Bhutan  

(Search results - 28)
  • undefined

    WorldMay 23, 2021, 5:48 PM IST

    चीन ने फिर दिखाई चालबाजी, अब अरुणाचल से सटे भूटान में गांव बसाया, यहां आर्मी कैंप भी बना दिया

    चीन अपनी चालबाजी से बाज नहीं आ रहा है। अब उसने भूटान के 8 किलोमीटर अंदर एक गांव भी बसा लिया है। यह दावा ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने किया। रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने गांव में सड़कों, इमारतों, पुलिस स्टेशन और आर्मी बेस तक का निर्माण किया है। इतना ही नहीं यहां पावर प्लांट और, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना का दफ्तर भी बनाया गया है। 

  • <p><strong>नई दिल्ली। </strong>असम समेत पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बुधवार की सुबह भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए, जो 10 साल पहले सिक्किम में आए भूकंप की याद दिला दिए। जिससे हिमालय क्षेत्र तक दहल गया था। जी हां, उस समय सिक्किम में 100 से अधिक लोग मारे गए थे, जबकि हजारों लोगों ने अपना घर ही छोड़ दिया था। हालांकि कि इस बार ऐसा नहीं कुछ नहीं है, लेकिन बताया जा रहा है कि असम के आसपास भूकंप का पहला झटका 6.4 की तीव्रता से आया, फिर उसके बाद 4.3, 4.4 की तीव्रता से दो झटके महसूस हुए हैं।</p>

    TrendingApr 28, 2021, 11:59 AM IST

    असम की ही तरह 10 साल पहले इस राज्य में आया था भूकंप, जब दहल गया था पूरा हिमालय

    नई दिल्ली। असम समेत पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बुधवार की सुबह भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए, जो 10 साल पहले सिक्किम में आए भूकंप की याद दिला दिए। जिससे हिमालय क्षेत्र तक दहल गया था। जी हां, उस समय सिक्किम में 100 से अधिक लोग मारे गए थे, जबकि हजारों लोगों ने अपना घर ही छोड़ दिया था। हालांकि कि इस बार ऐसा नहीं कुछ नहीं है, लेकिन बताया जा रहा है कि असम के आसपास भूकंप का पहला झटका 6.4 की तीव्रता से आया, फिर उसके बाद 4.3, 4.4 की तीव्रता से दो झटके महसूस हुए हैं।

  • <p>Corona in Bhutan, corona epidemic, health system in Bhutan, health plans in Bhutan, corona vaccine in Bhutan</p>

    TrendingApr 10, 2021, 3:57 PM IST

    भूटान: सिर्फ 7 दिन में देश की आधा से ज्यादा आबादी को वैक्सीन लगी, क्या है इतनी तेज वैक्सीनेशन का फॉर्मूला?

    27 मार्च 2021 को 30 साल की निंदा डेमा को भूटान में कोविड का पहला टीका लगा। इसके बाद सिर्फ 7 दिन में ब्रिटेन और संयुक्त राज्य अमेरिका को पीछे छोड़ते हुए भूटान ने अपने आधे से ज्यादा यानी 62 प्रतिशत नागरिकों को वैक्सीन लगा दी है। भूटान की कुल आबादी 735,553 की है, जिनमें से मंगलवार तक लगभग 469,664 लोगों को वैक्सीन की सिंगल खुराक लग चुकी है। ऐसे में जानना जरूरी हो जाता है कि भूटान ने ऐसा कौन सा फॉर्मूला अपनाया, जो इतनी तेजी से वैक्सीन लगा दी। 

  • <p>सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) को पूरी दुनिया गूगल के CEO के रूप में जानती है। हमारे लिए यह गर्व की बात है कि इस कंपनी के सीईओ सुंदर पिचाई भारतीय हैं। आइए जानते हैं कैसे पिचाई ने गूगल सीईओ तक का पद हासिल किया।</p>

    CareersJan 26, 2021, 3:11 PM IST

    देश की शान हैं दुनिया की बड़ी टेक कंपनियों में कार्यरत ये भारतीय, गूगल से लेकर Adobe CEO ने बढ़ाया भारत का मान

    करियर डेस्क. दोस्तों कभी अंग्रेजों का गुलाम रहा भारत आज अपना 72वां गणतंत्र दिवस (72 Republic day 2021) मना रहा है। सभी देशवासी और सोशल मीडिया पर एक दूसरे को बधाई/शुभकामना संदेश दे रहे हैं। सिर्फ देश में ही नहीं विदेश में भी भारतवासी इस राष्ट्रीय पर्व को सेलेब्रेट कर रहे हैं। दुनिया में कई ऐसे भारतीय मूल के लोग हैं जिन्होंने बाकी देशों में अपनी काबिलियत से तिरंगे का मान बढ़ाया है। भारतीय मूल के कई टेक अधिकारी हैं जो दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनियों में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं। साल 2020 में अरविंद कृष्णा ने दिग्गज आईटी कंपनी आईबीएम (IT IBM के सीईओ और अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाला है। ऐसे और भी कई नाम हैं। रिपब्लिक डे मौके पर यहां हम दुनिया के 17 सबसे महत्वपूर्ण तकनीकी अधिकारियों के बारे में बता रहे हैं जो भारतीय मूल के हैं। सुंदर पिचाई, सत्य नडेला सहित इन लोगों ने भारत का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया- 

  • undefined
    Video Icon

    NationalNov 20, 2020, 4:08 PM IST

    पीएम नरेंद्र मोदी और भूटान के पीएम ने किया दूसरे चरण के रुपे कार्ड कार्ड का शुभारंभ, ऐसे होगा फायदा

    वीडियो डेस्क।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपने भूटानी समकक्ष लोटे शेरिंग के साथ दूसरे चरण के तहत रुपे कार्ड (RuPay Card) का शुभारंभ किया। इसके जरिए भूटान के नागरिक भारत में रुपे नेटवर्क का लाभ उठा सकेंगे। शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी और शेरिंग ने संयुक्त रूप से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से इस कार्ड को लॉन्च किया।2019 में हुआ था पहले चरण के रुपे कार्ड का शुभारंभइससे पहले साल 2019 में पीएम नरेंद्र मोदी ने भूटान यात्रा के दौरान पहले चरण के रुपे कार्ड का शुभारंभ किया था। पहले चरण के तहत भारत के नागरिक भूटान के एटीएम और प्वाइंट ऑफ सेल मशीन (PoS) पर लेनदेन के लिए सक्षम हुए थे।

    क्या है रुपे कार्ड?
    यह एक घरेलू प्लास्टिक कार्ड है, जिसे नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) ने लॉन्च किया था। इसका उद्देश्य पेमेंट सिस्टम का एकीकरण करना है। एसबीआई जैसे बड़े बैंक से लेकर देश के सभी प्रमुख बैंकों ने रुपे डेबिट कार्ड जारी किए हैं। संयुक्त अरब अमीरात पश्चिम एशिया का पहला देश बना था, जिसने इलेक्ट्रॉनिक भुगतान की भारतीय प्रणाली को अपनाया था।

  • <p><br />
Prime Minister Narendra Modi, Lotay Tshering, RuPay Card phase-2, Bhutan&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

    NationalNov 20, 2020, 11:51 AM IST

    नरेंद्र मोदी और भूटान के पीएम ने सेकंड फेज के RuPay कार्ड का शुभारंभ किया, जानें इससे कैसे मिलेगा फायदा?

    पीएम मोदी ने कहा, सभी भारतीयों की तरह मेरे मन में भी भूटान के लिए विशेष प्यार और मित्रता है। जब भी आपसे मिलता हूं तो एक खास अपनेपन की अनुभूति होती है। भारत और भूटान के विशिष्ट संबंध न सिर्फ दोनों राष्ट्रों के लिए अहम हैं, बल्कि विश्व के बेहतरीन उदाहरण है। 

  • undefined

    BusinessOct 14, 2020, 4:12 PM IST

    क्या प्रति व्यक्ति GDP में बांग्लादेश, भूटान से भी पिछड़ जाएगा भारत?, जानें यहां...

    वैश्विक संस्था अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी सकल घरेलू उत्पाद (GDP) 1,888 डॉलर (करीब 1.38 लाख रुपये) रह सकती है, जबकि भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 1,877 डॉलर (करीब 1.37 लाख रुपये) ही रह सकती है। हालांकि ये सिर्फ अनुमान हैं लेकिन आईएमएफ ने भारत के चालू वित्तिय वर्ष की प्रति व्यक्ति जीडीपी को 10.5 प्रतिशत तक घटने की आशंका जताई है।

  • undefined

    WorldJul 6, 2020, 10:01 AM IST

    भारत में मिला करारा जवाब तो इस देश को सताने लगा चीन, जमीन पर ठोका अपना दावा

    चीन की विस्तारवादी भूख खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। चीन ने अब भारत के बाद भूटान की जमीन पर अपना दावा ठोका है। चीन ने जिस जमीन को अपना बताया है वह भारत से लगी सीमा पर है। कोरोना और सीमा विवाद के मुद्दे पर दुनियाभर में चीन चौतरफा घिरा नजर आ रहा है।

  • undefined

    WorldJun 30, 2020, 11:15 AM IST

    विवाद: भारत के बाद अब चीन ने भूटान की जमीन पर अपना दावा ठोका, मिला मुंहतोड़ जवाब

    अपनी विस्तारवादी नीति को बरकरार रखते हुए अब चीन ने भूटान के जमीन पर अपना दावा ठोका है। चीन ने भूटान के सकतेंग वन्यजीव अभयारण्य की जमीन को विवादित बताया। चीन ने इस इस प्रोजेक्ट के लिए होने वाली फंडिंग का भी विरोध जताया।

  • undefined

    Other StatesJun 26, 2020, 2:00 PM IST

    ऐसा दिखता है पड़ोसी मुल्क भूटान, लेकिन चीन के चक्कर में कहीं अपना बड़ा भाई न खो दे..देखिए कुछ तस्वीरें

    नई दिल्ली. लद्दाख की गलवान घाटी में कायराना हरकत को मुंहतोड़ जवाब मिलने से बौखलाया चीन छोटे पड़ोसी देशों को भारत के खिलाफ भड़का रहा है। नेपाल के बाद भूटान भी अपना रंग बदल रहा है। भूटान ने नदी का पानी रोककर असम के किसानों के लिए समस्या खड़ी करने की कोशिश की है। बता दें कि असम के बक्सा जिले के करीब 25 गांवों को 1953 से ही भूटान से सिंचाई के लिए पानी मिलता आ रहा है। अब खबरें आई कि कोरोना की आड़ में भूटान ने नहर में पानी छोड़ना बंद कर दिया। हालांकि भूटान अलग तर्क दे रहा है। उसका कहना है कि नहरों में मरम्मत के कारण पानी नहीं छोड़ा जा रहा है। भूटान ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए अपनी सीमाएं सील कर रखी हैं। फिलहाल वहां जाने पर 21 दिनों तक क्वारेंटाइन होना पड़ेगा। दरअसल, असम के किसान भूटान जाकर पानी डायवर्ट करते थे। लेकिन अभी वे वहां नहीं जा सकते। माना जा रहा है कि चीन के दवाब में आकर भूटान ऐसा कर रहा है। जबकि भारत हमेशा से ही भूटान के लिए बड़े भाई की भूमिका में रहा है। बहरहाल, आइए दिखाते हैं तस्वीरों के जरिये भूटान..
     

