Pachaur Bazar  

(Search results - 1)
  • undefined

    Bihar12, Aug 2020, 1:58 PM

    वर्षों की मेहनत से बनाया मकान, चंद सेकेंड में बाढ़ की भेंट चढ़ गए सपने; डूब गया सबकुछ

    पेशे से राजमिस्त्री बिंदेश्वरी ने कई वर्षों तक मेहनत कर पक्का मकान बनाया था। वह अपने घर का दूसरा फ्लोर बना रहे थे तभी बाढ़ आ गई। मकान मही नदी के पास था। इस साल नदी की धारा बदली और मकान को अपनी चपेट में ले लिया। पानी की तेज धारा के चलते मकान के नींव के नीचे की मिट्टी कट गई थी। खतरे को देखते हुए घर में रह रहे सभी लोग दूसरी जगह शिफ्ट हो गए थे।