Muslim Family  

(Search results - 11)
  • undefined

    WorldJun 8, 2021, 11:40 AM IST

    कनाडा में ट्रक ने पैदल जा रही मुस्लिम फैमिली को कुचला, 4 की मौत, जानबूझकर निशाना बनाने की आशंका

    कनाडा में एक ट्रक ने पैदल जा रही एक मुस्लिम फैमिली को कुचल दिया। इस हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई। घटना के बाद आरोपी ड्राइवर को एक मॉल के पार्किंग एरिया से पकड़ लिया गया। इस मामले में लंदन पुलिस के बयान ने विवाद खड़ा कर दिया है। उसका मानना है कि जानबूझकर इस फैमिली को निशाना बनाया गया।

  • undefined
    Video Icon

    NationalJan 25, 2021, 7:26 PM IST

    यहां हर मुस्लिम घर में है एक फौजी, राष्ट्रभक्ति की अनोखी मिसाल बना ये गांव


    वीडियो डेस्क।  देशसेवा से बड़ा दूसरा कोई काम नहीं हो सकता। राजस्थान के झुंझुनूं जिले के बारे में आपने खूब पढ़ा-सुना होगा। यहां के हर गांव का बच्चा फौज में जाने की तैयारी में होता है। यहां के ज्यादातर घरों से कोई न कोई भारतीय सेना में अपनी सेवाएं दे रहा है। आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले में भी ऐसा ही एक गांव है। इस गांव का नाम है मल्लारेडी। यह गांव मुस्लिम बाहुल्य है। यहां के हर घर से कोई न कोई फौजी है। मल्लारेडी गांव के बुजुर्ग बताते हैं कि सेकंड वर्ल्ड वार से लेकर चीन और पाकिस्तान से हुए युद्ध तक इस गांव के युवाओं ने फौज में सेवाएं दीं। आज भी इस गांव के कई युवा फौज में हैं या जाने की तैयारी करते देखे जा सकते हैं। देखिए  कैसे राष्ट्रभक्ति की अनोखी मिसाल बना ये गांव 

  • undefined

    Madhya PradeshNov 12, 2020, 3:45 PM IST

    14 साल पहले धनतेरस के दिन हुआ था जुड़वा बेटों का जन्म, तब से इस मुस्लिम फैमिली में मनाई जा रही दीपावली

    हिंदू-मुस्लिम को लेकर भले लोग खींचतान में लगे रहें, लेकिन इसी देश में ऐसे लोग भी हैं, जिनके लिए इंसानियत सबसे बड़ा धर्म है। भोपाल की एक मुस्लिम फैमिली के लिए जितना महत्व ईद रखती है, उतना ही दीपावली। यह परिवार हर साल दीपावली धूमधाम से मनाता है। पटाखे फोड़ता है और मिठाइयां बंटवाता है। वजह, इस परिवार में 14 साल पहले धनतेरस के दिन जुड़वा बच्चों ने जन्म लिया था।
     

  • undefined

    HatkeAug 23, 2020, 11:47 AM IST

    मुस्लिम लड़की को हुआ दूसरे धर्म के लड़के से प्यार, खाला-चचा ने मिलकर दे दी खौफनाक सजा

    हटके डेस्क: प्यार में पड़े  शख्स को जाति-धर्म नजर नहीं आता। खासकर युवा उम्र में हुए प्यार में सिर्फ सामने से प्यार भरी बातें ही अट्रैक्ट कर लेती है। लेकिन जब बड़ों की नजर से इस प्यार को देखा जाता है तो इसमें कई तरह की बंदिशें शामिल हो जाती है। इसमें धर्म सबसे बड़ा होता है। अगर आपको ऐसा लगता है कि सिर्फ भारत में ही प्रेम संबंध पर धर्म की तलवार लटकती है, तो आप गलत हैं। हाल ही में ऐसा एक मामला फ्रांस से सामने आया, जहां एक 17 साल की लड़की को उसके घर वालों ने दूसरे धर्म के लड़के से प्रेम संबंध रखने के कारण ऐसी सजा दी, जो एक लड़की के लिए बहुत ज्यादा बड़ी है। लड़की की गलती इतनी थी कि उसने मुस्लिम होकर दूसरे धर्म के लड़के से प्यार कर लिया था। दोनों पर बंदिशें लगाई गई लेकिन तब भी उनका प्यार खत्म नहीं हुआ। इसके बाद लड़की को मिली कुछ ऐसी सजा... (तस्वीरें गूगल से)

  • undefined

    PunjabJun 3, 2020, 1:37 PM IST

    दिल को छू लेने वाली शादी: हिंदू दुल्हन के मुस्लिम बाबुल को देख हर आंख नम, लोगों ने कहा-यही असली भारत

    लुधियाना (पंजाब). कोरोना के चलते जहां रिश्तों में दूरी ला दी है, लोग चाहकर भी अपनों से नहीं मिल पा रहे हैं। वहीं इस मुसीबत वक्त में एक मुस्लिम परिवार ने इंसानियत की ऐसी मिसाल पेश की जिसकी हर कोई तारीफ कर रहा है। पंजाब के एक मुस्लिम शख्स ने भाईचारे का संदेश देते हुए हिंदू लड़की की शादी कर कन्यादान कर बाबुल का फर्ज निभाया।
     

  • undefined
    Video Icon

    NationalFeb 28, 2020, 1:31 PM IST

    हिंदू युवक ने आग में कूदकर बचाई मुस्लिम परिवार की जान, अब जिंदगी और मौत से जूझ रहे

    वीडियो डेस्क। दिल्ली में हुई हिंसा के बीच एक ऐसा मामला सामने आया, जिसने इंसानियत की मिसाल पेश कर दी। शिव बिहार में हिंसा के दौरान अचानक माहौल बिगड़ गया। 

  • undefined

    NationalFeb 27, 2020, 4:29 PM IST

    एक मिसाल ऐसी भी: मुस्लिम पड़ोसी को बचाने में झुलसा हिंदू युवक, नहीं आया एम्बुलेंस तो रातभर तड़पता रहा

    23 फरवरी से धधक रही दिल्ली अब शांत हो चुकी है। हर और हिंसा का जो मंजर दिख रहा है, वो झकझोरने वाला है। धार्मिक समुदायों के बीच हुई झड़प के बीच एक ऐसी खबर आई जिसने इंसानियत की मिसाल पेश की।  

  • undefined

    HatkeFeb 21, 2020, 12:13 PM IST

    इस शिव मंदिर का पुजारी है मुस्लिम

    हटके डेस्क: आज महाशिवरात्रि है। पूरा देश भगवान भोलेनाथ की आराधना कर रहा है। वैसे तो ये पर्व हिंदू मनाते हैं, लेकिन आपको बता दें कि असम की राजधानी दिसपुर से थोड़ी दूर एक गांव में रहने वाला एक मुस्लिम परिवार पिछले 500 साल से विशाल बरगद के पेड़ के नीचे बने भगवान शिव के मंदिर की देखभाल कर रहा है। धार्मिक सद्भावना की मिसाल बने इस गांव की चर्चा पूरे देश में है।  

  • undefined

    Uttar PradeshFeb 14, 2020, 12:53 PM IST

    अर्चना की जगह इशरत का कर दिया अंतिम संस्कार, सच पता चलते ही पुलिस ने किया राख पर कब्जा

    मां के निधन की खबर मिलने पर अमेरिका में रह रहे अलीगंज निवासी शाहिद मिर्जा लखनऊ के लिए रवाना हो गए। 12 फरवरी को मुस्लिम परिवार इशरत का शव लेने जब सहारा अस्पताल पहुंचा तो उन्हें अर्चना का शव दिया गया। शाहिद मिर्जा ने मां का शव न होने पर लेने से इनकार कर दिया।

  • undefined

    NationalOct 20, 2019, 5:42 PM IST

    गजब परिवार: दादी पढ़ती हैं कुरान की आयतें, पोती करती है गीता पाठ, एक छत के नीचे हिंदू-मुसलमान

    इस गांव में राजन नाम से एक शख्स रहते हैं जो पेशे से मैकेनिक हैं और हिन्दू धर्म के अनुयायी हैं। उनके भतीजे का नाम असरार है। हिन्दू चाचा का मुस्लिम भतीजा? यह सुनकर कोई भी चौंक जाता है लेकिन इसकी सच्चाई जानकार लोगों के चेहरे पर मुस्कान तैर जाती है।

  • undefined

    Uttar PradeshAug 23, 2019, 5:20 PM IST

    जन्माष्टमी के अगले दिन 'नन्दोत्सव' मनाता है यह मुस्लिम परिवार, ऑफिस में लगा रखी है कृष्ण की मूर्ति

    मथुरा में जन्माष्टमी के दूसरे दिन एक मुस्लिम परिवार नन्दोत्सव मनाता है। उनकी सात पीढ़ियां यहां बधाई गीत गाती हैं। उनके कार्यालय में भगवान कृष्ण की मूर्ति रखी है। वो मूर्ति के सामने अगरबत्ती भी लगाते हैं।