Asianet News HindiAsianet News Hindi

जानिए क्या है ' Bulli Bai App' जिसपर मुस्लिम महिलाओं की फोटो डाल 'Deal Of The Day ' बता उन्हें बेचा जा रहा है

Bulli Bai ऐप को कथित तौर पर मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों की नीलामी करते हुए पाया गया था, कुछ महीनों बाद कुछ अज्ञात व्यक्तियों ने इसी तरह का ऐप 'सुल्ली डील' बनाया, जिसमें सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड और नीलाम की गईं।

What is Bulli Bai App why the controversy over Muslim women pics tech news ANP
Author
New Delhi, First Published Jan 2, 2022, 11:11 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

टेक डेस्क. एक रिपोजिटरी होस्टिंग सेवा पर बनाए गए एक विवादास्पद ऐप ने मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों को उनकी सहमति के बिना अपलोड किए जाने के बाद सोशल मीडिया पर नाराजगी पैदा कर दी है। 'Bulli Bai' नाम के ऐप को कथित तौर पर मुस्लिम महिलाओं की फोटो की नीलामी करते हुए पाया गया था, कुछ महीनों बाद कुछ अज्ञात व्यक्तियों ने इसी तरह का ऐप 'Sulli Deal' बनाया, जिसमें सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें, उनके सोशल मीडिया अकाउंट्स से ली गईं, अपलोड और नीलाम की गईं। सोशल मीडिया पर नाराजगी के बाद ऐप को हटा दिया गया था। 'Bulli Bai' 'Sulli Deal' के समान एक ऐप है जिसे गिटहब (GitHub) पर बनाया और इस्तेमाल किया जाता है।

क्या है Bulli Bai App

'Bulli Bai' एक ऐसा एप्लिकेशन है जो Github एपीआई पर होस्ट किया जाता है और 'Sulli Deal' ऐप के समान काम करता है। ऐप मुस्लिम महिलाओं को सोशल मीडिया पर लोगों के लिए 'Deal Of The Day' के रूप में पेश करता है। Bulli Bai के ट्विटर हैंडल को निलंबित कर दिया गया है, इसके बायो में लिखा था, 'बुली बाई खालसा सिख फोर्स (KSF) द्वारा एक समुदाय द्वारा संचालित ओपन-सोर्स ऐप है। हाल की घटना में, सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों का दुरुपयोग किया गया और 1 जनवरी को 'Bulli Bai' के नाम से गिटहब का उपयोग करके एक ऐप पर एक अज्ञात समूह द्वारा अपलोड किया गया। पता चला Bulli Bai ऐप के पीछे के लोग खालिस्तानी आंदोलन के समर्थक हैं और गिरफ्तार खालिस्तानी आतंकवादियों की रिहाई की मांग करते हैं। ऐप को URL Bullibai.github.io पर होस्ट किया गया था। हालांकि लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर ऐप को शेयर करने के बाद अब इसे हटा दिया गया है। ऐप से जुड़े एक ट्विटर अकाउंट को भी सस्पेंड कर दिया गया है।

मुस्लिम महिला पत्रकार की फोटो को किया गया था अपलोड

ऐप को कथित तौर पर मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों की नीलामी करते हुए पाया गया था, कुछ महीनों बाद कुछ अज्ञात व्यक्तियों ने इसी तरह का ऐप 'Sulli Deal' बनाया, जिसमें सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड और नीलाम की गईं। शनिवार को एक महिला पत्रकार ने बुल्ली बाई ऐप (Bulli Bai App) पर अपनी बेची जा रही तस्वीर को 'डील ऑफ द डे' बताकर शेयर किया। पत्रकार ने ट्विटर पर कहा, "यह बहुत दुखद है कि एक मुस्लिम महिला के रूप में आपको अपने नए साल की शुरुआत इस डर और घृणा के साथ करनी पड़ रही है।" महिला पत्रकार की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 509 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है। समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, दक्षिण पूर्व जिले के साइबर पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई है। ट्विटर (Twitter) लोकेशन स्टेटस से आगे पता चलता है, ऐसा लगता है कि यह अकाउंट यूएसए से संचालित किया जा रहा है और हाल ही में दिसंबर 2021 के महीने में भारत सरकार पर जगतार सिंह जोहल को रिहा करने के लिए दबाव डालने के इरादे से बनाया गया है, जिसे 'Jaggi' के नाम से जाना जाता है।

सुली डील ( Sulli Deal ) क्या था 

4 जुलाई, 2021 को, कई ट्विटर यूजर ने 'Sulli Deals' नाम के एक ऐप के स्क्रीनशॉट साझा किए, जिसे गिटहब पर एक अज्ञात समूह द्वारा बनाया गया था। ऐप में एक टैगलाइन थी जिस पर लिखा था "Sulli Deals Of The Day" और इसे मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों के साथ लगाया गया है। 'Sulli' महिलाओं के खिलाफ इस्तेमाल किया जाने वाला अपमानजनक शब्द है। ऐप बनाने वाले अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स से अवैध रूप से मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड करते हैं फिर उन्हें ट्रोल करते हैं तस्वीरों का गलत इस्तेमाल करके और लोगों को उनकी "नीलामी" में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।  'Sulli Deal' विवाद में दिल्ली और उत्तर प्रदेश पुलिस ने दो एफआईआर दर्ज की थीं। 

ये भी पढ़ें- 

Boat इंडिया में जल्द ला रहा धांसू Eardopes, 5 मिनट की चार्ज में सुन पाएंगे 1 घंटे तक म्यूजिक

नए साल पर Telegram यूजर के लिए खुशखबरी ! लॉन्च हुए ये 3 नए फीचर आपको कहीं और नहीं मिलेंगे

इंडिया में जल्द दस्तक देगा Xiaomi 12 सीरीज स्मार्टफोन, 50MP कैमरे के साथ मिलेंगे कई शानदार फीचर्स

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios