Shaheen Bagh  

(Search results - 192)
  • <p>Kisan tractor</p>
    Video Icon

    NationalJan 27, 2021, 1:55 PM IST

    'किसान आंदोलन नहीं बनेगा दूसरा शाहीन बाग'... सुनिए किसान नेताओं के भड़काने वाले बयान

    वीडियो डेस्क। दिल्ली में ट्रैक्टर रैली के नाम पर मचे तांडव के बाद कई नेताओं के वीडियो सामने आए हैं। जिसमें वे किसानों को शांतिपूर्ण पूर्ण नहीं बल्कि उग्र होने की नसीहत देते दिखाई दे रहे हैं। राकेश टिकैत के बाद किसान नेता युधवीर सिंह का वीडियो सामने आया है जिसमें वे सरकार को खुली  चुनौती दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि हर किसान एक्शन के लिए तैयार बैठा है। सरकार अगर इस आंदोलन को शाहीन बाग समझ रही है तो गलत है। 

  • undefined

    NationalDec 30, 2020, 7:49 PM IST

    BJP ने शाहीन बाग में फायरिंग करने वाले कपिल गुर्जर की सदस्यता रद्द की, आज ही पार्टी में हुआ था शामिल

    शाहीन बाग में फायरिंग करने वाले कपिल गुर्जर को सदस्यता दिलाने के कुछ घंटों बाद ही भाजपा ने यू टर्न ले लिया। भाजपा ने कपिल गुर्जर की सदस्यता रद्द कर दी। नागरिकता कानून के खिलाफ शाहीन बाग में 105 दिन तक प्रदर्शन हुआ था। इस दौरान महिलाएं और बच्चे भी शामिल हुए थे। तभी कपिल गुर्जर ने वहां फायरिंग की थी। 

  • undefined
    Video Icon

    BollywoodDec 19, 2020, 5:25 PM IST

    कंगना रनौत ने बताई किसानों के विरोध के पीछे की सच्चाई, प्रियंका चौपड़ा का भी लिया नाम, VIDEO

    वीडियो डेस्क। दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसानों का आंदोलन शनिवार को 24वें दिन जारी है।  किसान केंद्र सरकार द्वारा लागू तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं।  इस बीच एक बार फिर बॉलीवुड एक्ट्रेस  कंगना रनौत ने दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा की ओर निशाना साधने हुए किसान आंदोलन को लेकर अपनी बात रखी है।वीडियो में कंगना ने लोगों से सवाल किया है कि उन्हें अपनी देशभक्ति को हर वक्त क्यों जताना पड़ता है।  मैंने सभी को बताया है कि मैं किसान आंदोलन पर सच बोलूंगी जैसे कि शाहीन बाग आंदोलन के समय कहा था। इसके लिए मुझे लगातार भावनात्मक और मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया है। इसके अलावा मुझे दुष्कर्म की धमकियां दी गई हैं। इस देश में क्या सवाल पूछना मेरा अधिकार नहीं है?  यह साबित हो गया है कि यह पूरा आंदोलन राजनीति से प्रेरित है और इसमें आतंकवादी भी भाग ले रहे हैं।
     

  • undefined

    Fake CheckerNov 30, 2020, 6:58 PM IST

    Fact Check: शाहीन बाग धरने वाली दादी अब बनी किसान समर्थक? बिलकिस बानो के नाम वायरल फोटो का सच

    फैक्ट चेक डेस्क. दिल्ली में किसानों विरोध प्रदर्शन से जोड़कर सोशल मीडिया पर तस्वीरें जमकर वायरल हो रही हैं। इन्हीं के बीच प्रदर्शन को लेकर फर्जी खबरों का जमावड़ा भी लग गया है। इसी क्रम में एक पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसमें 2 बुज़ुर्ग महिलाओं की तस्वीर को देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि दोनों तस्वीर में दिख रही बुज़ुर्ग शाहीन बाग प्रदर्शन से मशहूर हुईं बिलकिस बानो दादी हैं, जो अब किसान समर्थक बन गई हैं। फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

  • undefined

    NationalOct 7, 2020, 11:32 AM IST

    शाहीन बाग प्रदर्शन पर SC ने कहा, विरोध के अधिकार की सीमा, सार्वजनिक स्थान पर कब्जा नहीं किया जा सकता

    दिल्ली में सीएए के विरोध में शाहीन बाग में हुए प्रदर्शन पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई है। कोर्ट ने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर अनिश्चित काल तक कब्जा नहीं किया जा सकता है। चाहे वह शाहीन बाग में हो या कहीं और। संविधान में विरोध का अधिकार है तो आवागमन का भी अधिकार है।  
     

  • <p><strong>नई दिल्ली।</strong> जामिया मिलिया इस्लामिया की लॉ की स्टूडेंट सफ़ूरा ज़रगर को गैरकानूनी गतिविधि रोकने के कानून के तहत 10 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया। सफ़ूरा ज़रगर पर गैर जमानती धाराओं में मामला दर्ज किया गया। ज़रगर को तिहाड़ जेल में रखा गया है। जेल में जब उनकी कोरोना जांच की गई तो वे प्रेग्नेंट पाई गईं। इसके बाद उन पर व्यक्तिगत हमले बढ़ गए। सोशल मीडिया पर उन्हें अविवाहित बता कर उनके चरित्र पर लांछन लगाया जाने लगा। सफ़ूरा ज़रगर नागरिकता संशोधन विधेयक &nbsp;CAA के विरोध में चले आंदोलन में काफी सक्रिय रही थीं। उन्होंने शाहीन बाग में चले लंबे धरने और विरोध प्रदर्शनों में जम कर हिस्सा लिया था और उसका नेतृत्व किया था। उनके प्रेग्नेंट होने के बाद ट्विटर पर विवाहित बता कर उन पर कीचड़ उछाला जा रहा है। उनके खिलाफ इस तरह की पोस्ट की बाढ़ आ गई है। क्या ज़रगर अविवाहित हैं? जानें क्या है इसके पीछे की सच्चाई।<br />
&nbsp;</p>

    Fake CheckerMay 6, 2020, 10:10 AM IST

    जेल में बंद है शाहीन बाग में प्रदर्शन करने वाली ये लड़की, प्रेग्नेंसी पर लोगों ने किए भद्दे कमेंट, जानें सच

    नई दिल्ली। जामिया मिलिया इस्लामिया की लॉ की स्टूडेंट सफ़ूरा ज़रगर को गैरकानूनी गतिविधि रोकने के कानून के तहत 10 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया। सफ़ूरा ज़रगर पर गैर जमानती धाराओं में मामला दर्ज किया गया। ज़रगर को तिहाड़ जेल में रखा गया है। जेल में जब उनकी कोरोना जांच की गई तो वे प्रेग्नेंट पाई गईं। इसके बाद उन पर व्यक्तिगत हमले बढ़ गए। सोशल मीडिया पर उन्हें अविवाहित बता कर उनके चरित्र पर लांछन लगाया जाने लगा। सफ़ूरा ज़रगर नागरिकता संशोधन विधेयक CAA के विरोध में चले आंदोलन में काफी सक्रिय रही थीं। उन्होंने शाहीन बाग में चले लंबे धरने और विरोध प्रदर्शनों में जम कर हिस्सा लिया था और उसका नेतृत्व किया था। उनके प्रेग्नेंट होने के बाद ट्विटर पर विवाहित बता कर उन पर कीचड़ उछाला जा रहा है। उनके खिलाफ इस तरह की पोस्ट की बाढ़ आ गई है। क्या ज़रगर अविवाहित हैं? जानें क्या है इसके पीछे की सच्चाई।

  • undefined

    Madhya PradeshMar 24, 2020, 4:33 PM IST

    कोरोना का खौफ : इंदौर में CAA विरोधी प्रदर्शन 31 मार्च तक के लिए स्थगित, प्रशासन के कहने पर समेटे गए तम्बू

     संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ पिछले 70 दिन से यहां बड़वाली चौकी क्षेत्र में जारी धरना-प्रदर्शन मंगलवार को 31 मार्च तक के लिये स्थगित कर दिया गया। इस इलाके को सोशल मीडिया पर "इंदौर का शाहीन बाग" बताया जाता रहा है।

  • undefined
    Video Icon

    NationalMar 24, 2020, 11:38 AM IST

    शाहीन बाग में सीएए विरोधी प्रदर्शन पूरी तरह खत्म, पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाया

    वैश्विक महामारी कोरोनावायरस देश के 23 राज्यों में फैल चुका है। कोरोनावायरस से निपटने के लिए दिल्ली में लॉकडाउन लगा दिया गया है। दिल्ली सरकार ने राज्य में पांच से ज्यादा लोगों की भीड़ जमा न करने की अपील की है। इस बीच नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ शाहीन बाग में 15 दिसंबर से जारी प्रदर्शन को खत्म कर दिया है। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को मंगलवार को वहां से हटाया और कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। इससे पहले सोमवार को दिल्ली के शाहीन बाग में पंडाल खाली मिले और यहां इक्का-दुक्का लोग ही नजर आए थे। 
     

  • undefined

    NationalMar 24, 2020, 8:35 AM IST

    कोरोना इफेक्ट: शाहीन बाग में पुलिस ने उखाड़े टेंट, कई गिरफ्तार, खत्म हुआ 100 दिन से चल रहा प्रदर्शन

