि अमेजन वैश्विक स्तर पर बड़ी संख्या में छंटनी की तैयारी कर रही है। रिपोर्ट्स की मानें तो कंपनी इस हफ्ते ही कॉरपोरेट और आईटी डिपार्टमेंट में काम करने वाले करीबन 10 हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की प्लानिंग कर रही है। यह छंटनी सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर में मौजूद अमेजन के स्टाफ में से ही की जाएगी। बता दें कि कंपनी में कुल (पार्ट टाइम और फुल टाइम काम मिलाकर) कर्मचारियों की संख्या 16 लाख के आसपास है।

और पढ़ें...

Vivo ने लॉन्च किए X90 सीरीज के 3 धमाकेदार फोन्स, कम कीमत में मिलेंगे ये गजब के फीचर्स

क्या? दुनिया के पांचवे सबसे अमीर शख्स बिल गेट्स को पीना पड़ा गटर का पानी! यहां जानिए क्यों

13 वेरिएंट में लॉन्च हुई Maruti Suzuki की नई Eeco, मात्र 5 लाख रुपए में मिलेगा 20Km का जबरदस्त माइलेज

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios