Fighting Corona  

(Search results - 11)
  • undefined

    NationalJun 28, 2021, 7:00 AM IST

    21 साल के लड़के की मौत ने डरा दिया था, लेकिन मैंने विश्वास बनाए रखा कि ठीक होना ही है

    कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने हर किसी को अंदर से डराकर रख दिया था। हर दूसरे-तीसरे घर से कोई न कोई पॉजिटिव निकल रहा था। लेकिन जिनकी इच्छा शक्ति प्रबल थी, वे इस महामारी से उबर गए।
     

  • undefined
    Video Icon

    NationalJun 8, 2021, 5:36 PM IST

    कोरोनाकाल में आध्यात्मिक गुरु रमेश भाई ओझा की ये बातें बढ़ा देंगी हौसला, वायरस से जंग जीत जाएंगे हम

    भाई श्री रमेश भाई ओझा जी ने बताया कि हम सकारात्मक रहेंगे तो किसी भी मुश्किल से जीत सकते हैं। मैदान में हम जीतने के लिए जाते हैं हारने के लिए नहीं। भगवान पर भरोसा करना होगा और अच्छे विचार सोचना होंगे। बीमारी हो भी जाए तो भी सकारात्मक रहना होगा क्यों आपकी सकारात्मकता से आधी बीमारी ठीक हो जाती है।

  • undefined

    NationalMay 31, 2021, 7:10 AM IST

    चुनाव में ड्यूटी के बाद पॉजिटिव हुई, मां मुझसे संक्रमित हो गईं; हर पल उनकी ही चिंता सता रही थी

    भारत कोरोना की दूसरी लहर का सामना कर रहा है। देश में अब भी हर रोज 3500 से ज्यादा लोग अपनी जान गंवा रहे हैं। हालांकि, एक्टिव केस लगातार कम हो रहे हैं। इसके अलावा रिकवरी रेट भी 90% के ऊपर पहुंच गया है। यानी हर 100 लोगों पर 90 आसानी से ठीक हो रहे हैं। ऐसे में समाज में कोरोना को लेकर फैले डर को दूर करने के लिए Asianet Hindi लगातार ऐसे लोगों से बात कर उनकी कहानी अपने पाठकों के सामने ला रहा है, जिन्होंने कोरोना को मात दी और समाज के लिए मिसाल पेश की।

  • undefined

    NationalMay 27, 2021, 6:00 AM IST

    86 साल के ससुर, पति एवं मैं खुद पॉजिटिव थी, डर भी लगा, हिम्मत भी टूटी...लेकिन आत्मविश्वास से जीती जंग

    अकसर लोग कोरोना होने पर डर जाते हैं, जबकि इस संक्रमण का आधा खतरा तो अंदर की ताकत से दूर हो जाता है। यह सही है कि कोरोना की दूसरी लहर ने लोगों के दिलो-दिमाग पर बुरा असर डाला, लेकिन जिन्होंने खुद का टूटने नहीं दिया, वे जल्दी इस बीमारी को हराकर निकल आए। 

  • undefined

    NationalMay 24, 2021, 6:05 AM IST

    धीरे-धीरे कमजोरी बढ़ रही थी, खड़ा होना, चलना-फिरना मुश्किल होता जा रहा था, एक बार तो उम्मीद टूटने लगी थी

    Asianetnews Hindi के लिए अमिताभ बुधौलिया ने भोपाल में रहने वालीं कामिनी श्रीवास्तव से बात की। कोरोना से जीतने वालों की कहानियों की इस कड़ी में पढ़िए कि कैसे कामिनी और उनके परिवार ने मौत का डर निकाल कर हौसलों से कोरोना को मात दी। कब उनको पता चला कि वे और उनकी फैमिली पॉजिटिव हैं। मन में कैसे-कैसे बुरे ख्याल आए और फिर कैसे जीती कोरोना से जंग...

  • undefined

    NationalMay 21, 2021, 8:31 AM IST

    कोरोना पर बोले मोदी-अब हमारा नया मंत्र है-जहां बीमार वहीं उपचार, घर-घर जाकर दवाइयां बांटना एक अच्छी पहल

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये अपने संसदीय क्षेत्र बनारस के पंडित राजन मिश्र कोविड अस्पताल की समीक्षा की। यह अस्पताल डीआरडीओ व भारतीय सेना के सहयोग से बनाया गया है। इस दौरान मोदी कोरोना योद्धाओं से उनके अनुभव और कार्य के दौरान आ रहीं कठिनाइयों के बारे में भी जाना। प्रधानमंत्री ने कोरोना प्रबंधन को लेकर सीएम योगी और प्रशासनिक अफसरों की तारीफ की है।
     

  • <p><strong>हटके डेस्क।</strong> कोरोना वायरस से जहां एक तरफ पूरी दुनिया तबाह है, वहीं डॉक्टरों और नर्सों ने कोरोना के मरीजों का इलाज करने में दिन-रात लग कर यह दिखा दिया है कि डॉक्टर वाकई भगवान का दूसरा रूप होते हैं। दुनिया भर में अब तक इसके 33 लाख मामले सामने आ चुके हैं, वहीं 2.34 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। ब्रिटेन में भी कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है। यहां 1 लाख, 77 हजार, 454 लोग संक्रमित पाए गए हैं, वहीं अब तक 27 हजार 510 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकिन ब्रिटेन में नेशनल हेल्थ सर्विस (NHS) के डॉक्टरों और नर्सों ने कोरोना के मरीजों के इलाज में दिन-रात एक कर दिया है। वे लगातार 12-12 घंटे तक आईसीयू में कोरोना पीड़ितों के इलाज में लगे हैं। फोटोग्राफर क्रिस्टोफर बॉबेन ने स्कॉटलैंड के हेयरमायर्स हॉस्पिटल के आईसीयू की कुछ तस्वीरें ली हैं, जहां कोरोना के गंभीर मरीजों का इलाज हो रहा है। नेशनल हेल्थ सर्विस ने उन्हें तस्वीरें लेने की परमिशन दी। ये तस्वीरें दिखाती हैं कि डॉक्टर किन स्थितियों में काम कर रहे हैं। पीपीई सूट पहने हुए डॉक्टर्स और हेल्थकेयर वर्कर्स लगातार मरीजों के बीच में रहते हुए संक्रमण के खतरे से भी जूझते रहते हैं। हेयरमायर्स हॉस्पिटल में डॉक्टर ऑस्टिन रैटरे आईसीयू में 30 नर्सिंग स्टाफ, क्लिनिकल सपोर्ट स्टाफ, 3 कन्सल्टेंट और 2 जूनियर डॉक्टरों के साथ रात भर मरीजों के इलाज में लगे रहते हैं। देखें तस्वीरें।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

    HatkeMay 2, 2020, 3:00 PM IST

    ICU के अंदर खींची गई ये तस्वीरें, कुछ इस तरह कोरोना मरीजों का इलाज करते हैं डॉक्टर्स

    हटके डेस्क। कोरोना वायरस से जहां एक तरफ पूरी दुनिया तबाह है, वहीं डॉक्टरों और नर्सों ने कोरोना के मरीजों का इलाज करने में दिन-रात लग कर यह दिखा दिया है कि डॉक्टर वाकई भगवान का दूसरा रूप होते हैं। दुनिया भर में अब तक इसके 33 लाख मामले सामने आ चुके हैं, वहीं 2.34 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। ब्रिटेन में भी कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है। यहां 1 लाख, 77 हजार, 454 लोग संक्रमित पाए गए हैं, वहीं अब तक 27 हजार 510 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकिन ब्रिटेन में नेशनल हेल्थ सर्विस (NHS) के डॉक्टरों और नर्सों ने कोरोना के मरीजों के इलाज में दिन-रात एक कर दिया है। वे लगातार 12-12 घंटे तक आईसीयू में कोरोना पीड़ितों के इलाज में लगे हैं। फोटोग्राफर क्रिस्टोफर बॉबेन ने स्कॉटलैंड के हेयरमायर्स हॉस्पिटल के आईसीयू की कुछ तस्वीरें ली हैं, जहां कोरोना के गंभीर मरीजों का इलाज हो रहा है। नेशनल हेल्थ सर्विस ने उन्हें तस्वीरें लेने की परमिशन दी। ये तस्वीरें दिखाती हैं कि डॉक्टर किन स्थितियों में काम कर रहे हैं। पीपीई सूट पहने हुए डॉक्टर्स और हेल्थकेयर वर्कर्स लगातार मरीजों के बीच में रहते हुए संक्रमण के खतरे से भी जूझते रहते हैं। हेयरमायर्स हॉस्पिटल में डॉक्टर ऑस्टिन रैटरे आईसीयू में 30 नर्सिंग स्टाफ, क्लिनिकल सपोर्ट स्टाफ, 3 कन्सल्टेंट और 2 जूनियर डॉक्टरों के साथ रात भर मरीजों के इलाज में लगे रहते हैं। देखें तस्वीरें। 

  • undefined

    PunjabApr 23, 2020, 5:11 PM IST

    कोरोना की जंग हारी मासूम: आई थी दिल के छेद का इलाज कराने, हो गई पॉजिटिव..26 घंटे बाद तोड़ा दम

    कोरोना वायरस लाखों लोगों को अपनी चपेट में लेने के साथ अब छोटे-छोटे बच्चों को भी नहीं छोड़ रहा है। चंडीगढ़ में ऐसा ही एक दिल को झोकझोर देने वाला मामला सामने आया है। जहां महामारी के चलते 6 महीने की बच्ची ने पॉजिटिव आने के 26 घंटे बाद दम तोड़ दिया।

  • undefined

    TechMar 31, 2020, 11:18 PM IST

    शेयर चैट कोरोना के प्रति लोगों को करेगी जागरूक, फाइटिंग कोरोना नाम से चलाएगी अभियान

    स्वदेशी सोशल मीडिया मंच ‘शेयर चैट’ अपने मंच पर ‘फाइटिंग कोराना’ हैशटैग के माध्यम से कोरोना वायरस के प्रति जागरुकता अभियान चलाएगी।

  • undefined

    Uttar PradeshMar 31, 2020, 10:00 AM IST

    बेस्ट पैरा स्पोर्ट्सपर्सन हैं IAS सुहास एलवाई, CM योगी ने सौंपी है कोरोना से नोएडा में लड़ने की जिम्मेदारी

    लखनऊ (Uttar Pradesh) । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) में आईएएस अधिकारी सुहास एलवाई (सुहास लालिनाकेरे यथिराज) को नया जिलाधिकारी नियुक्त किया है। जिनकी प्रोफाइल काफी दमदार हैं। वो स्टेट के बेस्ट पैरा स्पोर्ट्सपर्सन के अलावा यश भारती पुरस्कार से भी सम्मानित हो चुके हैं। नोएडा को कोरोना से बचाने के लिए तैनात किए गए सुहास एलवाई इससे पहले लखनऊ में यूपी के नियोजन विभाग में स्पेशल सेक्रेटरी पद पर तैनात थे। बता दें कि साल 2017 में सुहास एलवाई को यूपी सरकार के एक्साइज विभाग में स्पेशल सेक्रेटरी के पद पर भी तैनात किया गया था। वो प्रयागराज, आजमगढ़, जौनपुर, सोनभद्र, जौनपुर, हाथरस, महाराजगंज, मथुरा, आगरा डीएम रह चुके हैं।