  • undefined

    NationalJun 26, 2020, 8:58 AM IST

    चीन और नेपाल के बाद अब भूटान ने भारत के लिए खड़ी की मुश्किल, 6000 किसान प्रभावित

    इन दिनों पड़ोसी देशों से भारत के रिश्ते कुछ ठीक ठाक नहीं चल रहे। एक तरफ चीन से सीमा विवाद है तो दूसरी ओर नेपाल से नक्शा विवाद। वहीं, अब चीन और नेपाल के बाद भूटान ने भारत के लिए मुश्किल खड़ीं कर दी हैं।
     

  • undefined

    CelebsMay 20, 2020, 10:53 AM IST

    ऐसा क्या हुआ था कि भूटान में विराट अनुष्का को छोड़कर भाग गए थे? पति ने सुनाया किस्सा

    मुंबई. अनुष्का शर्मा और भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली अक्सर किसी ना किसी वजह से सुर्खियों में रहते हैं। ये कपल बी-टाउन की पसंदीदा जोड़ियों में से एक हैं। इन दिनों लॉकडाउन में दोनों स्टार्स घर में एक-दूसरे के साथ टाइम स्पेंड कर रहे हैं। ऐसे में हाल ही में उन्होंने अपनी जिंदगी के बारे में और अनुष्का से जुड़े किस्सों को शेयर किया है। क्रिकेटर ने बताया कि क्यों वो भूटान की सड़कों पर अनुष्का को छोड़कर भाग गए थे और कहा कि अनुष्का ने उनसे बातचीत तक बंद कर दी थी। 

  • undefined

    CricketNov 6, 2019, 7:37 PM IST

    विराट अनुष्का को नहीं पहचान पाया भूटान का यह परिवार, इस तरीके से की आवभगत

    ट्रैकिंग करते समय विराट और अनुष्का एक घर में भी रुके थे, जहां घर के लोग इन दोनों भारतीय सितारों को पहचान नहीं पाए, पर बिना पहचाने ही इस परिवार ने विराट और अनुष्का का जमकर स्वागत किया। 

  • undefined

    CricketNov 5, 2019, 6:11 PM IST

    चाय को लेकर फिर निशाने पर आई अनुष्का, ट्विटर पर मजे ले रहे लोग

     फोटो में अनुष्का बछड़े को कुछ खिलाती हुई दिख रही थी। फोटो में पीछे का नजारा काफी खूबसूरत था, जिसमें आसमान और पहाड़ दिखाई दे रहे थे। 

  • undefined

    CricketNov 5, 2019, 3:13 PM IST

    विराट कोहली के शरीर पर बने हैं कई टैटू, बड़े-बड़े प्रशंसकों को भी नहीं मालूम होगा '175' का मतलब

    नई दिल्ली. टीम इंडिया के कप्तान और आक्रामक क्रिकेटर विराट कोहली का आज जन्मदिन है। 5 नवंबर को 1988 जन्में कोहली को टैटू किंग भी कहा जाता है। उनके पूरे शरीर पर कई तरह के टैटू बने हुए हैं जिनका मतलब अलग-अलग है। इसमें से कुछ उनकी जिंदगी की कहानी कहते हैं। कोहली कमाल के बल्लेबाज हैं साथ ही हैंडसम हंक भी हैं। कोहली फिटनेस और सिक्स पैक एब्स पर करोड़ों लड़कियां फिदा रहती हैं। कोहली का कमाल पर मैदान में ही नहीं है वह दिलों पर भी राज करते हैं। अपने लुक्स, ड्रेसिंग स्टाइल और अपने फ़ैशन सेन्स की वजह से भी यूथ आइकन हैं। उनकी बॉडी पर बने टैटूज को देख हर कोई हैरान रह जाता है। कोहली के इन्ही टैटू के बारे में हम आपको बताने वाले हैं...........