    नई दिल्ली. संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में पिछले 100 दिनों से जारी धरना प्रदर्शन को पुलिस ने आज मंगलवार को हटा दिया। दिल्ली और नोएडा को जोड़ने वाली इस सड़क पर लगे टेंट को भी हटा दिया गया। कोरोना वायरस के खतरे के बावजूद महिलाएं धरना दे रही थीं। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को मंगलवार को हटाया और कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। इससे पहले सोमवार को दिल्ली के शाहीन बाग में पंडाल खाली मिले और यहां इक्का-दुक्का लोग ही नजर आए थे।साउथ ईस्ट के डीसीपी आरपी मीणा ने मंगलवार को कहा कि यहां लॉकडाउन के बावजूद लोग सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस ने पहले प्रदर्शनकारियों से हटने के लिए कहा।इसके बाद भी जब वे नहीं माने तो पुलिस ने कार्रवाई की।

  • undefined

    BollywoodMar 23, 2020, 9:20 PM IST

    कोरोना वायरस के चलते जावेद अख्तर को सता रहा डर, शाहीन बाग के लोगों से कर डाली ये अपील

    मुंबई। कोरोना वायरस जैसी महामारी के डर से गीतकार और लेखक जावेद अख्तर ने शाहीनबाग में चल रहे धरना-प्रदर्शन को खत्म करने की अपील की है। जावेद अख्तर ने सोमवार को एक ट्वीट करते हुए लिखा- "शाहीनबाग या देश की किसी अन्य जगहों पर धरना दे रहीं महिलाओं से मेरी अपील है कि जागो। दूसरी बातों से ऊपर उठकर, कोरोना के खिलाफ देश की लड़ाई के बारे में सोचो। प्रदर्शन को फिलहाल आगे बढ़ा दो। कोरोना को हराने के बाद अनुचित कानूनों को हराने के लिए वापस अपने मोर्चे पर डट जाएं।" 

  • undefined

    Uttar PradeshMar 23, 2020, 10:52 AM IST

    66 दिन बाद अस्थायी रूप से धरना खत्म, महिलाएं छोड़ गईं दुपट्टा और मंच,शाहीन बाग की तर्ज पर चल रहा था प्रदर्शन

    प्रदर्शन स्थगित करने को लेकर वहां बैठी महिलाओं ने कहा कि अगर हम में से किसी को कोरोना जैसी बीमारी हो जाती, तो हमारा धरना हमेशा के लिए बदनाम हो जाता। हमें हमेशा इस बदनामी के साथ जीना पड़ता। इसलिए हमने देशहित के लिए यह निर्णय लिया है कि जबतक लॉकडाउन है तबतक धरना स्थगित रहेगा, लेकिन समाप्त नहीं। 

  • undefined

    NationalMar 22, 2020, 2:16 PM IST

    जनता कर्फ्यू को शाहीन बाग का समर्थन, प्रदर्शनकारियों ने जगह पर रखीं चप्पलें, रात 9 बजे फिर शुरू होगा

    शाहीनबाग में नागरिकता कानून और एनआरसी के धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों ने जनता कर्फ्यू को समर्थन दिया है। कोरोना वायरस के चलते यहां सिर्फ 5 महिलाएं प्रदर्शन पर बैठी हैं। कुछ महिलाओं ने अपनी जगहों पर सांकेतिक तौर पर चप्पलें रखी हैं।

  • undefined

    BollywoodMar 22, 2020, 10:00 AM IST

    कोरोना वायरस के चलते एक्ट्रेस ने शाहीन बाग की महिलाओं से की अपील, बोली, सड़कें खाली कर दें

    कोरोना वायरस के चलते इन दिनों लोग घर में कैद हैं। रविवार को सरकार ने देश के लोगों से घर में ही रहने की अपील की है। इस दिन वायरस पर कंट्रोल पाने के लिए मोदी सरकार ने जनता कर्फ्यू का ऐलान किया है। पिछले साल 2019 नवंबर से सीएए और एनआरसी को लेकर शाहीन बाग में महिलाएं विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

  • undefined

    Uttar PradeshMar 19, 2020, 6:13 PM IST

    इन्हें कोरोना का भी खौफ नहीं, शाहीन बाग की तर्ज पर दे रहीं धरना, हटाने गई पुलिस से भिड़ी,3 महिलाएं बेहोश


    कोरोना वायरस के महामारी की श्रेणी में आने के बाद योगी सरकार गंभीर हो गई है। कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने की डर से सीएम ने सभी प्रकार धरना प्रदर्शनों पर प्रतिबंध लगा रखा है। बावजूद इसके घंटाघर के पास प्रदर्शन चल रहा है। जिसे हटाने के लिए आज पुलिस बल गई थी।

  • undefined

    NationalMar 17, 2020, 7:45 PM IST

    शाहीन बाग में महिलाओं ने नहीं माना केजरीवाल का आदेश, कोरोना से बचने के लिए निकाला ये रास्ता

    शाहीन बाग में नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। इसी बीच मंगलवार को पुलिस और प्रशासन ने शाहीनबाग पहुंचकर प्रदर्शनकारियों से कोरोनावायरस के चलते प्रदर्शन खत्म करने को कहा।