'प्रेग्नेंट हूं जॉब भी नहीं ढूंढ सकती, अब क्या करूं..' Google से निकाले जाने पर 8 महीने की प्रेग्नेंट एम्प्लॉई का दर्द

| Jan 23 2023, 11:07 AM IST

Google logo
'प्रेग्नेंट हूं जॉब भी नहीं ढूंढ सकती, अब क्या करूं..' Google से निकाले जाने पर 8 महीने की प्रेग्नेंट एम्प्लॉई का दर्द
Share this Article
  • FB
  • TW
  • Linkdin
  • Email

सार

गूगल ने करीब 12 हजार कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। अब कर्मचारियों का गुस्सा और नाराजगी सामने आने लगा है। इन्हीं में कंपनी की प्रोग्राम मैनेजर कैथरीन वोंग भी शामिल हैं, जो एक हफ्ते बाद मां बनने वाली हैं।

 

टेक डेस्क : दिग्गज टेक कंपनी गूगल (Google) में छंटनी का दौर शुरू होते ही कर्मचारियों का दर्द बाहर आने लगा है। अभी हाल ही में 16 साल बाद कंपनी से निकाले गए जस्टिन मोर नाम के एक इंजीनियरिंग मैनेजर ने अपना दर्द बयां किया था कि अब एक महिला कर्मचारी ने भी कंपनी के इस एक्शन पर अपना गुस्सा जाहिर किया है। कंपनी की प्रोग्राम मैनेजर कैथरीन वोंग ने बताया कि वे 8 महीने की प्रेग्नेंट हैं। मैटरनिटी लीव से ठीक पहले ही कंपनी ने उन्हें बाहर कर दिया है। जिससे वे काफी नाराज हैं और सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा निकाला है।

'अब मैं क्या करूं..'

Subscribe to get breaking news alerts

एक तरफ गूगल ने ग्लोबली 12 हजार कर्मचारियों को निकालने का फैसला लिया है। सीईओ सुंदर पिचाई (Sunder Pichai) ने इस छंटनी की पूरी जिम्मेदारी ली है। दूसरी तरफ कर्मचारियों के पास कंपनी का ईमेल पहुंचने लगा है। इसी के चलते कुछ कर्मचारियों का दर्द बाहर आ गया है। कंपनी ने जिन लोगों को बाहर निकाला है, उनमें कैथरीन वोंग भी शामिल हैं। छंटनी की न्यूज ने उन्हें पूरी तरह तोड़कर रख दिया है। एक लिंक्डइन पोस्ट में उन्होंने लिखा- 'मैं बेहद खुश थी कि एक हफ्ते बाद मैं मां बनने जा रही हूं, मैं मैटरनिटी लीव पर जाऊंगी, लेकिन जब मेरे फोन पर नौकरी जाने की खबर आई तो मेरा दिल बैठ गया। कंपनी से निकाले गए 12 हजार कर्मचारियों में से मैं भी एक हूं। प्रेग्नेंट होने और मैटरनिटी लीव पर जाने के चलते मैं नौकरी भी नहीं तलाश कर सकती हूं।'

'मेरे हाथ कांप रहे हैं'

महिला कर्मचारी कैथरीन ने आगे लिखा है, 'मैं अपने बच्चे की परवरिश को लेकर काफी पॉजिटिव हूं, मैंने खुद पर निगेटिव इमोशन्स हावी नहीं होने दिया और ना ही आगे होने देना चाहती हूं, क्योंकि मेरे अंदर एक नन्हा सा बच्चा है। जिसकी मैं ख्याल रखना चाहती हूं। लेकिन नौकरी जाने की खबर मोबाइल पर मिलने से मेरे हाथ कांप रहे हैं। मेरे लिए यह एक मिस्ड फीलिंग है।'

सुंदर पिचाई की इमोशनल चिट्ठी

बता दें कि कर्मचारियों के बाहर निकाले जाने की पूरी जिम्मेदारी सीईओ सुंदर पिचाई ने लेते हुए क इमोशनल चिट्ठी लिखी है। उन्होंने लिखा है, 'इस मुश्किल घड़ी में कंपनी अपने कर्मचारियों की पूरी मदद करेगी। नोटिस पीरियड में उन्हें पूरी सैलरी दी जाएगी। सैलरी के साथ उन्हें कई बेनिफिट्स और नियम के अनुसार मुआवजा भी कंपनी देगी।'

इसे भी पढ़ें

'आपको डिस्पोजेबल समझती हैं बड़ी कंपनियां, इसलिए सिर्फ काम मत करो, जिंदगी भी जियो'..Google से निकाले जाने पर छलका दर्द

 

इमोशनल कर देगी Google CEO सुंदर पिचाई की यह चिट्ठी, जानें एम्प्लॉइज से क्यों बोला Sorry